1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. गोरखनाथ मंदिर पर हमला: जन्नत में बहुत सारी हूरें मिलेंगीं- ATS से पूछताछ में बोला आरोपी मुर्तजा

गोरखनाथ मंदिर पर हमला: जन्नत में बहुत सारी हूरें मिलेंगीं- ATS से पूछताछ में बोला आरोपी मुर्तजा

जब मुर्तजा से शादी और फिर तलाक के बारे में सवाल किया गया तो उसने कहा- अल्लाह के घर में यानी कि जन्नत में बहुत सारी हूरें मिलेंगीं। वहां बीवी का क्या काम?

IndiaTV Hindi Desk Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: April 10, 2022 18:00 IST
आरोपी मुर्तजा गिरफ्तार- India TV Hindi
Image Source : PTI आरोपी मुर्तजा गिरफ्तार

गोरखनाथ मंदिर के एंट्री गेट पर दो पीएसी कॉन्स्टेबल पर हुए हमले का मामला गरमाता जा रहा है। उत्तर प्रदेश के आतंकवाद-निरोधक दस्ते (एटीएस) का एक दल गिरफ्तार मुर्तजा अब्बासी के बारे में और जानकारियां जुटाने के लिए नवी मुंबई पहुंचा था। 

एक हिंदी अखबार के मुताबिक, जब मुर्तजा से शादी और फिर तलाक के बारे में सवाल किया गया तो उसने कहा- अल्लाह के घर में यानी कि जन्नत में बहुत सारी हूरें मिलेंगीं। वहां बीवी का क्या काम? अल्लाह के घर जाना है तो सबको छोड़ना होगा। 

मल्टीनेशनल कंपनी की नौकरी छोड़ गोरखपुर आना, फिर परिवार और समाज में किसी से मतलब नहीं रखना और कमरे में अकेले रहने के सवालों पर मुर्तजा तपाक से बोला कि अल्लाह के घर में सिर्फ अल्लाह की सुनिए...अल्लाह से मतलब रखिए और अल्लाह के ही बताए रास्तों पर चलिए, फिर जन्नत मिलेगी।

पुलिसकर्मी पर किया था आरोपी ने हमला-

मुर्तजा अब्बासी ने प्रसिद्ध गोरखनाथ मंदिर के द्वार पर धारदार हथियार से दो पुलिस कांस्टेबल पर हमला किया था और अंदर घुसने की कोशिश की थी। उसे बाद में पकड़ लिया गया था। गोरखपुर में यह मंदिर कड़ी सुरक्षा के अधीन है, क्योंकि यहां उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अक्सर आते-जाते रहते हैं और वह उसके महंत हैं। 

अधिकारी ने पुलिस के हवाले से बताया कि मुर्तजा अब्बासी को गिरफ्तार करने के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस ने गोरखपुर में उसके घर पर छापा मारा और वहां से लैपटॉप एवं मोबाइल फोन बरामद किया, जिनमें विवादास्पद इस्लामी उपदेशक जाकिर नाइक और (पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी) आईएसआई से जुड़े वीडियो हैं। 

जब अधिकारी से नवी मुम्बई से जांच के संबंध के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मुर्तजा अब्बासी के आधार कार्ड पर उसका आवासीय पता ‘मिलेनियम टावर, सानपाड़ा, नवी मुम्बई’ है। उन्होंने कहा कि उसी के आधार पर उत्तर प्रदेश एटीएस की टीम वाशी के समीप सानपाड़ा में उस (मिलेनियम टावर) बिल्डिंग में गयी और टीम को पता चला कि (अब्बासी के आधार कार्ड पर जिस फ्लैट का जिक्र है वह) उसे 2013 में ही बेच दिया गया था। उन्होंने बताया कि अब्बासी के पिता मुनीर अब्बासी ने सीवुड्स डरावे में सेक्टर 50 में ताज हाइट्स अपार्टमेंट (वह भी नवी मुम्बई में ही है) में दूसरा फ्लैट खरीदा था। 

उन्होंने बताया कि एटीएस टीम एनआरआई थाने के अधिकारियों की मदद से उस फ्लैट पर गयी। तब पता चला कि अब्बासी परिवार अक्टूबर, 2020 में गोरखपुर रहने चला गया और उस फ्लैट को लॉकडाउन के दौरान मुस्लिम खान नामक एक व्यक्ति को किराये पर दे दिया गया था। अधिकारी ने बताया कि मुनीर अब्बासी पिछले सप्ताह अपने फ्लैट पर आये और किरायेदार से फ्लैट खाली करवाया और फिर वह गोरखपुर लौट गये। 

उन्होंने कहा, ‘मुर्तजा अब्बासी के बारे में सूचनाएं जुटाने के दौरान पुलिस को पता चला कि वह ज्यादातर अपने में खोया रहता था और वह ज्यादा मुखर नहीं था।’ उन्होंने कहा कि पुलिस उन लोगों से भी बात कर रही है, जो मुर्तजा को तब से जानते हैं जब वह नवी मुम्बई के सानपाड़ा में रहता था। सोमवार को लखनऊ में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने कहा था, ‘जो दस्तावेज उसके पास से मिले हैं, वे सनसनीखेज हैं।’ 

उन्होंने कहा था, ‘जांच फिलहाल शुरूआती दौर में है। पुलिसकर्मियों पर हमले के सिलसिले में गोरखनाथ थाने में एक मामला दर्ज किया गया है, जबकि दूसरा मामला धारदार हथियार के इस्तेमाल को लेकर दर्ज किया गया है।’

erussia-ukraine-news