Sunday, May 19, 2024
Advertisement

हॉर्मुज जलडमरूमध्य के पास जिस इजरायली जहाज को ईरान ने किया है जब्त, उसमें 17 भारतीय होने पर विदेश मंत्रालय ने उठाया ये कदम

ईरान ने 13 अप्रैल को यानि एक दिन पहले जिस इजरायली जहाज को हॉर्मुज जलडमरूमध्य के पास हमला करके अपने कब्जे में लिया है, उसमें 17 भारतीय सवार भी हैं। ऐसे में विदेश मंत्रालय ने ईरानी अधिकारियों से संपर्क साध कर भारतीयों की रिहाई का प्रयास तेज कर दिया है।

Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Updated on: April 14, 2024 13:01 IST
ईरान द्वारा जब्त की गई इजरायली जहाज।- India TV Hindi
Image Source : AP ईरान द्वारा जब्त की गई इजरायली जहाज।

ईरान ने 13 अप्रैल को हॉर्मुज जलडमरूमध्य के निकट जब्त किया था, उसमें 17 भारतीय लोग भी सवार थे। यह सूचना सामने आने के बाद भारतीय विदेश मंत्रालय ने भारतीयों की रिहाई के लिए ईरान से संपर्क साधा है। बता दें कि यह जहाज एक इजराइली अरबपति कारोबारी के आंशिक स्वामित्व वाली कंपनी से संबद्ध मालवाहक जहाज था, जिस पर सवार 17 भारतीय नागरिकों सवार थे। अब उनको मुक्त कराने के लिए भारत ईरान के संपर्क में है। ईरान और इजरायल के बीच तनाव बढ़ने की पृष्ठभूमि में यह घटनाक्रम हुआ है। आज तड़के ईरान ने इजरायल पर 300 से अधिक ड्रोन और मिसाइलों से हमला भी कर दिया है। 

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि भारत ने अपने नागरिकों की सलामती और उन्हें शीघ्र मुक्त कराने को सुनिश्चित करने के लिए राजनयिक माध्यमों से तेहरान और नई दिल्ली दोनों स्थानों पर ईरानी अधिकारियों के समक्ष यह विषय उठाया है। सीरिया में 12 दिन पहले ईरानी वाणिज्य दूतावास पर हुए हमले के जवाब में इजरायली क्षेत्र पर ईरान के हमला करने की आशंका बढ़ने के बीच यह घटना हुई। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि भारत ने मालवाहक जहाज 'एमएससी एरीज' के चालक दल के 17 भारतीय सदस्यों की सलामती और शीघ्र रिहाई को सुनिश्चित करने के लिए तेहरान और दिल्ली दोनों में राजनयिक माध्यम से ईरानी अधिकारियों से संपर्क किया है।

विदेश मंत्रालय ने कहा-भारतीयों की सुरक्षा के लिए हम प्रतिबद्ध

भारत सरकार के एक सूत्र ने कहा, ‘‘हम जानते हैं कि मालवाहक जहाज ‘एमएससी एरीज’ को ईरान ने अपने कब्जे में ले लिया है। हमें पता चला है कि जहाज पर 17 भारतीय नागरिक सवार हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम भारतीय नागरिकों की सुरक्षा, कुशलता और उन्हें शीघ्र मुक्त कराना सुनिश्चित करने के लिए तेहरान और दिल्ली, दोनों जगहों पर राजनयिक माध्यमों से ईरानी अधिकारियों के संपर्क में हैं।’’ एमएससी (मेडिटेरेनियन शिपिंग कंपनी) ने कहा कि वह चालक दल के 25 सदस्यों की सलामती और जहाज की वापसी के लिए संबंधित अधिकारियों के साथ मिलकर काम कर रही है।

अमेरिकी राष्ट्रपति भवन व्हाइट हाउस की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के प्रवक्ता एड्रिएन वॉटसन ने कहा कि जहाज के चालक दल में भारतीय, फिलीपीन, पाकिस्तानी, रूसी और एस्टोनियाई नागरिक शामिल हैं। ईरान की समाचार एजेंसी आईआरएनए की खबर के अनुसार, पुर्तगाल के ध्वज वाले जहाज का संचालन जोडियाक मेरीटाइम शिपिंग कंपनी कर रही है, जिसका आंशिक स्वामित्व इजरायली कारोबारी इयाल ओफर के पास है।(भाषा) 

यह भी पढ़ें

इजरायल-ईरान में भीषण जंग छिड़ने की आशंका पर UN का बड़ा बयान, कहा-"दुनिया अब एक और युद्ध बर्दाश्त नहीं कर सकती"

तीसरे विश्वयुद्ध की बज गई घंटी, ईरान के साथ यमन, सीरिया और इराक के हमदर्दों ने भी किया इजरायल पर हमला

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement