ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Zomato खरीदेगी Grofers में 9.3 प्रतिशत हिस्‍सेदारी, CCI ने इस सौदे को दी अपनी मंजूरी

Zomato खरीदेगी Grofers में 9.3 प्रतिशत हिस्‍सेदारी, CCI ने इस सौदे को दी अपनी मंजूरी

जोमैटो की स्थापना 2010 में हुई थी, जबकि ग्रोफर्स इंडिया की स्थाना मई 2015 में की गई थी। हैंड्स ऑन ट्रेड्स की स्थापना सितंबर 2015 में हुई थी।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Updated on: August 13, 2021 19:10 IST
Zomato buying 9.3 pc stake in Grofers India, CCI approved proposed purchase- India TV Paisa
Photo:INIDATV PAISA

Zomato buying 9.3 pc stake in Grofers India, CCI approved proposed purchase

नई दिल्‍ली। भारतीय प्रतिस्‍पर्धा आयोग (CCI) ने ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्‍लेटफॉर्म जोमैटो (Zomato) के ऑनलाइन ग्रॉसरी शॉपिंग प्‍लेटफॉर्म ग्रोफर्स इंडिया (Grofers India) में 9.3 प्रतिशत हिस्‍सेदारी खरीदने के प्रस्‍ताव को अपनी मंजूरी प्रदान कर दी है। जोमैटो ने पिछले महीने कहा था कि वह ग्रोफर्स में मामूली हिस्‍सेदारी खरीदने के लिए 745 करोड़ रुपये का निवेश करेगी क्‍योंकि कंपनी ऑनलाइन ग्रॉसरी सेगमेंट में अपने लिए बहुत अधिक संभावनाएं देख रही है।

हाल ही में सूचीबद्ध हुई जोमैटो ग्रोफर्स इंडिया प्रा. लि. और हैंड्स ऑन ट्रेड्स प्रा. लि. में 9.3 प्रतिशत हिस्‍सेदारी का अधिग्रहण करेगी। ग्रोफर्स इंटरनेशनल ग्रोफर्स इंडिया और हैंड्स ऑन ट्रेड्स की होल्‍डिंग कंपनी है।

शुक्रवार को एक ट्वीट में सीसीआई ने कहा कि उसने जोमैटो द्वारा ग्रोफर्स और हैंड्स ऑन ट्रेड्स में लगभग 9.3 प्रतिशत हिस्‍सेदारी अधिग्रहण के प्रस्‍ताव को मंजूरी दे दी है। जोमैटो की स्‍थापना 2010 में हुई थी, जबकि ग्रोफर्स इंडिया की स्‍थाना मई 2015 में की गई थी। हैंड्स ऑन ट्रेड्स  थर्ड पार्टी मर्चेंट्स, फूड प्रोडक्‍ट्स, ग्रॉसरी और अन्‍य उत्‍पादों की कॉन्‍ट्रैक्‍ट मैन्‍यूफैक्‍चरिंग के साथ बी2बी होलसेल ट्रेडिंग में है। इसकी स्‍थापना सितंबर 2015 में हुई थी।

इस सौदे के तहत जोमैटो ग्रोफर्स इंडिया और हैंड्स ऑन ट्रेड्स दोनों में 9.3 प्रतिशत हिस्‍सेदारी का अधिग्रहण कुछ निश्चित अधिकारों के साथ करेगी। नोटिस में संभावित संबंधित बाजार और सेगमेंट के बारे में बताया गया है, जहां दोनों कंपनियों की गतिविधियां एक जैसी हैं। ऐसे बाजारों में शामिल हैं किराना आपूर्ति, घर का सामान, जनरल मर्चेंडाइस, पर्सनल हाईजीन प्रोडक्‍ट्स, फल और सब्जियां। सीसीआई ने अपने आदेश में कहा है कि प्रस्‍तावित सौदा भारत में संबंधित बाजार में किसी भी प्रकार से प्रभाव नहीं डालेगा।  

यह भी पढ़ें: Maruti Suzuki ने दी चेतावनी सरकार ने नहीं मानी ये बात तो जल्‍द और महंगे होंगे वाहन

यह भी पढ़ें:  पाकिस्‍तान पर रहम, इसी महीने झोली में आएगी इतनी बड़ी रकम

यह भी पढ़ें: नई ऑटोमोबाइल स्‍क्रैपिंग पॉलिसी का लाभ मिलेगा कब से, जानिए कितना होगा आपको फायदा

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार का बड़ा तोहफा, नई गाड़ी खरीदने पर नहीं देना होगा रजिस्‍ट्रेशन शुल्‍क और रोड टैक्‍स में भी मिलेगी छूट

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार भी लेकर आएगी IPO, इस कंपनी में बेचेगी अपनी हिस्‍सेदारी

Write a comment
elections-2022