लखीमपुर खीरी जाकर किसानों की पीड़ा सुनें PM मोदी: प्रियंका गांधी वाद्रा

लखीमपुर खीरी हिंसा के पीड़ितों से मिलने जाने के दौरान हिरासत में ली गई कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने मंगलवार को एक वीडियो जारी करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लखीमपुर खीरी जाकर किसानों की पीड़ा सुनने का आग्रह किया।

IndiaTV Hindi Desk Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: October 05, 2021 20:04 IST
लखीमपुर खीरी जाकर...- India TV Hindi
Image Source : PTI/FILE लखीमपुर खीरी जाकर किसानों की पीड़ा सुनें PM मोदी: प्रियंका गांधी वाद्रा

लखनऊ: लखीमपुर खीरी हिंसा के पीड़ितों से मिलने जाने के दौरान हिरासत में ली गई कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने मंगलवार को एक वीडियो जारी करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लखीमपुर खीरी जाकर किसानों की पीड़ा सुनने का आग्रह किया। प्रियंका गांधी ने वीडियो में प्रधानमंत्री के आज लखनऊ में न्यू अर्बन इंडिया कॉन्क्लेव एवं एक्सपो का उद्घाटन करने के लिए आने का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘मैंने सुना है कि आज आजादी का अमृत महोत्सव मनाने के लिए आप लखनऊ आ रहे हैं। मैं आपसे आग्रह करती हूं कि लखीमपुर आइए और जो अन्नदाता हैं उनकी पीड़ा समझिए।’’

उन्होंने वीडियो में प्रधानमंत्री से कहा, ‘‘किसानों की सुरक्षा करना आपका धर्म है। जिस संविधान की आपने शपथ ली, उसका धर्म है और उसके प्रति आपका कर्तव्य है।’’ प्रियंका गांधी ने मोबाइल फोन में एक वीडियो दिखाया, जिसमें एक गाड़ी कथित रूप से किसानों को कुचलती हुई जा रही है। उन्होंने आरोप लगाया, "यह वीडियो आपकी सरकार के एक मंत्री के बेटे को किसानों को अपनी गाड़ी के नीचे को कुचलते हुए दिखाता है। इस वीडियो को देखिए और इस देश को बताइए कि इस मंत्री को बर्खास्त क्यों नहीं किया गया है और इस लड़के को अभी तक गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया है।" 

प्रियंका गांधी वाड्रा ने सवाल किया, "मेरे जैसे विपक्ष के नेताओं को तो आपने हिरासत में बिना किसी आदेश और बगैर किसी मुकदमे के रखा है। मैं जानना चाहती हूं कि यह आदमी आजाद क्यों हैं।" उन्होंने कहा, "आज जब आप (मोदी) आजादी के अमृत महोत्सव की महफिल में मंच पर बैठे होंगे तो आप याद करिएगा कि आजादी हमें किसानों ने ही दिलवाई थी। आज भी सीमाओं पर इस देश की सुरक्षा किसानों के बेटे ही करते हैं। किसान महीनों से त्रस्त है। वह अपनी आवाज उठा रहा है और आप उसको नकार रहे हैं।"

भूपेश बघेल को लखनऊ एयर पोर्ट पर ही रोका

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता भूपेश बघेल लखीमपुर खीरी कांड के पीड़ितों से मिलने के लिए जाते वक्त सीतापुर में हिरासत में ली गई कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा से मुलाकात के लिए लखनऊ हवाई अड्डे पर उतरे थे मगर उन्हें पुलिस ने बाहर नहीं जाने दिया। इसके बाद वह हवाई अड्डा परिसर में ही धरने पर बैठ गए और इस दौरान उन्होंने डिजिटल तरीके से संवाददाता सम्मेलन भी किया। बघेल ने कहा कि लखीमपुर खीरी कांड के सच को सामने आने से सरकार रोक नहीं सकती। 

उन्होंने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा की तरफ इशारा करते हुए कहा "जिन लोगों ने किसानों को धमकाते हुए कहा था कि सुधर जाओ, वरना सुधार दूंगा, उन लोगों को पद से बर्खास्त करना ही होगा।" छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया "भाजपा के नेता सत्ता के मद में इतने चूर हो गए हैं कि वे आम जनता को कीड़े-मकोड़े से ज्यादा नहीं समझते। उनमें अब इतना भी भय नहीं है कि किसानों पर गाड़ी चढ़ाएंगे तो उनकी मौत हो जाएगी और हमारे खिलाफ मुकदमा दर्ज हो जाएगा, गिरफ्तारी हो जाएगी।" 

उन्होंने कहा कि 48 घंटे बीतने के बाद भी गृह राज्य मंत्री के बेटे आशीष की गिरफ्तारी नहीं हुई है। बघेल ने पिछले करीब 36 घंटे से हिरासत में बंद प्रियंका की तुरंत रिहाई की मांग करते हुए कहा कि किसी को अनंत काल तक गिरफ्तार करके नहीं रखा जा सकता। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आज लखनऊ में हुए दौरे के बारे में पूछे गए एक सवाल पर बघेल ने कहा "क्या प्रधानमंत्री आजादी का अमृत महोत्सव इस तरह मना रहे हैं कि हम किसानों से नहीं मिल सकते, अपनी ही पार्टी के लोगों से नहीं मिल सकते। यह कैसा लोकतंत्र है। प्रदेश की योगी सरकार पूरी तरह घबराई हुई है और घटना को दबाने की कोशिश कर रही है।" 

इससे पहले, बघेल अपराह्न करीब पौने दो बजे लखनऊ हवाई अड्डे पर पहुंचे लेकिन पुलिस ने उनसे निवेदन किया कि लखीमपुर खीरी में अभी स्थिति सामान्य नहीं है इसलिए वह छत्तीसगढ़ वापस लौट जाएं। उन्हें हवाई अड्डे से लेने पहुंचे पूर्व सांसद पीएल पुनिया और प्रमोद तिवारी को पुलिस ने हवाई अड्डा परिसर में दाखिल नहीं होने दिया। बघेल का कहना था कि वह लखीमपुर खीरी नहीं जा रहे हैं बल्कि वह प्रदेश कांग्रेस कार्यालय जाएंगे, जहां उनकी प्रेस कॉन्फ्रेंस है।

Latest Uttar Pradesh News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन