1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. पाकिस्तान में शिया समुदाय के धार्मिक जुलूस को निशाना बनाकर किया गया विस्फोट, 3 मरे, कई घायल

पाकिस्तान में शिया समुदाय के धार्मिक जुलूस को निशाना बनाकर किया गया विस्फोट, 3 मरे, कई घायल

पाकिस्तान में गुरुवार को शिया मुसलमानों के धार्मिक जुलूस को निशाना बनाकर किए गए शक्तिशाली विस्फोट में कम से कम तीन लोगों की मौत हुो गई और 50 से अधिक लोग घायल हो गए। प्रत्यक्षदर्शियों ने यह जानकारी दी। पूर्वी पंजाब प्रांत के रूढ़िवादी शहर बहावलनगर में यह विस्फोट हुआ।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: August 21, 2021 9:35 IST
पाकिस्तान में शिया समुदाय के धार्मिक जुलूस को निशाना बनाकर किया गया विस्फोट, 3 मरे, कई धायल- India TV Hindi
Image Source : AP/FILE PHOTO पाकिस्तान में गुरुवार को शिया मुसलमानों के धार्मिक जुलूस को निशाना बनाकर किए गए शक्तिशाली विस्फोट में कम से कम तीन लोगों की मौत हुो गई और 50 से अधिक लोग घायल हो गए। प्रत्यक्षदर्शियों ने यह जानकारी दी। पूर्वी पंजाब प्रांत के रूढ़िवादी शहर बहावलनगर में यह विस्फोट हुआ।

मुल्तान (पाकिस्तान): पाकिस्तान में शिया समुदाय के धार्मिक जुलूस को निशाना बनाकर विस्फोट की खबर आ रही है। विस्फोट में 3 लोगों के मरने की भी खबर है जबकि 50 से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं। पाकिस्तान में गुरुवार को शिया मुसलमानों के धार्मिक जुलूस को निशाना बनाकर किए गए शक्तिशाली विस्फोट में कम से कम तीन लोगों की मौत हुो गई और 50 से अधिक लोग घायल हो गए। प्रत्यक्षदर्शियों ने यह जानकारी दी।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पूर्वी पंजाब प्रांत के रूढ़िवादी शहर बहावलनगर में यह विस्फोट हुआ। सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में पुलिस और एंबुलेंस घटनास्थल की ओर जाते हुए दिखाई दे रहे हैं। वीडियो में घटनास्थल पर घायल अनेक लोग मदद का इंतजार करते दिख रहे हैं। एक शिया नेता खावर शफकत ने एक बयान में बम विस्फोट की पुष्टि की, लेकिन कोई और जानकारी नहीं दी। इस बीच, अधिकारियों ने अशौरा उत्सव से एक दिन पहले देश भर में मोबाइल फोन सेवा को निलंबित कर दिया है। 

शहर के पुलिस अधिकारी मोहम्मद असद और शिया नेता खावर शफाकत ने बम धमाके की पुष्टि कर दी है। प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि शहर में धमाके के बाद तनाव बढ़ गया है। शिया समुदाय ने हमले का विरोध किया है और प्रतिशोध की मांग की है। शफकत ने कहा कि यह विस्फोट उस समय हुआ जब जुलूस मुहाजिर कॉलोनी नामक भीड़भाड़ वाले इलाके से गुजर रहा था। उन्होंने इस हमले की निंदा करते हुए सरकार से देश के अन्य हिस्सों में निकाले जा रहे मोहर्रम के जुलूसों की सुरक्षा बढ़ाने का आग्रह किया है। देश के अन्य हिस्सों में भी इस तरह के जुलूस हो रहे हैं।

इस बीच, अधिकारियों ने आशूरा (10 मोहर्रम) से एक दिन पहले देश भर में मोबाइल फोन सेवा को निलंबित कर दिया है। मोहर्रम इस्लामी कैलेंडर का पहला महीना है जिसकी 10 तारीख को आशूरा कहा जाता है, क्योंकि सातवीं शताब्दी में पैगंबर मोहम्मद के नवासे हजरत इमाम हुसैन को इसी दिन शहीद किया गया था जिसकी याद में यह मनाया जाता है। गौरतलब है कि सुन्नी बहुल पाकिस्तान में शिया अल्पसंख्यक हैं। 

 

Click Mania
Modi Us Visit 2021