Saturday, June 22, 2024
Advertisement

लोकसभा चुनाव: 121 उम्मीदवारों ने खुद को बताया अशिक्षित, मात्र इतने प्रत्याशियों ने की है 12वीं पास, ADR रिपोर्ट का दावा

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर 5वें चरण का मतदान समाप्त हो चुका है। इस बीच एडीआर की रिपोर्ट में बताया गया है कि लोकसभा चुनाव लड़ रहे 121 उम्मीदवारों ने खुद को अशिक्षित घोषित किया है।हीं 647 उम्मीदवारों ने बताया कि 8वीं कक्षा तक पास हैं।

Edited By: Avinash Rai @RaisahabUp61
Published on: May 24, 2024 7:50 IST
Lok Sabha elections 121 candidates declared themselves uneducated only 1303 candidates have passed 1- India TV Hindi
Image Source : PTI प्रतीकात्मक तस्वीर

लोकसभा चुनाव 2024 का साल चल रहा है। इस बीच चुनाव लड़ रहे 121 उम्मीदवारों ने खुद को निरक्षर यानी अनपढ़ घोषत किया है। साथ ही 359 उम्मीदवारों ने कहा है कि उन्होंने केवल 5वीं कक्षा तक ही पढ़ाई की है। एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स यानी एडीआर ने जो रिपोर्ट साझा की है, उसके आधार पर यह जानकारी सामने आई है। लोकसभा चुनाव चुनाव 2024 में चुनाव लड़ रहे 647 उम्मीदवारों ने बताया कि वे 8वीं कक्षा तक पास हैं। वहीं 1,303 उम्मीदवार ऐसे हैं जो 12वीं पास हैं। साथ ही 1502 उम्मीदवारों ने ग्रेजुएशन तक की पढ़ाई की है। वहीं 198 उम्मीदवार ऐसे हैं जिन्होंने डॉक्टरेट की पढ़ाई की है। एडीआर ने लोकसभा चुनाव लड़ रहे 8,360 उम्मीदवारों में से 8,337 की शैक्षणिक योग्यता का विश्लेषण किया है। 

Related Stories

कितने उम्मीदवार पढ़े-लिखे, कितने अनपढ़

चुनाव के पहले चरण में, 639 उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षणिक योग्यता 5वीं और 12वीं कक्षा के बीच बताई, जबकि 836 उम्मीदवार स्नातक स्तर या उससे अधिक पढे लिखे हैं। इसके अतिरिक्त, 36 उम्मीदवारों ने खुद को सिर्फ साक्षर घोषित किया, 26 ने निरक्षर और चार ने अपनी शैक्षणिक योग्यता का खुलासा नहीं किया। दूसरे चरण के दौरान, 533 उम्मीदवारों ने अपनी शिक्षा का स्तर 5वीं और 12वीं कक्षा के बीच घोषित किया, जबकि 574 उम्मीदवारों ने स्नातक या उच्चतर शिक्षा प्राप्त होने की सूचना दी। वहीं 37 उम्मीदवारों ने खुद को सिर्फ साक्षर, आठ ने निरक्षर और तीन ने अपनी शैक्षणिक योग्यता नहीं बताई। 

किन चरणों में कितने उम्मीदवार अशिक्षित

बता दें कि तीसरे चरण में, 639 उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षणिक योग्यता 5वीं और 12वीं कक्षा के बीच बताई, जबकि 591 उम्मीदवारों ने खुद को स्नातक या उच्चतर शिक्षित बताया। इसके अतिरिक्त, 56 सिर्फ साक्षर हैं और 19 निरक्षर हैं। तीन उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षणिक योग्यता का खुलासा नहीं किया। चौथे चरण के लिए, 644 उम्मीदवारों ने अपनी शिक्षा का स्तर 5वीं और 12वीं कक्षा के बीच घोषित किया, जबकि 944 ने स्नातक या उच्चतर बताया। तीस उम्मीदवारों ने खुद को सिर्फ साक्षर बताया और 26 ने निरक्षर बताया। पांचवें चरण में, 293 उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षणिक योग्यता 5वीं और 12वीं कक्षा के बीच बताई, जबकि 349 ने खुद को स्नातक या उच्च डिग्री वाला बताया। लगभग 20 उम्मीदवार सिर्फ साक्षर हैं और पांच निरक्षर हैं। 

कई उम्मीदवारों ने नहीं दी जानकारी

दो उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षणिक योग्यता का खुलासा नहीं किया। छठे चरण में, 332 उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षणिक योग्यता 5वीं और 12वीं कक्षा के बीच घोषित की, जबकि 487 ने स्नातक या उच्चतर शिक्षा प्राप्त बताया है। 22 डिप्लोमा धारक हैं, 12 उम्मीदवार सिर्फ साक्षर हैं और 13 निरक्षर हैं। सातवें चरण में, 402 उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षणिक योग्यता 5वीं और 12वीं कक्षा के बीच बताई, जबकि 430 ने खुद को स्नातक या उच्चतर शिक्षित बताया। 20 डिप्लोमा धारक हैं, 26 उम्मीदवार साक्षर हैं और 24 निरक्षर हैं। दो उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षणिक योग्यता का खुलासा नहीं किया। चुनाव 19 अप्रैल से एक जून तक सात चरणों में आयोजित किए जा रहे हैं। मतगणना चार जून को होगी। पांच चरण पूरे हो चुके हैं जबकि छठा और सातवां चरण क्रमशः 25 मई और एक जून को निर्धारित है। 

(इनपुट-भाषा)

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement