1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. तेज गर्मी से इस साल एयर कूल की बिक्री औसत से रहेगी अधिक

तेज गर्मी से इस साल एयर कूल की बिक्री औसत से रहेगी अधिक

गर्मियां बढ़ने के साथ कूलर निर्माताओं की बांछे खिल गई हैं। उनका मानना है कि समय पर तेज गर्मी से इस साल एयर कूल की बिक्री औसत से अधिक रहेगी।

Sachin Chaturvedi Sachin Chaturvedi
Published on: May 08, 2016 18:06 IST
जबर्दस्‍त गर्मी से कूलर कंपनियों को मिली ठंडक, इस साल बिक्री में 25 फीसदी ग्रोथ की उम्‍मीद- India TV Paisa
जबर्दस्‍त गर्मी से कूलर कंपनियों को मिली ठंडक, इस साल बिक्री में 25 फीसदी ग्रोथ की उम्‍मीद

नई दिल्ली। गर्मियां बढ़ने के साथ कूलर विनिर्माताओं की बांछे खिल गई हैं। उनका मानना है कि समय पर तेज गर्मी से इस साल एयर कूलर की बिक्री औसत से अधिक रहेगी। बजाज इलेक्टि्रकल्स, ऊषा इंटरनेशनल, महाराजा व्हाइटलाइन तथा वोल्टास जैसी कंपनियों ने पहले ही इनोवेटिव प्रोडक्‍ट पेश किए है। और वे ब्रांडिंग तथा प्रचार पर खर्च कर रही हैं।

बजाज इलेक्टि्रकल के वाइस प्रेसिडेंट एवं क्रंट्री हेड मार्केटिंग (कंज्‍यूमर प्रोडक्‍ट) अमित सेठी ने कहा, इस साल गर्मियों की स्थिति को देखते हुए कूलर उद्योग औसत से अधिक बिक्री की उम्मीद कर रहा है। इसी तरह की राय जताते हुए ऊषा इंटरनेशनल के अध्यक्ष (अप्लायंसेज और सिलाई मशीन) हरविंदर सिंह ने कहा, हमारी एयर कूलर श्रृंखला ने पूर्वी व दक्षिणी बाजारों के बूते इस साल बेहतर वृद्धि दर्ज की है। सामान्य से अधिक बारिश की भविष्यवाणी के बावजूद उत्तर भारत में भी यह साल अच्छा रहने की उम्मीद है। हम इस साल बिक्री में 25 फीसदी वृद्धि की उम्मीद कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें- कम खर्च में एयर कंडीशनर जैसी ठंडक, ये हैं 7000 रुपए से कम कीमत वाले 5 इंडोर कूलर्स

महाराजा व्हाइटलाइन के सीईओ सुनील वधवा ने कहा कि कंपनी ने 2015 में अच्छी बिक्री दर्ज की और इस साल को लेकर भी उसे काफी उम्मीद है। 2016 में देशभर में हमारी बिक्री 1.5 लाख कूलरों से अधिक रहेगी। इस बाजार में उतरने वाली नई कंपनी वोल्टास को भी 2016-17 में ढाई लाख इकाई की बिक्री की उम्मीद है। पिछले वित्त वर्ष में कंपनी ने एक लाख कूलर बेचे थे।

वोल्टास के अध्यक्ष एवं मुख्य परिचालन अधिकारी प्रदीप बक्शी ने कहा, इस साल अत्यधिक गर्मी की वजह से बिक्री अच्छी है। हम इस साल 2.5 लाख इकाइयों की बिक्री करेंगे। भारतीय कूलर बाजार अनुमानत: 3,000 करोड़ रुपए का है। इसमें से 30 फीसदी संगठित क्षेत्र और 70 फीसदी असंगठित क्षेत्र के तहत आता है। वधवा ने कहा कि महाराजा जैसे ब्रांडेड कूलर को चलाने की लागत दो रुपए प्रति घंटा बैठती है। वहीं एसी के लिए यह 10 रुपए प्रति घंटा है।

यह भी पढ़ें- Summer Special: गर्मी में भी दें जबर्दस्‍त ठंडी हवा, ये हैं 2000 रुपए से सस्‍ते हाईस्‍पीड Fan

Write a comment
X