1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. BSNL आज से उपलब्‍ध कराएगी 100MBPS की डेटा स्‍पीड, पीएम मोदी ने की परियोजना की शुरुआत

BSNL आज से उपलब्‍ध कराएगी 100MBPS की डेटा स्‍पीड, पीएम मोदी ने की परियोजना की शुरुआत

भारत में अपनी तरह की पहली परियोजना के तहत बीएसएनएल ने वैश्विक दिशानिर्देशों के अनुसार समुद्र के अंदर ऑप्टिकल फाइबर केबल बिछाने का काम पूरा किया है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: August 10, 2020 13:48 IST
BSNL to enhance data speed in Andaman Nicobar by 10 times from Monday- India TV Paisa
Photo:FINANCIAL EXPRESS

BSNL to enhance data speed in Andaman Nicobar by 10 times from Monday

नई दिल्‍ली। सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) अंडमान निकोबार द्वीप समूह में सोमवार से अपने ग्राहकों के लिए अधिकतम डेटा स्पीड को 10 गुना बढ़ाकर 100 एमबीपीएस करेगी और 20 गुना अधिक तक डेटा डाउनलोड सीमा की पेशकश करेगी। कंपनी ने रविवार को यह जानकारी दी। बीएसएनएल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 2,312 किलोमीटर लंबे चेन्नई-अंडमान निकोबार द्वीप समूह (सीएएनआई) सामुद्रिक ऑप्टिकल फाइबर केबल परियोजना की शुरुआत से एक दिन पहले यह घोषणा की है।

बीएसएनएल के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक पी के पुरवार ने कहा कि कई चुनौतियों के बावजूद यह परियोजना निर्धारित समयसीमा में और लागत में किसी बढ़ोतरी के बिना पूरी हुई। भारत में अपनी तरह की पहली परियोजना के तहत बीएसएनएल ने वैश्विक दिशानिर्देशों के अनुसार समुद्र के अंदर ऑप्टिकल फाइबर केबल बिछाने का काम पूरा किया है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को चेन्नई से अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह में पोर्ट ब्लेयर को जोड़ने वाले समुद्री ऑप्टिकल फाइबर केबल परियोजना का उद्घाटन कर उसे राष्ट्र को समर्पित किया।

इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि इसी तरह पूर्वी तट में गहरे बंदरगाह पोताश्रय के निर्माण का काम भी तेज़ी से चल रहा है, इसके अलावा अब ग्रेट निकोबार में करीब 10 हज़ार करोड़ रुपए की संभावित लागत से ट्रांस शिपमेंट पोर्ट के निर्माण का प्रस्ताव भी है। उत्तरी और मध्य अंडमान के बीच सड़क संपर्क सुविधा को मजबूत करने के लिए दो बड़े पुल और राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-चार के चौड़ीकरण पर तेज़ी से काम हो रहा है, पोर्ट ब्लेयर एयरपोर्ट में एक साथ 1200 यात्रियों के आवागमन की क्षमता आने वाले कुछ महीनों में बनकर तैयार हो जाएगी।

अंडमान निकोबार द्वीप समूह और बाकी देश से जंल संपर्क्र की सुविधा को बढ़ाने के लिए कोची शिपयार्ड में चार जहाज़ बनाए जा रहे हैं, उनकी डिलिवरी भी आने वाले कुछ महीनों में हो जाएगी। मोदी ने कहा कि  मुझे उम्मीद है, हमारे मौजूदा प्रयास इस दशक में अंडमान-निकोबार को वहां के लोगों को न सिर्फ नई सहूलियत देंगे बल्कि विश्व पर्यावरण पटल पर प्रमुख स्थान के तौर पर स्थापित भी करेंगे। अंडमान निकोबार में आज जितनी भी आधुनिक ढांचागत सुविधाएं तैयार हो रही हैं, वो समुद्री क्षेत्र से जुड़ी अर्थव्यवस्था को भी गति देगें। आने वाले समय में अंडमान निकोबार बंदरगाह से जुड़ी गतिविधियों के विकास के केंद्र के रूप में विकसित होने वाला है, अंडमान निकोबार दुनिया के कई बंदरगाहों से प्रतिस्पर्धी रूप से करीब स्थित है।

 

बीएसएनएल ने इस अवसर पर अपने ग्राहकों के लिए बोनांजा ऑफर की घोषणा भी की है। बीएसएनएल वायर लाइन सेगमेंट के लिए कूपर ब्रॉड बैंड कस्टमर्स को मौजूद प्लान पर 100 एमबीपीएस की स्पीड और 15 गुना ज्यादा डाटा डाउनलोड 30 जीबी से बढ़ाकर 750 जीबी कर दिया गया है।

बीएसएनएल अंडमान और निकोबार में अपने वायरलाइन और मोबाइल ग्राहकों को हाई स्पीड इंटरनेट और मोबाइल डाटा डाउनलोड की मात्रा मामले बेहतर सेवाएं देगा। आपको बता दें कि बीएसएनएल द्वारा 2312 किमी लंबी सबमरीन ऑप्टिकल फाइबर के लिए जरिये इस द्वीप को चेन्नई से जोड़ दिया गया है। कई दिक्कतों के बावजूद इस प्रोजेक्ट को समय से पूरा किया गया है।  

इस परियोजना से देश के अन्य हिस्सों की तरह अंडमान एंड निकोबार द्वीप समूह को भी तेज और भरोसेमंद मोबाइल और लैंडलाइन टेलीकॉम सर्विसेज की बेहतर सुविधाएं मिल पाएंगी। मोबाइल फोन में 4जी सेवा मिलने लगेंगी। इंटरनेट की स्पीड पहले के मुकाबले काफी तेज हो जाएगी। बता दें कि, प्रधानमंत्री ने इस परियोजना की आधारशिला पोर्ट ब्लेयर में दिसंबर 2018 में रखी थी। इस परियोजना के लिए भारत सरकार ने संचार मंत्रालय के युनिवर्सल सर्विस ऑब्लिगेशन फंड के तहत फंड मुहैया कराया था।

Write a comment