1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Good News: निगेटिव से पॉजिटिव हुई इकोनॉमी, अक्‍टूबर-दिसंबर में 0.4 प्रतिशत की दर से बढ़ी GDP

Good News: निगेटिव से पॉजिटिव हुई इकोनॉमी, अक्‍टूबर-दिसंबर में 0.4 प्रतिशत की दर से बढ़ी GDP

चालू वित्त वर्ष की दिसंबर में समाप्त तिमाही के दौरान भारत की जीडीपी सकारात्मक होकर 0.4 प्रतिशत पर पहुंच गई है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: February 26, 2021 23:35 IST
Indian economy GDP grows by 0.4 pc in October-December 2020- India TV Paisa

Indian economy GDP grows by 0.4 pc in October-December 2020

नई दिल्‍ली। भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था कोरोन वायरस महामारी के असर से उबर चुकी है। सरकार ने शुक्रवार को बताया कि अक्‍टूबर-दिसंबर तिमाही में भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था की वृद्धि दर 0.4 प्रतिशत रही है। सरकार ने अनुमान जताया है कि वित्‍त वर्ष 2020-21 में भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था में 8 प्रतिशत की गिरावट रहेगी। राष्‍ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO) द्वारा जारी आंकड़ों में कहा गया है कि लगातार दो तिमाहियों में नकारात्‍मक रहने के बाद भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था तीसरी तिमाही में सकारात्‍मक हो गई है। 2019-20 की समान तिमाही में भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था की वृद्धि दर 3.3 प्रतिशत थी।

चालू वित्त वर्ष की दिसंबर में समाप्त तिमाही के दौरान भारत की जीडीपी सकारात्मक होकर 0.4 प्रतिशत पर पहुंच गई है। इससे पहले की दो तिमाहियों के दौरान कोरोना वायरस महामारी के फैलने के कारण इसमें बड़ी गिरावट दर्ज की गई थी। चालू वित्त वर्ष की दिसंबर में तिमाही के जीडीपी आंकड़े सरकार ने शुक्रवार को जारी किए। सरकारी आंकड़ों में कहा गया है कि भारतीय अर्थव्यवस्था में चालू वित्त वर्ष की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में 0.4 प्रतिशत की वृद्धि रही।

एनएसओ के राष्ट्रीय लेखा के दूसरे अग्रिम अनुमान में 2020-21 में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में 8 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान जताया गया है। जनवरी में एनएसओ ने चालू वित्त वर्ष 2020-21 में अर्थव्यवस्था में 7.7 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान जताया था। एक साल पहले 2019-20 में जीडीपी में 4 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी। कोरोना वायरस महामारी और उसकी रोकथाम के लिए लगाए गए लॉकडाउन के कारण चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में अर्थव्यवस्था में 24.4 प्रतिशत की गिरावट आई थी। वहीं दूसरी तिमाही जुलाई-सितंबर में जीडीपी में 7.3 प्रतिशत की गिरावट आई थी।

देश में कोविड-19 की स्थिति में तेजी से सुधार आने और लोगों के खर्च में तेजी से वृद्धि होना दो ऐसे कारक रहे हैं जो दिसंबर 2020 तिमाही के लिए बेहतर रहे। भारत की जीडीपी में पहली तिमाही के दौरान 24 प्रतिशत और दूसरी तिमाही में 7.5 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई थी। अक्‍टूबर-दिसंबर 2020 तिमाही में चीन की अर्थव्‍यवस्‍था में 6.5 प्रतिशत की वृद्धि हुई, इससे पहले वहां जुलाई-सितंबर 2020 में जीडीपी वृद्धि दर 4.9 प्रतिशत रही थी।

जनवरी में आठ बुनियादी उद्योगों का उत्पादन 0.1 प्रतिशत बढ़ा है।

यह भी पढ़ें: खुशखबरी:सोना खरीदना हुआ सस्‍ता, लगातार तीन दिन की गिरावट से इतने घटे दाम

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी का बड़ा ऐलान, प्राइवेट सेक्‍टर बिजनेस को बढ़ावा देगी सरकार

यह भी पढ़ें: भीषण गर्मी से पहले कर लें ठंडक का इंतजाम, 28 फरवरी तक 50% डिस्‍काउंट पर मिल रहे हैं AC, कूलर और पंखें

यह भी पढ़ें: Aadhaar for New Born: नन्हे मेहमान का भी बनवा सकते हैं आधार कार्ड, होंगे कई बड़े फायदे, घर बैठे यूं करें अप्लाई

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार का नया ऐलान, किसानों के लिए किया जा रहा है ये काम

यह भी पढ़ें: OnePlus 8 Pro मिल रहा है 3,056 रुपये में, जानिए क्‍या है स्‍कीम

Write a comment
X