Saturday, July 13, 2024
Advertisement

NEET पेपर लीक कांड में बड़ी कार्रवाई, देवघर से चिंटू सहित 6 को पुलिस ने हिरासत में लिया

NEET पेपर लीक मामले में बिहार पुलिस ने झारखंड के देवघर से 6 लोगों को हिरासत में लिया है। पुलिस इन सभी को लेकर बिहार रवाना हो गई है। वहीं सभी लोगों को पूछताछ की जा रही है।

Reported By : Nitish Chandra Edited By : Amar Deep Updated on: June 22, 2024 18:35 IST
बिहार पुलिस ने देवघर से हिरासत में लिया।- India TV Hindi
Image Source : REPRESENTATIVE IMAGE बिहार पुलिस ने देवघर से हिरासत में लिया।

देवघर: हाल ही में नीट की परीक्षा के बाद पेपर लीक होने का मामला सामने आया था। वहीं अब पेपर लीक के तार बिहार और झारखंड से भी जुड़ते नजर आ रहे हैं। इसे लेकर बिहार पुलिस की कई टीमें लगातार कार्रवाई में जुटी हुई है। इसी क्रम में बिहार पुलिस की टीम झारखंड के देवघर में पहुंची। यहां पर बिहार पुलिस ने मेडिकल प्रवेश परीक्षा ‘नीट’ में कथित अनियमितताओं के मामले में झारखंड के देवघर जिले से 6 लोगों को हिरासत में लिया है। शनिवार को एक अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी।

देवघर से हिरासत में लिया गया

मामले की जानकारी देते हुए अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार की रात देवीपुरा पुलिस थाना क्षेत्र के तहत अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS), देवघर के पास एक घर से 6 लोगों को हिरासत में लिया गया। अनुमंडल पुलिस अधिकारी (देवघर सदर) ऋत्विक श्रीवास्तव ने जानकारी देते हुए बताया, ‘‘बिहार पुलिस ने हमें सूचना दी थी। हमारी पहचान के आधार पर संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है। सभी संदिग्धों को बिहार ले जाया गया है।’’ उन्होंने बताया कि संदिग्ध कथित तौर पर झुनू सिंह नाम के व्यक्ति के घर पर रह रहे थे। 

पुलिस को मिली बड़ी सफलता।

Image Source : INDIA TV
पुलिस को मिली बड़ी सफलता।

जांच में चिंटू का नाम आया था सामने

बता दें कि देवघर पुलिस द्वारा जारी बयान के अनुसार, संदिग्धों की पहचान परमजीत सिंह उर्फ बिट्टू, बलदेव कुमार उर्फ चिंटू, प्रशांत कुमार उर्फ काजू, अजीत कुमार, राजीव कुमार उर्फ कारू और पंकू कुमार के रूप में हुई है। ये सभी बिहार के नालंदा जिले के निवासी हैं। दरअसल, राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (NTA) ने पांच मई को नीट-यूजी की परीक्षा आयोजित की थी, जिसमें करीब 24 लाख अभ्यर्थियों ने हिस्सा लिया था। इसके परिणाम 4 जून को घोषित किए गए, लेकिन उसके बाद बिहार जैसे राज्यों में प्रश्नपत्र लीक होने के अलावा अन्य अनियमितताओं के आरोप भी लगे।

यह भी पढ़ें-

रेलवे कर्मचारियों ने लगा दी जान की बाजी, जब पुल पर खराब हो गई ट्रेन; Video देख फटी रह जाएंगी आंखें

पेपर लीक पर लगाम लगाने के लिए उच्च स्तरीय कमेटी का हुआ गठन, दो महीने में सौंपनी होगी रिपोर्ट

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement