1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. बाजार में बहुत बड़ी गिरावट ने निकले निवेशकों के आंसू! एक दिन में हुआ इतने लाख करोड़ रुपए का नुकसान

बाजार में बहुत बड़ी गिरावट ने निकले निवेशकों के आंसू! एक दिन में हुआ इतने लाख करोड़ रुपए का नुकसान

बीएसई सेंसेक्स में सोमवार को बड़ी जबरदस्त गिरावट दर्ज की गई। यह पिछले दो माह में यह एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट है। इस गिरावट से निवेशकों को भारी नुकसान हुआ है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: February 22, 2021 19:59 IST
बाजार में बहुत बड़ी गिरावट ने निवेशकों के निकले आंसू! एक दिन में हुआ इतने लाख करोड़ रुपए का नुकसान- India TV Paisa
Photo:FILE

बाजार में बहुत बड़ी गिरावट ने निवेशकों के निकले आंसू! एक दिन में हुआ इतने लाख करोड़ रुपए का नुकसान

नई दिल्ली: बीएसई सेंसेक्स में सोमवार को बड़ी जबरदस्त गिरावट दर्ज की गई। यह पिछले दो माह में यह एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट है। इस गिरावट से निवेशकों को भारी नुकसान हुआ है। बीएसई सेंसेक्स में जोरदार गिरावट से सोमवार को निवेशकों की 3.7 लाख करोड़ रुपये की पूंजी डूब गई। सेंसेक्स में पिछले दो माह में यह एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज हुई है। कारोबार बंद होने के समय बीएसई की सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 3,71,883.82 करोड़ रुपये घटकर 2,00,26,498.14 करोड़ रुपये रह गया। 19 फरवरी को बीएसई की सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 2,03,98,381.96 करोड़ रुपये था। 

बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स सोमवार को 1,145 अंक या 2.25 प्रतिशत टूटकर 49,744.32 अंक पर आ गया। सेंसेक्स में लगातार पांचवें कारोबारी सत्र में गिरावट दर्ज की गई। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 306.05 अंक या 2.04 प्रतिशत के नुकसान से 14,675.70 अंक पर आ गया। 

पढ़ें- खुशखबरी! यूपी वालों को पीएम आवास योजना (ग्रामीण) के तहत होगा बड़ा फायदा, जानें कैसे

पढ़ें- 47 रुपए में 14 GB डेटा वाला सबसे सस्ता प्लान लॉन्च, अभी करें रिचार्ज

पढ़ें- LPG Subsidy के पैसे अगर आपके अकाउंट में भी नहीं आ रहे तो करें यह काम

कैपिटलवाया ग्लोबल रिसर्च लिमिटेड के तकनीकी शोध प्रमुख अशीष विश्वास ने कहा, ‘‘बाजार निफ्टी 50 सूचकांक को 14,750 अंक से ऊपर बनाये नहीं रख सका। बहरहाल तकनीकी कारक बताते हैं कि आने वाले दिनों में बाजार में शेयर मूल्यों में और गिरावट रह सकती है।’’ विश्वास ने कहा कि बाजार की स्थिति में आने वाले तकनीकी सुधार यानी ऊंचाई से नीचे की तरफ बनने वाले प्रवाह को 14,500 से लेकर 14,300 के बीच समर्थन मिल सकता है। 

पढ़ें- PM Kisan Samman Nidhi Yojna की अगली किस्त जानें कबतक आएगी, लिस्ट में ऐसे चेक करें अपना नाम

पढ़ें- पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर फिर आई बड़ी खबर, खुद पेट्रोलियम मंत्री ने दी जानकारी

पढ़ें- खुशखबरी! किसान आंदोलन के बीच इन किसानों को सरकार ने दिए 1.23 लाख करोड़ रुपए

बाजारों में बिकवाली से सेंसेक्स 1,145 अंक टूटा, निफ्टी 14,700 अंक से नीचे

शेयर बाजारों में गिरावट का सिलसिला सोमवार को लगातार पांचवें कारोबारी सत्र में भी जारी रहा। रिलायंस इंडस्ट्रीज, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज और एचडीएफसी जैसी बड़ी कंपनियों के शेयरों में गिरावट से सेंसेक्स 1,145 अंक टूट गया। वैश्विक बाजारों के नकारात्मक रुख ने भी बाजार धारणा को प्रभावित किया। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 1,145.44 अंक यानी 2.25 प्रतिशत के नुकसान से 49,744.32 अंक पर आ गया। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 306.05 अंक यानी 2.04 प्रतिशत टूटकर 14,700 अंक से नीचे 14,675.70 अंक पर बंद हुआ। 

पढ़ें- पेट्रोल-डीजल के दाम कम करने को लेकर एक्शन में सरकार, इस बड़े मंत्री ने दिया बड़ा बयान

पढ़ें- 50 लीटर फ्री पेट्रोल-डीजल पाने का मौका, देखें ऑफर की पूरी डिटेल

पढ़ें- RBI ने जारी किया Alert, बैंक ग्राहकों के लिए दी अहम जानकारी

सेंसेक्स में शामिल कंपनियों में डॉ.रेड्डीज का शेयर सबसे अधिक करीब पांच प्रतिशत टूट गया। महिंद्रा एंड महिंद्रा, टेक महिंद्रा, एक्सिस बैंक, इंडसइंड बैंक और टीसीएस के शेयर भी नुकसान में रहे। वहीं दूसरी ओर ओएनजीसी, एचडीएफसी बैंक और कोटक बैंक के शेयर लाभ में रहे। आनंद राठी के इक्विटी शोध (बुनियादी) प्रमुख नरेंद्र सोलंकी ने कहा, ‘एशियाई बाजारों के मिलेजुले रुख के बीच भारतीय बाजार भी स्थिर रुख के साथ खुले। 

चीन के केन्द्रीय बैंक पीबीओसी द्वारा ब्याज दरों को यथावत रखने की वजह से चीन के बाजार नुकसान में रहे। वहीं जापान के बाजार में मामूली बढ़त थी।’’ उन्होंने कहा कि दोपहर के कारोबार में बाजार नीचे आए। कोविड-19 के मामले बढ़ने की चिंता तथा इसका आर्थिक प्रभाव पूर्व के अनुमान से कहीं अधिक रहने की आशंका से निवेशकों की धारणा प्रभावित हुई। अन्य एशियाई बाजारों में चीन का शंघाई कम्पोजिट, हांगकांग का हैंगसेंग और दक्षिण कोरिया का कॉस्पी नुकसान में थे। वहीं जापान के निक्की में लाभ रहा। शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार भी नुकसान में थे।

Write a comment