ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. फायदे की खबर
  5. LPG ग्राहकों के लिए खुशखबरी, सब्‍सक्राइर्ब्‍स को जल्‍द मिल सकती है सर्विस प्रोवाइडर्स बदलने की सुविधा

LPG ग्राहकों के लिए खुशखबरी, सब्‍सक्राइर्ब्‍स को जल्‍द मिल सकती है सर्विस प्रोवाइडर्स बदलने की सुविधा

1 जुलाई तक देश में 29.11 करोड़ एलपीजी उपभोक्ता थे और इस सर्विस के शुरू होने से उन्हें बहुत अधिक सुविधा मिलेगी।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: September 02, 2021 11:13 IST
LPG  gas  users soon to switch service providers- India TV Paisa
Photo:PTI

LPG  gas  users soon to switch service providers

नई दिल्‍ली। रसोई गैस उपभोक्‍ताओं को जल्‍द ही अपने सर्विस प्रोवाइडर्स को बदलने की सुविधा मिल सकती है। यह ठीक उसी प्रकार होगी जिस तरह मोबाइल फोन नंबर को पोर्ट किया जाता है। इस मामले से जुड़े तीन लोगों ने यह जानकारी दी। केंद्र सरकार सार्वजनिक ईंधन विपणन कंपनियों के घरेलू गैस आपूर्ति कारोबार में भी पोर्टिंग की सुविधा उपलब्‍ध कराने पर काम कर रही है। योजना के तहत, इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लि. के एलपीजी कनेक्‍शन को हिन्‍दुस्‍तान पेट्रोलियम कॉर्प लि. और भारत पेट्रोलियम कॉर्प लि. या इनके कनेक्‍शन को इंडियन ऑयल कॉर्प में ट्रांसफर किया जा सकता है।

अंग्रेजी अखबार मिंट की रिपोर्ट के मुताबिक तीनों ईंधन विपणन कंपनियों संयुक्‍त रूप से अपने पूरे एलपीजी कारोबार को एक ही प्‍लेटफॉर्म पर लाने के लिए एक सॉफ्टवेयर डेवलप कर रही हैं। 1 जुलाई तक देश में 29.11 करोड़ एलपीजी उपभोक्‍ता थे और इस सर्विस के शुरू होने से उन्‍हें बहुत अधिक सुविधा मिलेगी। वर्तमान में एलपीजी कंपनियां अपने ग्राहकों को एलपीजी डिस्‍ट्रीब्‍यूटर चुनने और अपने ही नेटवर्क में एक ही एरिया में काम करने वाले किसी दूसरे डिस्‍ट्रीब्‍यूटर को कनेक्‍शन का ऑनलाइन ट्रांसफर करने की सुविधा देती हैं।  

एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने कहा कि एलपीजी कनेक्‍शन पोर्टेबिलिटी के लिए एक कॉमन डेटाबेस बनाया जा रहा है। अभी अगर किसी उपभोक्‍ता को अपना सर्विस प्रोवाइडर बदलना है तो उसे सबसे पहले अपने कनेक्‍शन को फ‍िजिकल तरीके से सरेंडर करना होता है और इसके बाद अन्‍य रिटेलर के एलपीजी डिस्‍ट्रीब्‍यूटर के पास कनेक्‍शन लेने के लिए जाना पड़ता है। यह एक बहुत लंबी और अधिक समय लेने वाली प्रक्रिया है।

एक अन्‍य अधिकारी ने कहा कि अभी कंपनी के डिस्‍ट्रीब्‍यूटर नेटवर्क के भीतर ही पोर्टेबिलिटी की सुविधा उपलब्‍ध है, जहां ग्राहक एक डीलर से दूसरे डीलर के पास अपना कनेक्‍शन पोर्ट कर सकते हैं। लेकिन नई योजना के अमल में आ जाने के बाद कंपनियों के बीच भी पोर्टेबिलिटी शुरू हो जाएगी। तीसरे अधिकारी ने बताया कि तेल विपणन कंपनियों के बीच पोर्टेबिलिटी को आसान बनाने के लिए टेंडर जारी किया गया है। चालू वित्‍त वर्ष में इसके शुरू होने की संभावना है।

इससे पहले तेल विपणन कंपनियों ने बुधवार को बिना सब्सिडी वाले 14.2 किग्रा वाले रसोई गैस सिलेंडर की कीमत में 25 रुपये का इजाफा किया था। एक सितंबर से दिल्‍ली में एलपीजी रसोई गैस सिलेंडर की कीमत 884.50 रुपये हो गई है।

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री ने किया 125 रुपये का विशेष सिक्‍का जारी

यह भी पढ़ें: सोने को लेकर लगातार तीसरे दिन आई खुशखबरी

यह भी पढ़ें: Tesla जल्‍द लॉन्‍च करेगी भारत में अपनी ई-कार, चार मॉडल्‍स को पेश करने की मिली हरी झंडी

यह भी पढ़ें: रिकॉर्ड महंगे पेट्रोल-डीजल की बिक्री पर तेल कंपनियों ने दी ये जानकारी

यह भी पढ़ें: पाकिस्‍तान ने टीकाकरण के लिए बनाए अजीबो-गरीब नियम

यह भी पढ़ें: Kia ने भारत में नए फीचर्स के साथ लॉन्‍च किया Seltos का नया मॉडल

Write a comment
elections-2022