1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. कोलकाता नाइट राइडर्स की विजयी टीम का हिस्सा रहे रजत भाटिया ने किया संन्यास का ऐलान

कोलकाता नाइट राइडर्स की विजयी टीम का हिस्सा रहे रजत भाटिया ने किया संन्यास का ऐलान

रजत भाटिया 2008 में विजेता रही दिल्ली की रणजी टीम का हिस्सा थे। फाइनल मुकाबले में उन्होंने उत्तर प्रदेश के खिलाफ 139 रन की नाबाद पारी खेली थी।

India TV Sports Desk India TV Sports Desk
Updated on: July 29, 2020 14:37 IST
Rajat Bhatia, who was part of Kolkata Knight Riders' winning team, announced his retirement- India TV Hindi
Image Source : TWITTER/@KKRIDERS Rajat Bhatia, who was part of Kolkata Knight Riders' winning team, announced his retirement

दिल्ली के दिग्गज रणजी क्रिकेटर और आईपीएल खिताब जीतने वाले रजत भाटिया ने बुधवार को तत्काल प्रभाव से पेशेवर क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है। तमिलनाडु के साथ 2003-04 में अपना करियर शुरू करने वाले 40 साल के आल राउंडर ने ज्यादातर क्रिकेट दिल्ली की ओर से ही खेला। 2018-19 में उन्होंने नयी टीम उत्तराखंड को रणजी ट्राफी क्वार्टरफाइनल में पहुंचाया। वह 2014 में भारत के लिये खेलने के करीब पहुंच गये थे लेकिन उनका कहना है कि इस लंबे करियर में उन्हें इसका कोई पछतावा नहीं है। दिल्ली क्रिकेट टीम के संकटमोचक माने जाने वाले भाटिया ने 112 प्रथम श्रेणी मैच खेले और 49.10 के औसत से 6482 रन जुटाये। इसके साथ ही उन्होंने 137 विकेट भी हासिल किये। वह 119 लिस्ट ए और 146 टी20 मैच भी खेले।

रजत भाटिया 2008 में विजेता रही दिल्ली की रणजी टीम का हिस्सा थे। फाइनल मुकाबले में उन्होंने उत्तर प्रदेश के खिलाफ 139 रन की नाबाद पारी खेली थी। 

उन्होंने पीटीआई-भाषा से कहा,‘‘मैंने पिछले साल ही संन्यास के बारे में फैसला कर लिया था। मैं यहां घरेलू क्रिकेट नहीं खेल रहा था और फिर कमेंटरी करने लगा। फिर मैं बांग्लादेश में बतौर पेशेवर खेल रहा था लेकिन इस साल उन्होंने पेशेवर खिलाड़ियों को रखना बंद कर दिया और फिर कोरोना वायरस फैल गया। इसलिये मैंने सोचा कि अब संन्यास लेने का समय आ गया है।’’ 

उन्होंने कहा,‘‘वैसे मैं पहले से ज्यादा फिट महसूस कर रहा हूं और विदेशी लीग में खेल सकता हूं।’’ 

वह 2014 में भारत की ओर से खेलने के करीब पहुंच गये थे जब उन्हें टी20 विश्व कप के संभावित खिलाड़ियों में शामिल किया गया था। लेकिन उन्हें कोई पछतावा नहीं है कि वह भारतीय टीम की जर्सी नहीं पहन सके। 

उन्होंने कहा, ‘‘मैं अपने करियर को उस तरह से सोचना नहीं चाहता। यह सोचना बहुत अपरिपक्व होगा। मैं काफी कुछ कर पाया और इसकी मुझे खुशी है। कोई पछतावा नहीं है। ’’

बात उनके आईपीएल करियर की करें तो उन्होंने इस बहुचर्चित टूर्नामेंट में 95 मैच खेले है जिसमें उन्होंने कुल 71 विकेट लिए हैं। भाटिया आईपीएल 2012 में कोलकाता की टीम का हिस्सा था और वह उस साल आईपीएल का खिताब जीतने में सफल रहे थे।

ये भी पढ़ें - सुरेश रैना ने इसे बताया भारतीय टीम का अगला MS Dhoni, कहा 'दोनों बहुत समान हैं'

आईपीएल में भाटिया ने डेब्यू दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम से किया था। तीन साल दिल्ली से खेलने के बाद 2011 में केकेआर ने उन्हें नीलामी में खरीदकर अपनी टीम में शामिल कर लिया था। कोलकाता के बाद भाटिया को 2014 में राजस्थान रॉयल्स ने 1.7 करोड़ की मोटी बोली लगाकर अपनी टीम में शामिल किया था। इसके बाद भाटिया 2016 में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट की टीम में शामिल हो गए थे। 

2017 में रजत भाटिया ने दिल्ली के खिलाफ अपना आखिरी आईपीएल मैच खेला था। उन्हें आईपीएल में उनकी स्लोअर वन गेंदबाजी के लिए जाना जाता था।

(With PTI Inputs)

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड

X