Wednesday, July 24, 2024
Advertisement

सियालदह स्टेशन पहुंची दुर्घटनाग्रस्त कंचनजंगा एक्सप्रेस, अबतक 9 लोगों की मौत; हादसे के बाद यात्रियों के मन में बैठा डर

वैसे तो इस रेल एक्सीडेंट के पीछे मालगाड़ी के ड्राइवर की लापरवाही को वजह बताया जा रहा है। रेल मंत्रालय ने एक्सीडेंट की जांच के लिए एक टीम बना दी है लेकिन इस मामले पर अब सियासत भी शुरू हो गई है।

Edited By: Khushbu Rawal @khushburawal2
Updated on: June 18, 2024 7:11 IST
kanchanjunga express train- India TV Hindi
Image Source : PTI ट्रेन से टकराई थी मालगाड़ी

पश्चिम बंगाल के फांसीदेवा में मालगाड़ी से टक्कर की शिकार हुई कंचनजंगा एक्सप्रेस सियालदह पहुंच चुकी है। वहीं, हादसे के 12 घंटे के भीतर दार्जिलिंग रूट पर रेलवे ट्रैक को रिस्टोर कर लिया गया है और रेल सेवा एक बार फिर बहाल कर दी गई है। हादसे के शिकार तीन डिब्बों को छोड़कर बाक़ी कंचनजंगा एक्सप्रेस देर रात सियालदह पहुंची जिसके बाद यात्रियों को बसों के जरिए उनके घर भेज दिया गया। वैसे तो इस रेल एक्सीडेंट के पीछे मालगाड़ी के ड्राइवर की लापरवाही को वजह बताया जा रहा है लेकिन रेल मंत्रालय ने एक्सीडेंट की जांच के लिए एक टीम बना दी है। रेलवे ने मृतकों के परिजनों को 10 लाख रुपये मुआवजे का ऐलान किया है। हादसे में अबतक 9 लोगों की मौत हुई है और 50 के करीब लोग घायल हुए हैं।

हादसे के बाद यात्रियों के मन में बैठा डर

सियालदह रेलवे स्टेशन पर पहुंची कंचनजंगा एक्सप्रेस ट्रेन में सवार एक यात्री ने बताया कि जब ट्रेन दुर्घटनाग्रस्त हुई तब वह एस-7 बोगी में थी। सुबह के समय सभी यात्री सो रहे थे। अचानक झटका लगने से सभी की नींद खुल गई। पता चला कि पीछे की बोगियों में दुर्घटना घटी है। हादसे के बाद से माता-पिता भी चिंतित हैं। मरम्मत कार्य होने के बाद ट्रेन सियालदह रवाना होने के बाद से उसे ट्रेन में दोबारा नींद नहीं आई, क्योंकि हादसे के बाद से मन में डर बैठा हुआ है।  

कांग्रेस, TMC ने रेल मंत्री को ठहराया जिम्मेदार

वैसे तो इस रेल एक्सीडेंट के पीछे मालगाड़ी के ड्राइवर की लापरवाही को वजह बताया जा रहा है। रेल मंत्रालय ने एक्सीडेंट की जांच के लिए एक टीम बना दी है लेकिन इस मामले पर अब सियासत भी शुरू हो गई है। कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने इस एक्सीडेंट के लिए सीधे-सीधे रेल मंत्री को जिम्मेदार ठहराया। राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि पिछले दस साल में मोदी सरकार ने रेलवे की अनदेखी की है। पैसेंजर्स की सेफ्टी के लिए कुछ नहीं किया। ये हादसा सरकार के मिसमैनेजमेंट के कारण ही हुआ है। मल्लिकार्जुन खरगे ने कहा कि मोदी सरकार ने रेलवे को सिर्फ फोटो खिंचवाने और प्रचार का माध्यम बना लिया है। अब पार्लियामेंट के अगले सेशन में कांग्रेस इस मुद्दे पर सरकार को घेरेगी।

ममता बनर्जी ने की घायलों से मुलाकात

हादसे की खबर मिलने के बाद ममता बनर्जी भी सिलिगुड़ी पहुंचीं। उन्होंने घायलों से मुलाक़ात की और पूरी मदद का भरोसा दिया। ममता बनर्जी ने भी इस एक्सीडेंट को लेकर नरेन्द्र मोदी की सरकार को घेरा। ममता ने कहा कि वो रेल मंत्री रह चुकी हैं इसीलिए उनको अच्छे से पता है कि रेलवे को कैसे चलाया जाता है। ममता ने आरोप लगाया कि रेल मंत्री ने रेलवे को अपने प्रचार का माध्यम बना लिया है, बस 4-6 वंदे भारत चलाकर बीजेपी वाहवाही लूटने में लगी है। ममता ने कहा कि बीजेपी को चुनाव से ही फ़ुरसत नहीं, इसी वजह से रेलवे अनदेखी की शिकार है और बार बार रेल एक्सीडेंट हो रहे हैं।

यह भी पढ़ें-

सुबह के 9 बज रहे थे, कंचनजंगा एक्सप्रेस खड़ी थी, मालगाड़ी के टक्कर मारते ही हवा में कई फीट उछलीं बोगियां

Video: कागज की तरह मुड़ गया ट्रेन का डब्बा, मालगाड़ी भी बेपटरी, हादसे के बाद डरावना था मंजर

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें पश्चिम बंगाल सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement