Friday, May 24, 2024
Advertisement

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद देश की सियासत में भूचाल, जानें किसने दिया क्या रिएक्शन

अरविंद केजरीवाल की शराब घोटाले में गिरफ्तारी के बाद भाजपा समेत विपक्ष के नेताओं के भी रिएक्शन आने शुरू हो गए हैं। भाजपा जहां केजरीवाल को भ्रष्टाचारी और कमीशनखोर बता रही है तो वहीं आप और विपक्ष इसे भाजपा की दमनकारी नीति करार दे रहे हैं।

Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Updated on: March 21, 2024 22:48 IST
अरविंद केजरीवाली, दिल्ली के मुख्यमंत्री- India TV Hindi
Image Source : PTI अरविंद केजरीवाली, दिल्ली के मुख्यमंत्री

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद देश की सियासत में भूचाल आ गया है। पक्ष और विपक्ष के नेताओं का इस पर तगड़ा रिएक्शन आना शुरू हो गया है। सबसे पहले आप नेता आतिशी ने केजरीवाल की गिरफ्तारी पर कहा, "हमें खबर मिली है कि ईडी ने अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार कर लिया है... हमने हमेशा कहा है कि अरविंद केजरीवाल जेल से सरकार चलाएंगे। वह दिल्ली के सीएम बने रहेंगे। हमने सुप्रीम कोर्ट में मामला दायर किया है। हमारे वकील SC पहुंच रहे हैं। हम आज रात सुप्रीम कोर्ट से तत्काल सुनवाई की मांग करेंगे।" वहीं भाजपा ने केजरीवाल की गिरफ्तारी पर बड़ा हमला बोला है। 

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने कहा, "अरविंद केजरीवाल ने शराब नीति में घोटाला किया है। दिल्ली की जनता को लूटा है। दिल्ली को लूटने का काम किया है। इसलिए अगर आपने जनता को धोखा दिया है, चोरी की है, भ्रष्टाचार किया है, तो उसका फल आपको ही मिलेगा।" भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने कहा कि सत्यमेव जयते, दिल्ली की जनता को आखिरकार एक भ्रष्टाचारी और कमीशनखोर सीएम से छुटकारा मिलने वाला है। 6 साल पहले मैंने कहा था कि अरविंद केजरीवाल की जो भ्रष्टाचार और कमीशनखोरी की राजनीति है, उसका अंत तिहाड़ जेल में होगा। आज ईडी ने केजरीवाल को गिरफ्तार किया है। यह स्वागत योग्य कदम है। केजरीवाल को गिरफ्तारी के बाद तुरंत इस्तीफा दे देना चाहिए। आज का दिन न्याय का दिन है। 

मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि सत्यमेव जयते, आज सच्चाई की जीत हुई। दिल्ली के सबसे भ्रष्ट मुख्यमंत्री आज हाईकोर्ट भी गए थे कि ईडी गिरफ्तार न करे, लेकिन कोर्ट ने कह दिया कि आपको राहत नहीं दे सकते। इसके बाद ईडी ने उन्हें गिरफ्तार किया है। इससे दिल्ली के लोगों के साथ न्याय हुआ है। 

प्रियंका गांधी ने कही ये बात

प्रियंका गाधी ने एक्स पोस्ट पर लिखा कि चुनाव के चलते दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को इस तरह टार्गेट करना एकदम गलत और असंवैधानिक है। राजनीति का स्तर इस तरह से गिराना न प्रधानमंत्री जी को शोभा देता है, न उनकी सरकार को। अपने आलोचकों से चुनावी रणभूमि में उतरकर लड़िये, उनका डटकर मुक़ाबला करिए, उनकी नीतियों और कार्यशैली पर बेशक हमला करिए - यही लोकतंत्र होता है। मगर इस तरह देश की सारी संस्थाओं की ताकत का अपने राजनीतिक मक़सद को पूरा करने के लिए इस्तेमाल करना, दबाव डालकर उन्हें कमज़ोर करना लोकतंत्र के हर उसूल के ख़िलाफ़ है। देश के विपक्ष की सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस के बैंक खाते फ्रीज़ कर दिये गये हैं, तमाम राजनीतिक दलों और उनके नेताओं पर ED, CBI, IT का दिन रात दबाव है, एक मुख्यमंत्री जेल में डलवा दिये गये हैं, अब दूसरे मुख्यमंत्री को भी जेल ले जाने की तैयारी हो रही है। ऐसा शर्मनाक दृश्य भारत के स्वतंत्र इतिहास में पहली बार देखने को मिल रहा है।

राहुल गांधी का रिएक्शन

राहुल गांधी ने केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद एक्स पोस्ट पर लिखा "डरा हुआ तानाशाह, एक मरा हुआ लोकतंत्र बनाना चाहता है। मीडिया समेत सभी संस्थाओं पर कब्ज़ा, पार्टियों को तोड़ना, कंपनियों से हफ्ता वसूली, मुख्य विपक्षी दल का अकाउंट फ्रीज़ करना भी ‘असुरी शक्ति’ के लिए कम था, तो अब चुने हुए मुख्यमंत्रियों की गिरफ्तारी भी आम बात हो गई है। INDIA इसका मुंहतोड़ जवाब देगा।"

अखिलेश यादव ने की ये पोस्ट

अखिलेश यादव ने केजरीवाल की गिरफ्तारी पर एक्स पोस्ट में लिका- "जो ख़ुद हैं शिकस्त के ख़ौफ़ में क़ैद, ‘वो’ क्या करेंगे किसी और को क़ैद...भाजपा जानती है कि वो फिर दुबारा सत्ता में नहीं आनेवाली, इसी डर से वो चुनाव के समय, विपक्ष के नेताओं को किसी भी तरह से जनता से दूर करना चाहती है, गिरफ़्तारी तो बस बहाना है। ये गिरफ़्तारी एक नयी जन-क्रांति को जन्म देगी।" अखिलेश यादव ने अपनी इस पोस्ट में आप पार्टी को टैग भी किया है। हालांकि उन्होंने केजरीवाल का नाम नहीं लिया। 

कांग्रेस के अध्यक्ष खरगे ने दिया ये बयान

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने पोस्ट किया, "रोज़ जीत का झूठा दंभ भरने वाली अहंकारी भाजपा, विपक्ष को हर तरह से चुनाव के पहले ग़ैर क़ानूनी तरीक़े से कमज़ोर करने की कोशिश कर रही है। अगर सच में जीत का भरोसा होता तो विपक्षी पार्टियों के नेताओं को ठीक चुनाव से पहले निशाना नहीं बनाया जाता।   सच यह है की भाजपा आने वाले चुनाव परिणाम से पहले ही डर गई है और बौखलाहट में विपक्ष के लिए हर तरह की मुश्किलें पैदा कर रही है। वक्त है बदलाव का ! अबकी बार …सत्ता के बाहर !!'

 

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement