1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. मनोरंजन
  4. बॉलीवुड
  5. मशहूर डायरेक्टर, प्रड्यूसर टी. रामा राव का हुआ निधन, 70 फिल्मों का किया था निर्देशन

मशहूर डायरेक्टर, प्रड्यूसर टी. रामा राव का हुआ निधन, 70 फिल्मों का किया था निर्देशन

रामा राव को भारतीय फिल्म उद्योग में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए कई पुरस्कार भी मिले हैं।

India TV Entertainment Desk Edited by: India TV Entertainment Desk
Published on: April 20, 2022 13:08 IST
T Rama Rao- India TV Hindi
Image Source : TWITTER @SAGHARSALMAN1 T Rama Rao

1980 के दशक में अभिनेता जीतेंद्र की ब्लॉकबस्टर फिल्मों का पर्याय बन चुके अनुभवी निर्देशक-निमार्ता टी. रामा राव का बुधवार तड़के चेन्नई में निधन हो गया। वह 83 वर्ष के थे। रामा राव ने तमिल में ब्लॉकबस्टर के अलावा तेलुगु और हिंदी में 70 फिल्मों का निर्देशन किया था।

चेन्नई के टी. नगर में रहने वाले रामा राव की उम्र से संबंधित बीमारी के कारण लगभग 12.30 बजे मृत्यु हो गई। उनका अंतिम संस्कार बुधवार को शाम 4 बजे कन्नम्मापेट श्मशान घाट में किया जाएगा। उनके परिवार में पत्नी तातिनेनी जयश्री और बच्चे चामुंडेश्वरी, नागा सुशीला और अजय हैं।

गहना वशिष्ठ ने एकता कपूर पर लगाए गंभीर आरोप, कहा- कॉन्ट्रैक्ट के बाद भी नहीं दी शो में एंट्री, मन में सुसाइड का आता है विचार

1969 में 'नवरात्रि' के साथ अपनी निर्देशन यात्रा की शुरुआत करते हुए, रामा राव ने कई शीर्ष तेलुगु सितारों के साथ काम किया, जिनमें एनटीआर, एएनआर, शोबन बाबू, कृष्णा, बालकृष्ण, श्रीदेवी, जयाप्रदा और जयसुधा शामिल हैं।

रामा राव ने 'नवरात्रि', 'जीवन तरंगु', 'ब्रह्मचारी', 'आलुमगलु', 'यमगोला', 'प्रेसिडेंटी गरी अब्बाय', 'इल्लालू', 'पंडनी जीवथम' और 'पचानी कपूरम' जैसी तेलुगु फिल्मों का निर्देशन किया।

बॉलीवुड में भी काम करने वाले दक्षिणी निर्देशकों में से एक, रामा राव ने 1979 में हिंदी फिल्म उद्योग में प्रवेश किया और अमिताभ बच्चन, जीतेंद्र, धर्मेंद्र, संजय दत्त, अनिल कपूर, गोविंदा और मिथुन चक्रवर्ती जैसे प्रमुख अभिनेताओं के साथ टीम बनाई।

प्रियंका चोपड़ा की हॉलीवुड फिल्म ‘इटंस ऑल कमिंग बैक टू मी’ इस दिन होगी रिलीज, सैम ह्यूगन के साथ आएंगी नजर

उन्हें 'अंधा कानून' से सुपरस्टार रजनीकांत को हिंदी सिनेमा में पेश करने का श्रेय दिया जाता है। उन्होंने हिंदी में 'जुदाई', 'जीवन धारा', 'एक ही भूल', 'अंधा कानून', 'इंकलाब', 'इंसाफ की पुकार', 'वतन के रखवाले', 'दोस्ती दुश्मनी', 'नाचे मयूरी', 'जॉन जानी जनार्दन', 'रावण राज', 'मुकाबला', 'हथकड़ी' और 'जंग' जैसी कई सुपरहिट फिल्में भी बनाईं।

रामा राव ने 'मद्रास मूवी' चलन शुरू किया जिसमें दक्षिणी प्रोडक्शन हाउस द्वारा निर्मित हिंदी फिल्में पारंपरिक हिंदी फिल्म बाजारों में सफल व्यावसायिक प्रस्तावों के रूप में उभरीं।

कई फिल्म हस्तियों ने दिग्गज निर्देशक के निधन पर शोक व्यक्त किया। अनुपम खेर ने ट्वीट किया, "अनुभवी फिल्म निर्माता और एक प्रिय मित्र श्री टी रामा राव जी के निधन के बारे में जानकर गहरा दुख हुआ। मुझे उनके साथ आखिरी रास्ता और संसार में काम करने का सौभाग्य मिला था। वह दयालु थे। उनके परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं! ओम शांति!"

रामा राव को भारतीय फिल्म उद्योग में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए कई पुरस्कार भी मिले हैं।

उन्होंने श्री लक्ष्मी प्रोडक्शंस के बैनर तले तमिल फिल्में भी बनाईं और विक्रम, विजय, जयम रवि और विशाल जैसे प्रमुख तमिल अभिनेताओं के साथ फिल्मों का निर्माण किया। उन्हें सुपरहिट तमिल फिल्में 'ढिल', 'युवा', 'अरुल', 'समथिंग समथिंग उनाकुम एनाकुम' और 'मलाइकोटाई' के लिए भी जाना जाता है।