1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. महबूबा-अब्दुल्ला को LG की सलाह- संविधान की शपथ लेने वाले भाषा की मर्यादा का रखें ख्याल

महबूबा-अब्दुल्ला को LG की सलाह- संविधान की शपथ लेने वाले भाषा की मर्यादा का रखें ख्याल

नगरोट एनकाउंटर पर मनोज सिन्हा ने कहा कि इंटेलिजेंस इनपुट के हिसाब से हमारे पड़ोसी ने कोई बड़ी रणनीति बनाई थी, कोई साजिश रची थी। हमारे सुरक्षाबलों के बीच तालमेल बहुत अच्छा है।

Devendra Parashar Devendra Parashar @DParashar17
Updated on: November 21, 2020 23:02 IST

नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में गुरुवार को सुरक्षा बलों ने पाकिस्तान समर्थित आतंकियों की बड़ी प्लानिंग को फेल कर दिया। सुरक्षाबलों ने जम्मू शहर के बाहर बन टोल प्लाजा पर चार आतंकियों को ढेर कर दिया। इंडिया टीवी ने आतंकी घटनाओं से लेकर राज्य के राजनीतिक हालातों और विभिन्न पहलुओं पर बात की जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से।

मनोज सिन्हा ने कहा कि इंटेलिजेंस इनपुट के हिसाब से हमारे पड़ोसी ने कोई बड़ी रणनीति बनाई थी, कोई साजिश रची थी। हमारे सुरक्षाबलों के बीच तालमेल बहुत अच्छा है। इंटेलिजेंस एजेंसियां भी अच्छा काम कर रही है। इसका फायदा हमें मिला। जिस मात्रा में हथियार बरामद हुए, वो इस बात का संकेत करता है कि कोई बड़ी घटना ये लोग करना चाहता हैं। खासतौर पर 26/11 नजदीक आने वाला है, लोग सोचते हैं कि उसकी वर्षगांठ पर ये लोग कोई करनामा करना चाहते थे। पिछले एक सवा साल में सुरक्षाबलों का बहुत अप्पर हैंड है। सुरक्षाबलों को आतंकवाद पर नियंत्रण पाने में बहुत सफलता मिली है।

धारा 370 हटने का क्या सुरक्षाबलों को फायदा मिला है, इस सवाल पर मनोज सिन्हा ने कहा कि पिछले सवा साल में स्थिति बेहतर हुई है, कोई राजनीतिक दखल न होने की वजह से स्थिति और बेहतर हुई है। आतंकियों द्वारा लगातार कोशिशें की जा रही हैं लेकिन हमें संतोष है कि सफलता नहीं मिल पा रही है। हमारी फोर्स पूरी तरह से चौकन्नी हैं, सतर्क हैं, हमारी सीमाएं पूरी तरह से सुरक्षित हैं।

मनोज सिन्हा ने कहा कि चुनाव शांतिपूर्ण न हो इसके लिए कुछ लोग कोशिश कर रहे हैं व्यवधान डालने का। जम्मू-कश्मीर में अभी तक टू-टीयर सिस्टम था, मुझे लगा की यहां भी थ्री टीयर सिस्टम हो, हम पूरी तरह से कोशिश करेंगे चुनाव निष्पक्ष हो। चुनाव में सुरक्षा को लेकर उन्होंने कहा कि गृह मंत्रालय की तरफ से हमने अतिरिक्त फोर्स की मांग की है। उन्होंने कहा कि बॉर्डर पर फोर्स की तादाद बढ़ गई है, जिस वजह से घुसपैठ की गुंजाइश कम हो गई है। वो लोग अब अब नॉरकोटिक्स के जरिए टेरर फंडिंग करने की कोशिश कर रहे हैं, ड्रोन से भी नॉरकोटिक्स और हथियार गिराने की कोशिश की गई है, जिसमें से कुछ में हमें सफलता मिली है।

उन्होंने कहा कि इस चुनाव के बाद हम डिस्ट्रिकट डवलपमेंट बोर्ड बनाएंगे, जो लोकतंत्र के महत्वपूर्ण है। उम्मीदवारों की सुरक्षा के सवाल पर मनोज सिन्हा ने कहा कि प्रशासन उम्मीदवारों को सुरक्षा दे रहा है, उन्हें सुबह से शाम तक प्रचार करने की पूरी आजादी। महबूबा के आरोपों पर मनोज सिन्हा ने कहा कि इसमें कोई सच्चाई नहीं है। सबको समान अवसर मिले, इसे हम सुनिश्चित करेंगे। हर उम्मीदवार को बराबर अवसर मिलेगा। फ्री और फेयर पोल की हम गारंटी देते हैं।

महबूबा मुफ्ती के तिरंगा वाले बयान फारूक अब्दुल्ला के चीन वाले बयान के सवाल पर उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने भारत के संविधान की शपथ ली है, उन्हें भाषा की मर्यादा का ख्याल रखना चाहिए। भगवान उन्हें सद्धबुद्धि दे यही प्रार्थना करूंगा। उन्होंने कहा कि किसी भी प्रदेश में कुछ लोगों से प्रदेश नहीं जाना जाता। जम्मू-कश्मीर के आवाम की विकास, शांति में ज्यादा रूचि है।

Land Laws के सवाल पर मनोज सिन्हा ने कहा कि J&K के भूमि कानून काफी पूराने थे औऱ वो खेती आधारित अर्थव्यवस्था को भी बढ़ाने में सफल नहीं थे। हमने जो परिवर्तन किया है, उसमें ये कोशिश की है कि वहां के लोगों के अधिकार सुरक्षित रहें। लगभग 90 फीसदी जमीन खेती वाली है, उसमें किसी बाहरी व्यक्ति को एक इंच भी नहीं मिलने वाली। हम चाहते हैं कि उद्योग वहां लगे, इसलिए इंडस्ट्रियल क्लस्टर बना रहे हैं। हम चाहते हैं अच्छे प्राइवेट अस्पताल बनें, अच्छे शैक्षिक संस्थान यहां भी बनें। हमने बहुत ही progessive land law बनाया है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment