1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. PayPal प्‍लेटफॉर्म का धनशोधन गतिविधियों के लिए किया जा रहा है दुरुपयोग, FIU ने हाईकोर्ट में किया दावा

PayPal प्‍लेटफॉर्म का धनशोधन गतिविधियों के लिए किया जा रहा है दुरुपयोग, FIU ने हाईकोर्ट में किया दावा

एफआईयू ने 17 दिसंबर 2020 को कंपनी को 45 दिनों के भीतर जुर्माना देने और एफआईयू में रिपोर्टिंग इकाई के रूप में पंजीकरण कराने का आदेश दिया था।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: October 21, 2021 18:01 IST
FIU claims in HC PayPal platform misused for money laundering activities- India TV Hindi News
Photo:PIXABAY

FIU claims in HC PayPal platform misused for money laundering activities

नई दिल्‍ली। वित्तीय खुफिया इकाई (FIU) ने गुरुवार को दिल्ली हाईकोर्ट में बताया कि धनशोधन गतिविधियों के लिए अमेरिकी ऑनलाइन भुगतान गेटवे पेपाल (PayPal) का दुरुपयोग किया गया है और उसने सीलबंद लिफाफे में कुछ दस्तावेज पेश करने की इजाजत मांगी। न्यायमूर्ति रेखा पल्ली ने हालांकि कहा कि सीलबंद लिफाफे में दस्तावेज दाखिल करने की अनुमति मांगने वाला आवेदन रिकॉर्ड में नहीं है और उन्होंने मामले को अगले साल 11 जनवरी को सुनवाई के लिए सूचीबद्ध कर दिया।

अदालत धनशोधन रोकथाम अधिनियम (PMLA) के कथित उल्लंघन के लिए पेपाल पर एफआईयू द्वारा लगाए गए 96 लाख रुपये के जुर्माने को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई कर रही थी। एफआईयू ने 17 दिसंबर 2020 को कंपनी को 45 दिनों के भीतर जुर्माना देने और एफआईयू में रिपोर्टिंग इकाई के रूप में पंजीकरण कराने का आदेश दिया था। कानून के मुताबिक रिपोर्टिंग इकाई के लिए विदेशी मुद्रा में वित्तीय लेनदेन के बारे में अधिकारियों को बताना जरूरी है।

अदालत ने 12 जनवरी को एफआईयू के इस आदेश पर रोक लगा दी थी। हालांकि इस दौरान कंपनी को एक सुरक्षित सर्वर पर सभी लेनदेन का रिकॉर्ड रखना था और दो सप्ताह के भीतर हाईकोर्ट में 96 लाख रुपये की बैंक गारंटी जमा करनी थी। इसके बाद पेपाल ने हाईकोर्ट में बैंक गारंटी जमा कर दी। अपने ताजा आदेश में अदालत ने कहा कि 12 जनवरी का अंतरिम आदेश जारी रहेगा।

पेपाल के वकील साजन पूवैया ने सीलबंद लिफाफे में दस्तावेज दाखिल करने के आवेदन का विरोध किया और कहा कि कंपनी सिर्फ एक मध्यस्थ है। अदालत ने कहा कि उसे विचार करना होगा कि क्या कोई बेहद गंभीर बात है, और ऐसी स्थिति में वह दस्तावेज दाखिल करने की अनुमति देगा अन्यथा नहीं। 

यह भी पढ़ें: 6000mAh बैटरी व jio Offer के साथ 10999 रुपये में लॉन्‍च हुआ Nokia C30, एक बार चार्ज करने पर चलेगा पूरे तीन दिन

यह भी पढ़ें: महंगे पेट्रोल-डीजल ने बढ़ाई EV की लोकप्रियता, बिक्री में हो रहा है लगातार इजाफा

यह भी पढ़ें: Jio-bp का पहला पेट्रोल पंप इस शहर में होगा शुरू, कंपनी दे रही है पेट्रोल पंप शुरू करने का मौका

यह भी पढ़ें: नीरव मोदी भारत आएगा या नहीं, इस दिन चलेगा पता

Latest Business News

Write a comment