VVIP Secuirty: VVIP लोगों की सुरक्षा के लिए केंद्र सरकार ने राज्यों को जारी किए निर्देश, पूर्व जापान पीएम शिंजो आबे की हत्या के बाद उठाया गया कदम

VVIP Secuirty: केंद्र सरकार ने VVIP सिक्योरिटी को लेकर राज्यों को नई एडवाइजरी भेजी है। इस एडवाईजरी में राज्यों को सतर्क रहने को कहा गया है। 5 पॉइंट की इस एडवाइजरी में VVIP सुरक्षा को लेकर हाई अलर्ट पर रहने की सलाह दी गई है।

Sudhanshu Gaur Written By: Sudhanshu Gaur
Updated on: July 16, 2022 14:59 IST
VVIP Secuirty- India TV Hindi
Image Source : FILE VVIP Secuirty

Highlights

  • गृह मंत्रालय ने जारी की है एडवाइजरी
  • सुरक्षाकर्मी VVIP के पीछे सभी लोगों पर रखे नजर
  • सुरक्षाकर्मी VVIP के पीछे सभी लोगों पर रखे नजर

VVIP Secuirty: पिछले दिनों जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे की हत्या के बाद VVIP सुरक्षा को लेकर सवाल खड़े होने लगे थे। आबे की कड़ी सुरक्षा होने के बावजूद हत्यारे ने उन्हें गोली मार दी थी। एक बार में गोली मारने में असफल होने के बाद भी वहां मौजूदा सुरक्षाकर्मी उसे नहीं रोक पाए थे और उसने दूसरी गोली चलाकर आबे को घायल कर दिया था। जिसके बाद देश में भी राजनीतिक लोगों की सुरक्षा को लेकर बातें होने लगी थीं। 

केंद्र ने जारी की एडवाइजरी

भारत में भी जापान में पूर्व पीएम शिंजो आबे की सरेआम हत्या से सबक लेते हुए केंद्र सरकार ने VVIP सिक्योरिटी को लेकर राज्यों को नई एडवाइजरी भेजी है। इस एडवाईजरी में राज्यों को सतर्क रहने को कहा गया है। 5 पॉइंट की इस एडवाइजरी में VVIP सुरक्षा को लेकर हाई अलर्ट पर रहने की सलाह दी गई है। इसमें आगे के साथ-साथ पीछे से भी सुरक्षा पर ध्यान देने को कहा गया है। आपको बता दें कि शिंजो आबे को युवक ने पीछे से ही गोली मारी थी। 8 जुलाई को जापान में पूर्व पीएम की हत्या के कुछ ही घंटों के अंदर केंद्र सरकार की तरफ राज्यों को VVIP सिक्योरिटी पर खासा ध्यान रखने की ये एडवाइजरी भेज दी गई थी।

सुरक्षाकर्मी VVIP के पीछे सभी लोगों पर रखे नजर 

सूत्रों के मुताबिक इस एडवाइजरी में पांच बिंदुओं को खासतौर पर चिन्हित किया गया है। इसमें कहा गया है कि VVIP की सुरक्षा पर खास ध्यान दिया जाए। केंद्र ने कहा है कि VVIP जब मंच पर बैठे तो एक सुरक्षाकर्मी को पीछे से सभी लोगों पर नजर रखने के लिए तैनात किया जाना चाहिए। चुनावी रैलियों में तो खासकर ऐसा इंतजाम होना चाहिए। दरअसल, जानकारों का कहना है कि VVIP की सिक्योरिटी में ज्यादातर फोकस उनके आगे की तरफ रहता है, ऐसे में कई बार पिछले हिस्से से सुरक्षा की अनदेखी होने की संभावना रहती है। 

लोगों की आवाजाही पर नजर रखी जाए

इस पत्र में भीड़ को VVIP के नजदीक आने से रोकने के लिए कड़े उपाय किए जाने के लिए भी कहा गया है। VVIP के करीब कौन आ रहा है? इस पर पैनी नजर रखी जाए। VVIP के पास तक जाने वाले रास्ते की गहराई से जांच की जाए और वहां से लोगों की आवाजाही पर नजर रखी जाए। सरकार ने कहा है कि सुरक्षाकर्मियों को यह भी सुनिश्चित करना चाहिए कि VVIP एरिया के बेहद करीब जाने की इजाजत किसी को भी न दी जाए। VVIP के नजदीक रहने वाले लोगों की भी पूरी तरह से जांच की जाए। सुरक्षाकर्मी हर वक्त वहां मौजूद रहें और करीबी लोगों पर भी नजर रखें।

पत्र में कहा गया है कि VVIP के सामान की भी जांच की जाए, खासतौर से तब जब कोई हथियार मिलने की संभावना हो। नए निर्देश में साफ तौर पर कहा गया है कि VVIP की भीतरी परिधि में सुरक्षाकर्मियों को 360 डिग्री से निगरानी करनी चाहिए। वीवीआईपी के दौरे से पहले आकस्मिक अभ्यास करके सुरक्षा व्यवस्था को परखा जाना चाहिए। अगर कुछ होता है तो VVIP को किस तरह सुरक्षित अस्पताल पहुंचाया जाए, इसकी योजना भी पहले से तैयार की जानी चाहिए।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन