1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. HDFC बैंक का चौथी तिमाही शुद्ध मुनाफा 16 फीसदी बढ़कर 8,434 करोड़ रुपए

HDFC बैंक का चौथी तिमाही शुद्ध मुनाफा 16 फीसदी बढ़कर 8,434 करोड़ रुपए

निजी क्षेत्र के अग्रणी बैंक एचडीएफसी बैंक ने शनिवार को कहा कि मार्च 2021 को समाप्त चौथी तिमाही में उसका एकीकृत शुद्ध लाभ 15.8 प्रतिशत बढ़कर 8,434 करोड़ रुपये हो गया।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: April 17, 2021 17:26 IST
HDFC बैंक का चौथी तिमाही शुद्ध मुनाफा 16 फीसदी बढ़कर 8,434 करोड़ रुपए- India TV Paisa
Photo:FILE

HDFC बैंक का चौथी तिमाही शुद्ध मुनाफा 16 फीसदी बढ़कर 8,434 करोड़ रुपए

नई दिल्ली: निजी क्षेत्र के अग्रणी बैंक एचडीएफसी बैंक ने शनिवार को कहा कि मार्च 2021 को समाप्त चौथी तिमाही में उसका एकीकृत शुद्ध लाभ 15.8 प्रतिशत बढ़कर 8,434 करोड़ रुपये हो गया। बैंक ने एक साल पहले इसी तिमाही में 7,280 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हासिल किया था। एचडीएफसी बैंक ने नियामकीय सूचना में यह जानकारी दी है। उसने कहा है, ‘‘बैंक का कुल अग्रिम 31 मार्च 2020 के 10,43,671 करोड़ रुपये से 13.6 प्रतिशत बढ़कर 31 मार्च 2021 को 11,85,284 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।’’ 

बैंक ने कहा है कि समाप्त वित्त वर्ष 2020- 21 के दौरान उसका एकीकृत शुद्ध लाभ 16.8 प्रतिशत बढ़कर 31,833 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। इस दौरान जनवरी से मार्च तिमाही में बैंक की एकीकृत आय एक साल पहले की इसी अवधि के 38,287.17 करोड़ रुपये से बढ़कर 40,909.49 करोड़ रुपये पर पहुंच गई। वित्त वर्ष 2021- 21 में बैंक की पूरे साल की एकीकृत आय बढ़कर 1,55,885.28 करोड़ रुपये हो गई। इससे पिछले साल उसकी कुल आय 1,47,068.28 करोड़ रुपये रही थी। 

संपत्ति गुणवत्ता के मोचे पर बैंक ने कहा है कि 31 मार्च 2021 को उसकी सकल गैर- निष्पादित संपत्ति उसके कुल कर्ज का 1.32 प्रतिशत रही है। यह आंकड़ा एक साल पहले के मुकाबले मामूली ऊंचा है। पिछले साल बैंक का एनपीए 1.26 प्रतिशत पर था। वहीं उसका शुद्ध एनपीए 0.40 प्रतिशत (4,554.82 करोड़ रुापये) रहा है जो कि एक साल पहले 0.36 प्रतिशत (3,542.36 करोड़ रुपये) रहा था। बैंक ने आलोच्य तिमाही के लिये फंसे कर्ज और आपात जरूरतों के लिये 4,693.70 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। एक साल पहले इसी तिमाही में इन मदों में 3,784.49 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया था।

Write a comment
X