1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. राजस्थान
  4. राजस्थान में सामने आए कोरोना वायरस के रिकार्ड 16438 नये मामले, 84 और मौतें

राजस्थान में सामने आए कोरोना वायरस के रिकार्ड 16438 नये मामले, 84 और मौतें

राजस्थान में सोमवार को कोरोना वायरस के रिकार्ड 16,438 नये मामले सामने आये जबकि 84 और मरीजों की मौत हो गई। राज्‍य में अभी 1,46, 640 मरीज उपाचाराधीन हैं। राज्‍य में इस घातक वायरस से अब तक संक्रमितों की संख्‍या बढ़कर 5,30,875 हो गई है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: April 26, 2021 19:20 IST
Rajasthan adds record 16438 COVID-19 cases, 84 deaths- India TV Hindi
Image Source : PTI राजस्थान में कोरोना वायरस के रिकार्ड 16,438 नये मामले सामने आये जबकि 84 और मरीजों की मौत हो गई।

जयपुर: राजस्थान में सोमवार को कोरोना वायरस के रिकार्ड 16,438 नये मामले सामने आये जबकि 84 और मरीजों की मौत हो गई। राज्‍य में अभी 1,46, 640 मरीज उपाचाराधीन हैं। राज्‍य में इस घातक वायरस से अब तक संक्रमितों की संख्‍या बढ़कर 5,30,875 हो गई है जबकि इस अब तक कुल 3685 मरीजों की जान जा चुकी है। चिकित्सा विभाग के अनुसार बीते 24 घंटे में जयपुर में 2878, जोधपुर में 1711, अलवर में 1621, उदयपुर में 668, कोटा में 955, सीकर में 778, पाली में 794, राजसमंद में 601, बीकानेर में 683, भीलवाड़ा में 701, बांसवाड़ा में 605 एवं अजमेर में 640 नये मरीज सामने आये। 

विभाग अनुसार राज्य में इस दौरान 6416 और मरीज ठीक हुए हैं। अब तक कुल 3,80,550 मरीज ठीक हो चुके हैं। बीते 24 घंटे में जयपुर में 11, जोधपुर में 15, उदयपुर में 13, बीकानेर में छह, कोटा में पांच, सीकर में चार, पाली, झालावाड़ में तीन-तीन, अजमेर, अलवर, बांसवाड़ा, भरतपुर, चित्‍तौड़गढ़, डूंगरपुर, नागौर, राजसमंद, में दो दो मरीजों की मौत हो गई है।

इस बीच राजस्‍थान सरकार ने राज्‍य भर में कोरोना का इलाज कर रहे सरकारी एवं निजी अस्‍पतालों में उपलब्‍ध बेड की जानकारी आनलाइन कर दी है। यह जानकारी ‘लाइव’ रहेगी। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने बताया कि सरकारी एवं निजी चिकित्सालयों में उपलब्ध बेड के संबंध में ऑनलाइन पोर्टल शुरू कर दिया गया है। 

इस ‘लाइव’ पोर्टल के माध्यम से राज्‍य के सभी अस्पतालों में उपलब्ध विभिन्न श्रेणी के बेड जैसे कि सामान्य बेड, ऑक्सीजन सुविधा वाले बेड तथा आईसीयू में वेंटिलेटर और वेंटिलेटर के बिना उपलब्ध बेड की जानकारी आसानी से मिल सकेगी । 

इस पोर्टल पर प्रत्येक अस्पताल के जिला स्तर पर प्रभारी तथा संबंधित जिले के प्रभारी और नियंत्रण कक्ष के फोन नंबर भी उपलब्ध कराए गए हैं ताकि किसी प्रकार की असुविधा की स्थिति में मरीज या उनके परिजनों द्वारा इन नंबरों पर संपर्क किया जा सके। शर्मा ने कहा कि इस सूचना के सामने आ जाने पर मरीजों व उनके परिजनों को बेड ढूंढने में आ रही समस्याओं का निराकरण सुचारू रूप से हो सकेगा।

ये भी पढ़ें

Click Mania