Russia Cremia: यूक्रेन जंग के बीच रूस के कब्जे वाले 'क्रीमिया' पर टिकीं दुनिया की निगाहें, रहस्यमयी भंडारण स्थल पर भीषण विस्फोट के बाद लगी आग

Russia Cremia: यूक्रेन के राष्ट्रपति के सलाहकर मिखाइलो पोदोल्याक ने गूढ़ शब्दों में ट्वीट किया, ‘रूसी कब्जे वाला क्रीमिया विस्फोटों का गोदाम बन गया है और यहां आक्रमणकारियों और चोरों की मौत का खतरा बेहद बढ़ गया है।’ रूसी मीडिया के अनुसार, क्रीमिया में झानकोई प्रांत के मेयसकोये गांव में आग लगी थी।

Shilpa Edited By: Shilpa
Updated on: August 16, 2022 18:28 IST
Explosion in Russian Occupied Crimea- India TV Hindi News
Image Source : AP Explosion in Russian Occupied Crimea

Highlights

  • रूस के कब्जे वाले क्रीमिया में हुए धमाके
  • कब्जे वाले क्रीमिया को अपना बताता है रूस
  • इसपर दोबारा नियंत्रण करना चाहता है यूक्रेन

Russia Cremia: यूक्रेन पर रूस के आक्रमण के बीच दुनिया की निगाहें अब रूसी कब्जे वाले क्रीमियाई प्रायद्वीप पर टिक गई हैं, जहां गोला-बारूद के एक रहस्यमयी भंडारण स्थल पर आग लगने और विस्फोट होने से दो लोग झुलस गए। क्रीमिया में एक सप्ताह में इस तरह की यह दूसरी घटना है। स्थानीय गवर्नर ने बताया कि आसपास के इलाकों से करीब 2,000 लोगों को निकाला गया है। सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए आग लगने और विस्फोट होने के वीडियो में धुएं का गुबार उठते हुए देखा जा रहा है और पीछे से कई धमाके होने की आवाज सुनी जा सकती है। यूक्रेन के राष्ट्रपति के सलाहकर मिखाइलो पोदोल्याक ने गूढ़ शब्दों में ट्वीट किया, ‘रूसी कब्जे वाला क्रीमिया विस्फोटों का गोदाम बन गया है और यहां आक्रमणकारियों और चोरों की मौत का खतरा बेहद बढ़ गया है।’

रूसी मीडिया में आई खबरों के अनुसार, क्रीमिया में झानकोई प्रांत के मेयसकोये गांव में मंगलवार तड़के आग लगी और धमाके हुए। पोदोल्याक ने 2014 में क्रीमिया पर रूस के कब्जे से पहले के वक्त का जिक्र करते हुए कहा, ‘झानकोई के समीप सुबह लोगों की आंखें धमाकों के साथ खुलीं। याद दिलाया जाए : एक आम से देश का क्रीमिया काला सागर, पर्वतों, मनोरंजन और पर्यटन वाला है।’

गोला बारूद वाले स्थल पर आग

रूस के रक्षा मंत्रालय ने बताया कि ‘सेना की एक इकाई के गोला बारूद के अस्थायी भंडारण स्थल’ पर आग लगी। उसने बताया, ‘आग लगने के कारण वहां रखे गोला-बारूद में धमाके हुए।’ अभी आग लगने की वजह का पता नहीं चला है। झानकोई प्रांत क्रीमियाई प्रायद्वीप के उत्तर में स्थित है और दक्षिणी यूक्रेन के रूस के कब्जे वाले खेरसोन प्रांत से करीब 50 किलोमीटर दूर है। कीव ने इस क्षेत्र में हाल के महीनों में हमले तेज कर दिए हैं और वह वहां रूसी सेना और गोला-बारूद के गोदामों को निशाना बना रहा है।

रूस द्वारा क्रीमिया के लिए नियुक्त गवर्नर सर्गेइ अक्सियोनोव ने कहा कि दो लोगों को चोटें आई हैं और धमाके जारी रहने के कारण इलाके से स्थानीय निवासियों को निकाला जा रहा है। उन्होंने बताया कि घटनास्थल के समीप कुछ रिहायशी इमारतें क्षतिग्रस्त हुई हैं और आसपास के इलाकों से करीब 2,000 लोगों को निकाला गया है। रूसी मीडिया के अनुसार मेयसकोये से गुजरने वाली रेल की पटरियों को भी नुकसान पहुंचा है। यूक्रेन के अधिकारियों ने अभी धमाकों की सार्वजनिक रूप से जिम्मेदारी नहीं ली है।

दोनों देशों के लिए अहम है प्रायद्वीप

क्रीमिया प्रायद्वीप का दोनों देशों के लिए सामरिक और सांकेतिक महत्व है। क्रेमलिन ने युद्ध को खत्म करने की अहम शर्तों में से एक यह मांग रखी है कि यूक्रेन क्रीमिया को रूस के हिस्से के तौर पर मान्यता दे दे जबकि यूक्रेन ने रूसियों को क्रीमिया प्रायद्वीप और अन्य सभी कब्जे वाले क्षेत्रों से खदेड़ने का आह्वान किया है। 

गौरतलब है कि पिछले सप्ताह क्रीमिया के नोवोफ्योदोरोव्का गांव के समीप साकी वायु सेना अड्डे पर कई धमाके हुए थे। रूसी सेना ने इस घटना के लिए युद्ध सामग्री के आकस्मिक विस्फोट को जिम्मेदार ठहराया है लेकिन यह घटना यूक्रेन के हमले का परिणाम लगती है। कीव ने दावा किया कि धमाकों में रूस के नौ विमान बर्बाद हो गए हैं।

Latest World News

navratri-2022