1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. महाराष्ट्र
  4. महाराष्ट्र: पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के घर इनकम टैक्स का छापा

महाराष्ट्र: पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के घर इनकम टैक्स का छापा

महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार में गृह मंत्री रहे अनिल देशमुख को लेकर प्रवर्तन निदेशालय(ED) ने कल ही एक बड़ा खुलासा किया था।

Jayprakash Singh Jayprakash Singh @jayprakashindia
Published on: September 17, 2021 13:23 IST
महाराष्ट्र: पूर्व...- India TV Hindi
महाराष्ट्र: पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के घर इनकम टैक्स का छापा

महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के घरों पर आयकर विभाग के छापे की खबर है। प्राप्त जानकारी के अनुसार आयकर विभाग की टीमें अनिल देशमुख के मुंबई, पुणे और नागपुर स्थित घरों पर मौजूद हैं। फिलहाल छापे की कार्रवाई जारी है। फिलहाल आयकर विभाग के अधिकारियों ने छापे की जानकारी के बारे में खुलासा नहीं किया है। बता दें कि महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार में गृह मंत्री रहे अनिल देशमुख पर मुंबई पुलिस के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने 100 करोड़ रुपए की वसूली के आरोप लगाए थे। जिसके बाद उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। 

फिलहाल आयकर की टीम अनिल देशमुख के नागपुर में सिविल लाइन स्थित निवास पर कार्रवाई कर रही है, इससे पूर्व अनिल देशमुख के घर पर दो बार ईडी की जांच, दो बार सीबीआई की जांच हो चुकी है और आज इनकम टैक्स की टीम उनके निवास स्थान कागजों को खंगाल रही है। जानकारी के अनुसार सुबह 11:00 बजे इनकम टैक्स  की टीम दिल्ली एंव मुंबई से यहां पहुंची। इस टीम में नागपुर के अधिकारियों को शामिल नहीं किया गया है। अनिल देशमुख के निवास पर सीआरपीएफ के जवानों को तैनात कर दिया गया है। 

ईडी ने लगाया बड़ा आरोप

महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार में गृह मंत्री रहे अनिल देशमुख को लेकर प्रवर्तन निदेशालय(ED) ने कल ही एक बड़ा खुलासा किया था। ईडी के मुताबिक जांच में सामने आया है कि देशमुख ने एंटीलिया केस में बर्खास्त API सचिन वझे को अपनी असिस्टेंट कुंदन शिंदे को 4.6 करोड़ रुपयों से भरे 16 बैग देने को कहा था। ये बैग राजभवन के पास दिए गए। ED की एक विशेष पीएमएलए कोर्ट में दायर चार्जशीट में इसका खुलासा हुआ है। 

जांच में पता चला है कि देशमुख के आदेश पर ही वझे ने यह वैसा कई कारोबारियों से वसूला था। चार्जशीट में यह भी कहा गया है कि अनिल देशमुख ने सचिन वझे को सेवा में बहाल करने के लिए 2 करोड़ रुपए मांगे थे। ED ने इस चार्जशीट में कई कंपनियों को आरोपी बनाया है। इनमें कुछ शैक्षणिक संस्थानों को चलाने वाले एक ट्रस्ट और नवी मुंबई की एक कंपनी भी शामिल है। यह कई कई सौ करोड़ की संपत्ति रखती है। इसके मालिक अनिल देशमुख के परिवार के लोग ही हैं। ED ने देशमुख के प्राइवेट सेक्रेटरी संजीव पलांडे और पीए शिंदे के खिलाफ भी चार्जशीट दायर की है। दोनों अभी जेल में बंद हैं। 

Click Mania
bigg boss 15