Delhi MCD Election Results 2022: दिल्ली दंगों के बाद मुस्लिम वोटरों ने AAP से बनाई दूरी? इतने प्रत्याशियों की जमानत हुई जब्त

Delhi MCD Election Results 2022: दिल्ली नगर निगम चुनाव के नतीजे आ चुके हैं। आप ने पूर्ण बहुमत से जीत दर्ज की है। हालांकि, आम आदमी पार्टी ना तो ओखला विधानसभा में अच्छा प्रदर्शन कर पाई है और ना ही दिल्ली दंगे व ताहिर हुसैन वाले क्षेत्र में ही अच्छा प्रदर्शन कर पाई है।

Malaika Imam Edited By: Malaika Imam @MalaikaImam1
Published on: December 07, 2022 19:50 IST
दिल्ली नगर निगम चुनाव के नतीजे- India TV Hindi
Image Source : PTI दिल्ली नगर निगम चुनाव के नतीजे

Delhi MCD Election Results 2022: दिल्ली नगर निगम (MCD) चुनाव में आम आदमी पार्टी पूर्ण बहुमत से जीती है। आप ने 15 सालों तक एमसीडी की मालिक रही बीजेपी को सत्ता से बेदखल कर दिया है। एमसीडी चुनाव में आम आदमी पार्टी को 134 सीटें मिली हैं। वहीं, बीजेपी को 104 और कांग्रेस पार्टी को 9 सीटें मिली हैं। हालांकि, आम आदमी पार्टी ना तो ओखला विधानसभा में अच्छा प्रदर्शन कर पाई है और ना ही दिल्ली दंगे व ताहिर हुसैन वाले क्षेत्र में ही अच्छा प्रदर्शन कर पाई है। इन क्षेत्रों में मुस्लिम वोटर आम आदमी पार्टी से टूटकर कांग्रेस के पाले में चले गए। 

ओखला विधानसभा से आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान हैं। ओखला विधानसभा में पार्षद की 5 सीटें हैं। पांच सीटों में आम आदमी पार्टी को सिर्फ एक ही सीट मिल पाई है। यहां की 2 सीट कांग्रेस को और 2 सीटें बीजेपी को मिली हैं, जबकि ओखला विधानसभा मुस्लिम बहुल क्षेत्र है और आम आदमी पार्टी का एक मुस्लिम बड़ा चेहरा अमानतुल्लाह खान वहां से विधायक हैं। फिर भी अमानतुल्लाह खान का जादू यहां नहीं चल पाया और मुस्लिम वोट टूटकर कांग्रेस में जा मिला। 

इन क्षेत्रों में आप की लहर का नहीं दिखा असर

दूसरी ओर यमुनापार के मुस्लिम वोटरों पर भी आम आदमी पार्टी की लहर का कोई असर नहीं पड़ पाया। यमुनपार के सीलमपुर, कर्दमपुरी, चौहान बांगर, गौतमपुरी, मुस्तफाबाद आदि वार्डों पर भी आम आदमी पार्टी अपनी जीत नहीं दर्ज करा पाई। पुरानी दिल्ली को छोड़कर पूरी दिल्ली में मुस्लिम मतदाता कांग्रेस की तरफ जाते नजर आए। इन इलाकों में कांग्रेस ने अपने पुराने वोट बैंक मुस्लिम वोटरों को फिर से हासिल कर लिया। सिर्फ पुरानी दिल्ली के जामा मस्जिद और बल्लीमारान में मुसलमानों ने आम आदमी पार्टी को वोट दिया है। 

इसके अलावा सीएएन (CAA), एनआरसी (NRC) के आंदोलन वाले क्षेत्र हो या दिल्ली दंगों के आरोपी ताहिर हुसैन का इलाका हो या अमानतुल्लाह खान की विधानसभा क्षेत्र का इलाका हो, इन जगहों पर कहीं पर भी आम आदमी पार्टी मुसलमानों का वोट हासिल नहीं कर पाई है। इस बार नगर निगम चुनाव में कांग्रेस के अंदर सर्वाधिक मुस्लिम प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की है। ऐसे में कहा जा सकता है कि नगर निगम चुनाव में किसी तरह मुस्लिम वोटरों ने कांग्रेस की लाज बचा ली है।

इन 23 वार्डों में आप को कहां-कहां मिली जीत?

दिल्ली के मुस्लिम बाहुल्य 6 विधानसभाओं के 23 वार्डों में से आम आदमी पार्टी को महज 9 वार्ड पर जीत मिली है। बल्लीमारान के 3 वार्डों में से 2 पर आम आदमी पार्टी और एक पर बीजेपी जीत दर्ज की है। मुस्तफाबाद विधानसभा के सभी 5 वार्ड पर आम आदमी पार्टी को हार का सामना करना पड़ा। सीलमपुर विधानसभा के सभी 4 वार्ड में आम आदमी पार्टी हार गई। ओखला विधानसभा के 5 वार्ड में से 4 वार्ड पर हार मिली और सिर्फ 1 पर जीत मिली। मटिया महल विधानसभा की सभी 3 वार्ड आप ने जीते। वहीं, चांदनी चौक विधानसभा के भी सभी 3 वार्डों पर आप ने जीत दर्ज की है।

बीजेपी के 10 उम्मीदवारों की जमानत जब्त

वहीं, दिल्ली नगर निगम के चुनाव में कुछ 784 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हुई है। इनमें कांग्रेस के 188, बीजेपी के 10 और आम आदमी पार्टी के 3 उम्मीदवार समेत 784 प्रत्याशी हैं। आवैसी की पार्टी AIMIM के 13, BSP के 128, JDU के 22 और NCP के 25 उम्मीदवारों की भी जमानत जब्त हुई है। 

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News News in Hindi के लिए क्लिक करें इलेक्‍शन सेक्‍शन