Wednesday, June 19, 2024
Advertisement

इन राज्यों में भारी बारिश ने बढ़ाई मुसीबत, केरल के कई जिलों के लिए चेतावनी जारी, यात्रा पर भी पाबंदी

केरल के कई हिस्से में हो रही भारी बारिश ने लोगों की परेशानी बढ़ा दी है। पहाड़ी और तटीय इलाकों में रहने वालों से सतर्कता बरतने की अपील की गई है। वहीं, पहाड़ी इलाकों में रात के दौरान यात्रा करने पर प्रतिबंध लगाने का आदेश जारी किया गया है।

Edited By: Malaika Imam @MalaikaImam1
Updated on: May 19, 2024 13:48 IST
प्रतीकात्मक फोटो - India TV Hindi
Image Source : REPRESENTATIVE IMAGE प्रतीकात्मक फोटो

IMD Weather Update: दक्षिण के राज्य केरल और तमिलनाडु के कई हिस्से में भारी बारिश हो रही है। भारी बारिश के कारण लोगों की परेशानी बढ़ गई है। केरल के कई हिस्से में में बारिश होने के कारण अधिकारियों ने रविवार को लोगों खासकर पहाड़ी और तटीय इलाकों में रहने वालों से सतर्कता बरतने का आग्रह किया। मौसम विभाग ने रविवार और सोमवार को लेकर पथानामथिट्टा, कोट्टायम और इडुक्की जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है और चार अन्य जिलों तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, अलाप्पुझा और एर्नाकुलम के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। 

पहाड़ी इलाकों में यात्रा पर रोक

मौसम विभाग ने रविवार दोपहर 1:00 बजे तक केरल के तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, पथानामथिट्टा, अलाप्पुझा, कोट्टायम, इडुक्की, एर्नाकुलम, कन्नूर और कासरगोड जिलों में मेघ गर्जन के साथ एक या दो स्थानों पर मध्यम वर्षा और 40 किमी प्रति घंटा वाली धूलभरी आंधी की भविष्यवाणी की है। इडुक्की जिला कलेक्टर ने रेड और ऑरेंज अलर्ट वापस लेने तक रविवार से जिले के पहाड़ी इलाकों में रात के दौरान यात्रा करने पर प्रतिबंध लगाने का आदेश दिया है। 

खुदाई करने पर प्रतिबंध लगाया गया

एक अधिकारी ने कहा, ''प्रतिबंध को प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए जिला पुलिस अधीक्षक, अनुमंडल मजिस्ट्रेट, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी और तहसीलदारों को सख्त निर्देश जारी किए गए हैं।'' भारी बारिश के पूर्वानुमान को देखते हुए एर्नाकुलम और कोट्टायम जिलों में खुदाई करने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। तिरुवनंतपुरम के दक्षिणी जिले में शनिवार रात भारी बारिश हुई, जिससे शहर और उसके उपनगरों में जल भराव होने से आम जनजीवन प्रभावित हुआ। 

कई जगहों पर जल भराव की स्थिति

‘स्मार्ट सिटी रोड’ का काम पूरा नहीं होने से कई जगहों पर जल भराव की स्थिति हो गई है| कुछ क्षेत्रों में राजधानी शहर और उसके उपनगरों को पार करने वाली नहरें उफान पर हैं। जलभराव से प्रभावित लोगों ने आरोप लगाया कि नहरों और जल निकासी प्रणालियों की मानसून पूर्व सफाई के अभाव के कारण राजधानी शहर और उसके उपनगरों में जलभराव की स्थिति उत्पन्न हुई।

कन्याकुमारी में बांधों की निगरानी

दक्षिण तमिलनाडु के इलाकों में हो रही भारी बारिश के कारण कन्याकुमारी जिले में बांधों पर निगरानी रखी जा रही है। अग्निशमन एवं बचाव विभाग भी किसी भी संभावित बचाव अभियान के लिए तैयार है। कन्याकुमारी जिला अग्निशमन अधिकारी सत्यकुमार ने बताया, "यदि बाढ़ आती है, तो विभाग किसी भी बचाव अभियान के लिए तैयार है।" सत्यकुमार ने लोगों से जल निकायों के पास न जाने की अपील की है। इसके अलावा उन्होंने बिजली गुल होने पर भी सतर्क रहने को कहा है। 

उन्होंने कहा कि लोग बिजली गुल होने की सूचना तत्काल स्थानीय बिजली दफ्तर को दें और अग्निशमन एवं बचाव सेवाओं को भी सूचित करें। कन्याकुमारी जिले के 9 बांधों पर लगातार निगरानी रखी जा रही है। अगर इन बांधों में पानी का प्रवाह ज्यादा हुआ, तो कुछ बांधों के गेट खोल दिए जाएंगे। मौसम विभाग ने लोगों से कहा है कि विभाग की ओर से वर्तमान मौसम की स्थिति के बारे में दिए जा रहे सलाहों का पालन करें। (एजेंसी)

ये भी पढ़ें- 

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement