1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. अमेरिकी नेवी के कंप्यूटर को हैक करके चीनी हैकरों ने चुरा लिया सीक्रेट डेटा

अमेरिकी नेवी के कंप्यूटर को हैक करके चीनी हैकरों ने चुरा लिया सीक्रेट डेटा

चीन के हैकरों ने अमेरिकी नेवी के कंप्यूटर को हैक करके बेहद गोपनीय जानकारी हासिल कर ली है। इनमें सुपरसोनिक जहाज रोधी मिसाइल को विकसित करने की गोपनीय जानकारी भी शामिल है...

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: June 09, 2018 17:10 IST
Chinese hackers stole undersea warfare data from US Navy | AP Representational- India TV
Chinese hackers stole undersea warfare data from US Navy | AP Representational

वॉशिंगटन: चीन के हैकरों ने अमेरिकी नेवी के कंप्यूटर को हैक करके बेहद गोपनीय जानकारी हासिल कर ली है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, चीनी सरकार के हैकरों ने अमेरिकी नौसेना के एक ठेकेदार के कंप्यूटर से समुद्री युद्ध संबंधी गोपनीय जानकारी हासिल कर ली। इनमें सुपरसोनिक जहाज रोधी मिसाइल को विकसित करने की गोपनीय जानकारी भी शामिल है। अमेरिकी अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि नेवी खुफिया एजेंसी फेडरल ब्यूरो ऑफ इंवेस्टिगेशन (FBI) के सहयोग से जनवरी और फरवरी में हुई इस हैकिंग की जांच कर रही है।

वॉशिंगटन पोस्ट की एक खबर के मुताबिक, हैकरों ने नौसेना समुद्री युद्ध केंद्र में कार्यरत एक ठेकेदार को निशाना बनाया। पनडुब्बियों और समुद्री हथियारों के विकास और अनुसंधान करने वाले इस सैन्य संस्थान का मुख्यालय रोड द्वीप के न्यूपोर्ट नगर में स्थित है। अधिकारियों ने ठेकेदार की पहचान गोपनीय रखी है। हैकरों ने लगभग पूरी हो चुकी सी ड्रैगन नामक परियोजना के साथ-साथ सिग्नल और सेंसर डाटा, क्रिप्टोग्राफिक तंत्र से संबंधित समुद्री रेडियो कक्ष की जानकारी और नौसेना समुद्री विकास इकाइयों के इलेक्ट्रॉनिक वारफेयर लाइब्रेरी से संबंधित 614 गीगाबाइट जानकारी हासिल की है।

पेंटागन के पुलिस महानिदेशक कार्यालय ने शुक्रवार को कहा कि रक्षा सचिव जिम मैटिस ने ठेकेदार के साइबर सुरक्षा संबंधित मुद्दों की समीक्षा करने का निर्देश दिया था। यह खबर ऐसे समय में आई है, जब अमेरिका और चीन के बीच जारी व्यापारिक और रक्षा मुद्दों पर चल रहे तनाव के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरिया को परमाणु हथियारों को खत्म करने के लिए राजी करने में बीजिंग का सहयोग सुनिश्चित करने के लिए कहा है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment