1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. नोएडा व ग्रे.नोएडा के कर्मचारियों को मार्च के लंबित वेतन का होगा भुगतान, उद्योगपतियों ने दिया आश्‍वासन

नोएडा व ग्रे.नोएडा के कर्मचारियों को मार्च के लंबित वेतन का होगा भुगतान, उद्योगपतियों ने दिया आश्‍वासन

देशव्यापी लॉकडाउन में किसानों को कोई असुविधा ना हो, इसके लिए प्रदेश सरकार निरन्तर ध्यान दे रही है और 15 अप्रैल से 5500 खरीद केंद्रों के माध्यम से गेहूं खरीद का काम शुरू करेगी।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: April 13, 2020 14:45 IST
Industries of Noida and Greater Noida assured to clear all pending salaries of March immediately- India TV Paisa

Industries of Noida and Greater Noida assured to clear all pending salaries of March immediately

नोएडा। गौतमबुद्ध नगर (नोएडा) के जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने सोमवार को बताया कि नोएडा एवं ग्रेटर नोएडा स्थित उद्योगों में काम करने वाले सभी कर्मचारियों के लंबित वेतन का भुगतान शीघ्र ही किया जाएगा। इसके अलावा आवश्‍यक वस्‍तुओं और दवाओं की आपूर्ति एवं उत्‍पादन में लगे लोगों से सोशल डिस्‍टेंसिंग के नियम का सख्‍ती से पालन करने को सुनिश्चित करने के लिए भी चर्चा की गई।

जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने ट्विट कर कहा कि आज नोएडा और ग्रेटर नोएडा के उद्योग प्रतिनिधियों के साथ बैठक सफल रही। सभी ने यह आश्‍वासन दिया है कि वे मार्च महीने के लंबित वेतन का भुगतान तत्‍काल इसी महीने जारी करेंगे। इससे लाखों कर्मचारियों को फायदा होगा, जिनको अभी तक मार्च माह का वेतन नहीं मिला है। इसके अलावा जिलाधिकारी ने आवश्‍यक वस्‍तुओं एवं दवाओं से जुड़ी सेवा में कार्यरत लोगों से सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन सुनिश्चित करने के लिए भी कहा।  

उत्तर प्रदेश सरकार 15 अप्रैल से खरीदेगी गेंहू

उत्तर प्रदेश सरकार ने सोमवार को कहा कि देशव्यापी लॉकडाउन में किसानों को कोई असुविधा ना हो, इसके लिए प्रदेश सरकार निरन्तर ध्यान दे रही है और 15 अप्रैल से 5500 खरीद केंद्रों के माध्यम से गेहूं खरीद का काम शुरू करेगी। एक सरकारी बयान में कहा गया कि प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने बताया कि गेहूं की कटाई तेजी से हो रही हैं। कटाई के बाद गेहूं की खरीद के लिए प्रदेश सरकार ने तैयारियां पूरी कर ली हैं। किसानों को गेहूं खरीद के सम्बन्ध में बिल्कुल भी चिंता करने की आवश्यकता नहीं है।

प्रमुख सचिव, खाद्य एवं रसद तथा कृषि, कृषि विपणन एवं विदेश व्यापार, देवेश चतुर्वेदी ने विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा आगामी 15 अप्रैल से 5500 खरीद केंद्रों के माध्यम से न्यूनतम समर्थन मूल्य 1925 रुपए प्रति कुंतल पर गेहूं की खरीद की जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में गेहूं खरीद का लक्ष्य 55 लाख टन रखा गया है। क्रय केन्द्रों पर अनावश्यक भीड़ न हो इसके लिए ऑनलाइन टोकन की व्यवस्था की गई है।

गेहूं बिक्री के लिए इच्छुक किसानों को केन्द्र प्रभारी से सम्पर्क कर अपना कृषक पंजीकरण नंबर बताकर अनुरोध करना होगा। इस पर केन्द्र प्रभारी द्वारा एक सप्ताह के अन्दर टोकन जारी होने की सूचना सम्बन्धित किसान के मोबाइल नंबर पर भेजी जाएगी। चतुर्वेदी ने बताया कि किसानों की सुविधा के दृष्टिगत उन्हें अपना आधार कार्ड ले जाने पर पूर्व से पंजीकृत न होने की दशा में क्रय केन्द्र प्रभारी द्वारा मौके पर ही उसके फोटो पहचान पत्र, बैंक पासबुक तथा खतौनी की प्रति के आधार पर उसका पंजीकरण किया जाएगा।

Write a comment
X