1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. व्हाइट हाउस छोड़ने से पहले ट्रंप का ईरान पर ढेर सारे प्रतिबंध लगाने की योजना: रिपोर्ट

व्हाइट हाउस छोड़ने से पहले ट्रंप का ईरान पर ढेर सारे प्रतिबंध लगाने की योजना: रिपोर्ट

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का प्रशासन हाल ही में इस्लामिक रिपब्लिक के तेल और वित्तीय क्षेत्रों को लक्षित करने के बाद 20 जनवरी 2021 तक ईरान पर ढेर सारे प्रतिबंध लगाने की योजना बना रहा है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: November 09, 2020 18:42 IST
Trump administration plans 'flood' of sanctions on Iran by Jan 20: Report- India TV Hindi
Image Source : FILE कई दिनों तक चली मतगणना के बाद बाइडेन राष्ट्रपति निर्वाचित हुए। ट्रंप ने हालांकि अभी हार स्वीकार नहीं की है।

वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का प्रशासन हाल ही में इस्लामिक रिपब्लिक के तेल और वित्तीय क्षेत्रों को लक्षित करने के बाद 20 जनवरी 2021 तक ईरान पर ढेर सारे प्रतिबंध लगाने की योजना बना रहा है। इजरायल के सूत्रों ने रविवार को वर्जीनिया स्थित एक्सिओस मीडिया आउटलेट को बताया कि इजरायल और कई खाड़ी राज्यों के साथ समन्वय में ट्रंप प्रशासन नए प्रतिबंध लगाने पर जोर दे रहा है।

सूत्रों के मुताबिक, ईरान के अमेरिकी दूत इलियट अब्राम्स रविवार को इजरायल पहुंचे और उन्होंने प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मीर बेन-शब्बत से मुलाकात कर इस पर चर्चा की। यह भी बताया गया है कि सोमवार को एब्राम्स रक्षा मंत्री बेनी गैंट्ज और विदेश मंत्री गैबी अश्केनाजी से भी मिलेंगे।

इजरायल के साथ प्रतिबंधों की योजना पर चर्चा करने के बाद दूत संयुक्त अरब अमीरात और सऊदी अरब में बातचीत करेंगे। अब्राम्स ने बंद दरवाजों के पीछे हुई ब्रीफिंग में कहा था कि ट्रंप प्रशासन जो बाइडेन के नए राष्ट्रपति के तौर पर शपथ लेने से पहले 20 जनवरी तक हर हफ्ते ईरान पर प्रतिबंधों का एक नए सेट घोषित करना चाहता है। इसी बीच सचिव माइक पोम्पिओ 18 नवंबर को इजराइल आने वाले हैं।

8 अक्टूबर को अमेरिका ने ईरान के 18 प्रमुख बैंकों पर प्रतिबंध लगाए, फिर कुछ दिनों बाद 22 अक्टूबर को 3 नवंबर के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव को 'प्रभावित करने' का प्रयास करने की बात कह कर 5 ईरानी संस्थाओं पर प्रतिबंध लगाए गए। 27 अक्टूबर को तेहरान के इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स-क्यूड्स फोर्स को 'वित्तीय सहायता' देने के लिए ईरानी तेल क्षेत्र के खिलाफ नए प्रतिबंध लगाए।

बता दें कि कई दिनों तक चली मतगणना के बाद डेमोक्रेट बाइडेन राष्ट्रपति निर्वाचित हुए। ट्रंप ने हालांकि अभी हार स्वीकार नहीं की है और कई जिलों में मतगणना को चुनौती दे रहे हैं। इस बीच खबर है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के दामाद तथा उनके वरिष्ठ सलाहकार जेरेड कुशनर ने चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के नेता जो बाइडेन से करीबी मुकाबले में मिली हार को स्वीकार करने के सिलसिले में ट्रंप से बातचीत की है।

रविवार को मीडिया में आईं खबरों में यह बात कही गई है। ट्रंप ने इससे पहले एक बयान में कहा था कि बाइेडन जल्दबाजी में गलत तरीके से खुद को विजेता बता रहे हैं और चुनावी दौड़ अभी खत्म नहीं हुई है। ट्रंप के उस बयान के बाद कुशनर ने उनसे मुलाकात की है।

ट्रंप के दामाद जेरेड कुशनर और पत्नी मेलानिया चाहते हैं कि ट्रंप अपनी हार को स्वीकार करें। कुशनर ट्रंप को मनाने के लिए व्हाइट हाउस भी गए थे, लेकिन उन्हें निराशा हाथ लगी. डोनाल्ड ट्रंप इस मामले में कुछ भी सुनने को तैयार नहीं हैं। कहा तो यह भी जा रहा है कि बेटी इवांका ट्रंप भी अपने पिता के अड़ियल रुख से खफा हैं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment