Friday, July 19, 2024
Advertisement

कर्जा लेकर लड़ा चुनाव और बने विधायक, अब मांग रहे करोड़ों की रंगदारी; जानिए पूरा मामला

विधायक कमलेश्वर डोडियार पर एक मेडिकल स्टोर के मालिक से एक करोड़ रुपये की रंगदारी मांगने का प्रयास करने का आरोप है, जिसे उन्होंने सिरे से खारिज कर दिया। उन्होंने इसे सत्ताधारी दल बीजेपी की साजिश बताया है।

Edited By: Sudhanshu Gaur @SudhanshuGaur24
Published on: March 01, 2024 20:36 IST
Madhya Pradesh- India TV Hindi
Image Source : FACEBOOK कमलेश्वर डोडियार

रतलाम: पिछले साल मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव हुआ। इन चुनावों में भारतीय जनता पार्टी ने 163 सीटों पर जीत हासिल की। इसके अलावा 66 सीटों पर कांग्रेस ने कब्ज़ा जमाया। वहीं एक अन्य सीट पर भारतीय आदिवासी पार्टी के उम्मीदवार विजय हुए। यह कोई और नहीं बल्कि चर्चित विधायक कमलेश्वर डोडियार हैं। चुनाव जीतने के बाद से ही इनकी चर्चा होने लगी थी। कमलेश्वर दावा करते हैं कि उन्होंने चुनावों में जो भी खर्चा किया वह कर्ज लेकर किया है। 

चुनाव जीतने के बाद बाइक से पहुंचे थे भोपाल

इसके साथ ही चुनाव जीतने के बाद जब वह भोपाल गए तब भी इन्होंने मोटरसाइकिल से सफर तय किया। इसके बाद भी इन्होंने खूब सुर्खियां बटोरी थीं। वहीं अब एक बार फिर से यह चर्चा में आ गए हैं। इस बार चर्चा का कारण इनकी संभावित गिरफ्तारी है। दरअसल कमलेश्वर के खिलाफ जबरन वसूली का आरोप लगा है और इस मामले में गिरफ्तारी के लिए पुलिस को विधानसभा अध्यक्ष की भी मंजूरी मिल गई है। अब किसी भी वक़्त इनकी गिरफ्तारी हो सकती है। 

मेडिकल स्टोर के मालिक से रंगदारी मांगने का है आरोप

बता दें कि विधायक कमलेश्वर डोडियार पर एक मेडिकल स्टोर के मालिक से एक करोड़ रुपये की रंगदारी मांगने का प्रयास करने का आरोप है, जिसे उन्होंने सिरे से खारिज कर दिया। राज्य विधानसभा अध्यक्ष से मंजूरी मिलने के बाद संभावित रूप से गिरफ्तारी का सामना कर रहे 33 वर्षीय विधायक ने एक वीडियो जारी कर आरोपों को निराधार बताया और सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार को इसकी साजिश के लिए जिम्मेदार ठहराया।

इन मामलों में दर्ज हुई है शिकायत 

रतलाम के पुलिस अधीक्षक राहुल लोढ़ा ने बताया कि डोडियार के खिलाफ जबरन वसूली, मौद्रिक लाभ के लिए हमला, हिंसा, आपत्तिजनक भाषा का उपयोग, आपराधिक धमकी सहित विभिन्न आरोपों के लिए भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की संबंधित धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। अधिकारी ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि राज्य विधानसभा अध्यक्ष को सूचित करने जैसी कानूनी प्रक्रिया का पालन करने के बाद विधायक को गिरफ्तार किया जाएगा।

Input - PTI

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें मध्य-प्रदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement