1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. मेरा पैसा
  5. Axis Bank में महंगा हुआ खाता मेंटेन करना, मिनिमम बैलेंस 50 प्रतिशत बढ़ा ATM से निकासी भी महंगी

Axis Bank में महंगा हुआ खाता मेंटेन करना, मिनिमम बैलेंस 50 प्रतिशत बढ़ा ATM से निकासी भी महंगी

Axis Bank के ग्राहकों को यह खबर परेशानी में डाल सकती है। अब ग्राहकों के लिए बैंक में अकाउंट मेंटेन करना बहुत महंगा हो गया है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: April 29, 2021 11:52 IST
Axis Bank में महंगा हुआ...- India TV Paisa
Photo:FILE

Axis Bank में महंगा हुआ खाता मेंटेन करना, मिनिमम बैलेंस 50 प्रतिशत बढ़ा ATM से निकासी भी महंगी 

नई दिल्ली। Axis Bank के ग्राहकों को यह खबर परेशानी में डाल सकती है। अब ग्राहकों के लिए बैंक में अकाउंट मेंटेन करना बहुत महंगा हो गया है। प्राइवेट सेक्टर के इस बैंक ने बचत खाते में मिनिमम बैलेंस की सीमा को 50 प्रतिशत तक बढ़ा दिया है। इसके साथ ही बैंक ने एटीएम पर सीमा से अधिक विड्रॉल करने पर अब अधिक फाइन भरना होगा। एक्सिस बैंक ने अपने सेविंग बैंक अकाउंट से जुड़े कई तरह के शुल्क में संशोधन किया है। बैंकों द्वारा विभिन्न शुल्कों में की गई यह वृद्धि एक मई से प्रभावी हो जाएगी।   

बैंक के नए नियम के अनुसार मेट्रो शहरों के जिन लोगों ने एक्सिस बैंक में इजी सेविंग स्कीम के तहत खाता खुला है, उनके लिए मिनिमम बैंक बैलेंस से जुड़ी अनिवार्यता को 10 हजार रुपये से बढ़ाकर 15 हजार रुपये कर दिया गया है। इसी तरह सेमी-अर्बन और ग्रामीण इलाके के प्राइम और लिबर्टी सेविंग अकाउंट्स ग्राहकों के लिए औसत मासिक बैलेंस की सीमा को 15000 रुपये से बढ़ाकर 25,000 रुपये कर दिया गया है। 

पढें-  खुशखबरी! हर साल खाते में आएंगे 1 लाख रुपये, मालामाल कर देगी ये स्कीम

पढें-  हिंदी समझती है ये वॉशिंग मशीन! आपकी आवाज पर खुद धो देगी कपड़े

कैश निकालना भी महंगा

एक्सिस बैंक के नए नियमों के अनुसार अब बैंक में जमा अपना पैसा निकालना भी महंगा हो गया है। अकाउंटहोल्डर को एक माह में चार बार या दो लाख रुपये तक (दोनों में जो पहले हो) की बिना किसी शुल्क के निकासी की सुविधा देता है। इससे सीमा से अधिक पैसे निकालने पर पांच रुपये प्रति 1000 रुपये पर या 150 रुपये (दोनों में से जो अधिक हो) का बैंक का शुल्क देय होता है। अब संशोधन के बाद तय सीमा से ज्यादा पैसे निकालने पर प्रति 10 रुपये प्रति 1000 रुपये पर या कुल 150 रुपये (दोनों में जो अधिक हो) का शुल्क देय होगा। 

पढें-  SBI में सिर्फ आधार की मदद से घर बैठे खोलें अकाउंट, ये रहा पूरा प्रोसेस

पढें-  Amazon के नए 'लोगो' में दिखाई दी हिटलर की झलक, हुई फजीहत तो किया बदलाव

पढें-  नया डेबिट कार्ड मिलते ही करें ये काम! नहीं तो हो जाएगा नुकसान

ये शुल्क घटे 

बैंक ने सिर्फ सेवाएं महंगी ही नहीं की हैं, कुछ सेवाएं सस्ती हो गई हैं। चेक के स्टॉप पेमेंट शुल्क को बैंक ने घटाकर आधा कर दिया है। इसके अलावा एड्रेस के सत्यापन के शुल्क, फोटो को अटेस्ट करने का शुल्क और सिग्नेचर वेरिफिकेशन फीस को भी आधा कर दिया गया है। बैंक ने डुप्लीकेट पासबुक फीस, ब्रांच से फिजिकल स्टेटमेंट के शुल्क में भी कमी की है। बैंक ने कहा है कि छह माह से ज्यादा पुराने सैलरी अकाउंट में अगर किसी कैलेंडर माह में किसी भी माध्यम से नकदी क्रेडिट नहीं होती है तो प्रति माह 100 रुपये के हिसाब से शुल्क देय होगा। 

Write a comment
X