Sunday, March 03, 2024
Advertisement

पाकिस्तान ने हमास को दी हवा, 'कश्मीर कश्मीर' चिल्लाया यह आतंकी संगठन, फिलिस्तीन से की तुलना

गाजा में ​हमास के ठिकानों पर हमले जारी हैं। गाजा के निर्दोष नागरिकों को अपने हाल पर हमास ने छोड़ दिया है। इसी बीच हमास ने पाकिस्तान की शह पर कश्मीर राग अलापा है। साथ ही कश्मीर की तुलना फिलिस्तीन से करने की हिमाकत कर डाली।

Deepak Vyas Written By: Deepak Vyas @deepakvyas9826
Updated on: November 06, 2023 13:48 IST
गाजा में हमास के ठिकानों पर हमले जारी हैं।- India TV Hindi
Image Source : PTI गाजा में हमास के ठिकानों पर हमले जारी हैं।

Pakistan Hamas News: इजराइल और हमास की जंग जारी है। 7 अक्टूबर को हमास ने इजराइल पर हमला किया। इस पर इजराइल लगातार पलटवार कर रहा है। हमास ने पूरी गाजा पट्टी को ही जंग में झोंक डाला। इसी बीच भारत के दुश्मन पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान ने इस मामले पर हमास को 'हवा' दी, जिससे हमास भी कश्मीर राग अलापा है। हमास के एक बड़े आतंकी ने पाकिस्तानी राजनेता से मुलाकात की और पाकिस्तान की शह पर कश्मीर की तुलना फिलिस्तीन के वर्तमान हालात से कर डाली है। इसी हमास ने अपने स्वार्थों के लिए गाजा के निर्दोष नागरिकों की जान की भी परवाह नहीं ​की है।

गाजा में आज हालाते बेहद खराब हैं। बिजली, पानी की किल्लत के बाद अस्पताल में कोई बेड खाली नहीं बचा है। गाजा की यह हालत 7 अक्टूबर को हमास के इजरायल पर किए गए आत्मघाती हमलों के बाद हुई है। हमास ने अपने लड़ाकों के लिए गाजा की सुरंगों में लंबी तैयारी कर रखी है, लेकिन उसने आम लोगों को उनके हालात पर छोड़ दिया है। हमास ने खुद कई बार सार्वजनिक तौर पर कहा है कि वह गाजा के लोगों के प्रति जिम्मेदार नहीं हैं।

पाकिस्तान खुलेआम कर रहा हमास का समर्थन

आतंकी संगठन हमास के इजराइल पर किए गए आतंकी हमले का पाकिस्तान समर्थन कर रहा है। अब इसी समर्थन को और ज्यादा मजबूत करने के लिए पाकिस्तान के कट्टरपंथी राजनेता मौलाना फजलुर रहमान ने रविवार को कतर में हमास के सर्वोच्च नेता इस्माइल हानिया और पूर्व प्रमुख खालिद मशाल से मुलाकात की। फजलुर रहमान को मौलाना डीजल के नाम से भी जाना जाता है। वह जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम-फजल (जेयूआई-एफ) का प्रमुख है।

पाकिस्तान में लगातार निकल रहीं फिलिस्तीन के पक्ष में रैलियां

पाकिस्तानी राजनेता फजलुर रहमान गाजा के प्रति समर्थन दिखाने और पाकिस्तान में खुद को फिलिस्तीन का सबसे बड़ा हिमायती बताने के लिए कतर पहुंचे हैं। इसका फायदा उन्हें आगामी चुनावों में मिल सकता है। पाकिस्तान में फिलिस्तीन के पक्ष में लगातार रैलियां निकाली जा रही हैं। ऐसे में मौलाना फजलुर रहमान अरब देशों के नेताओं के साथ मिलकर गाजा पर माहौल बनाने की कोशिश में है।

क्या कहा हमास के नेता ने?

हमास के नेता और पाकिस्तानी राजनेता की इस मुलाकात के बारे में जेयूआई-एफ के प्रवक्ता असलम गौरी ने बताया कि दोनों पक्षों में फिलिस्तीन के मसले पर चर्चा हुई। बैठक के दौरान हानिया ने मुस्लिमों से इजराइली आक्रामकता के खिलज्ञफ एकजुटता की अपील की। इसमें 7 अक्टूबर से लगभग 10 हजार फिलिस्तीनियों की मौत का दावा किया गया है। इस बीच हमास के नंबर दो नेता खालिस मशाल ने कश्मीर राग भी अलापा। उसने कश्मीर की तुलना फिलिस्तीन से कर दी। मशाल ने कहा, 'कश्मीर और फिलिस्तीन में जारी अत्याचार मानवाधिकार अधिवक्ताओं के चेहरे पर एक तमाचा है।'

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement