1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. यूपी के किडनी रैकेट के तार दिल्‍ली तक फैले, बड़े निजी अस्पताल का सीईओ हिरासत में

यूपी के किडनी रैकेट के तार दिल्‍ली तक फैले, बड़े निजी अस्पताल का सीईओ हिरासत में

उत्तर प्रदेश के चर्चित किडनी रैकेट के तार दिल्ली के एक नामी अस्पताल से जुड़ गए हैं। कानपुर पुलिस की विशेष जांच टीम (एसआईटी) ने किडनी रैकेट के सिलसिले में दिल्ली के एक निजी अस्पताल के मुख्य कार्याधिकारी को हिरासत में लिया है ।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: June 08, 2019 14:56 IST
Kidney Racket- India TV Hindi
Kidney Racket

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश के चर्चित किडनी रैकेट के तार दिल्‍ली के एक नामी अस्‍पताल से जुड़ गए हैं। कानपुर पुलिस की विशेष जांच टीम (एसआईटी) ने किडनी रैकेट के सिलसिले में दिल्‍ली के एक निजी अस्पताल के मुख्य कार्याधिकारी को हिरासत में लिया है । 

कानपुर के पुलिस अधीक्षक (अपराध) राजेश यादव ने बताया कि डॉक्टर दीपक शुक्ला को शुक्रवार की रात में दिल्ली से हिरासत में लिया गया। उन्हें कानपुर लाया जा रहा है। शुक्ला दिल्ली के एक निजी अस्पताल में सीईओ हैं। 

कानपुर में 17 फरवरी को अंतरराष्ट्रीय किडनी रैकेट का पर्दाफाश हुआ था। इस रैकेट में शामिल लोग गरीबों की किडनी निकालकर ट्रांसप्लांट के मरीजों को दे देते थे। मरीजों में विदेशी भी शामिल थे। 

पुलिस ने लखीमपुर खीरी के गौरव मिश्रा, कोलकाता के टी. राजकुमार राव, बदरपुर (नयी दिल्ली) के शैलेश सक्सेना, काकोरी—लखनऊ के सबूर अहमद, पनकी—कानपुर के विकी सिंह, चौक—लखनऊ के शमशाद अली तथा श्याम तिवारी एवं रामू पाण्डेय को इस मामले में गिरफ्तार किया है । अब तक की जांच में पता चला है कि किडनी बेचने वाले गरीबों को गौरव जाल में फंसाता था । 

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X