1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. हेल्थ
  4. घर पर बनाएं ये खास आयुर्वेदिक काढ़ा, सर्दी-जुकाम के साथ गले की खराश से मिलेगी निजात

घर पर बनाएं ये खास आयुर्वेदिक काढ़ा, सर्दी-जुकाम के साथ गले की खराश से मिलेगी निजात

हर किसी को अपने इम्यून सिस्टम को मजबूत करना काफी जरूरी है। इम्यूनिटी बढ़ाने के आयुर्वेदिक उपाय काफी कारगर हो सकते हैं। इस काढ़े से सर्दी-जुकाम से भी राहत मिलेगी।

India TV Health Desk India TV Health Desk
Published on: October 18, 2021 11:18 IST
Homemade kadha recipe- India TV Hindi
Image Source : FREEPIK.COM Homemade kadha recipe

बदलते मौसम के कारण अधिकतर लोगों को सर्दी-जुकाम, गले में खराश की समस्या का सामना करना पड़ता हैं। ऐसे में जरा सी लापरवाही तुरंत ही सर्दी-जुकाम का कारण बन जाती है जो कई दिनों तक आपको परेशान कर सकती हैं। 

आमतौर पर सर्दी-जुकाम होने पर डॉक्टर के पास जाने के बजाय घर पर रहकर इसका इलाज करना जरूरी समझते हैं। इस दौरान तरह-तरह के उपायों के साथ ही आयुर्वेदिक काढ़े का सेवन करना आपके लिए एक बेहतर विकल्प हो सकता है। ये सर्दी-जुकाम को ठीक करने के साथ ही इम्यूनिटी मजबूत बनाने में भी मदद करता है। जानिए स्वामी रामदेव से किस आयुर्वेदिक काढ़ा से सर्दी-जुकाम की समस्या से निजात पा सकते हैं।

सर्दियों में हार्ट अटैक का खतरा अधिक, स्वामी रामदेव से जानिए कैसे रखें दिल का ख्याल?

आयुर्वेदिक काढ़ा बनाने के लिए सामग्री

  1. 2 कप पानी
  2. आधा टुकड़ा अदरक
  3. 4 काली मिर्च
  4. 2 लौंग
  5. 4-5 तुलसी के पत्ते
  6. 1 छोटी इलायची
  7. स्वाद के लिए गुड़ या शहद 

घर पर बना ये आयुर्वेदिक तेल दिलाएंगा जोड़ों के हर दर्द से छुटकारा, जानिए इसे बनाने का सही तरीका

ऐसे बनाएं काढ़ा

सबसे पहले एक पैन में 2 कप पानी डालकर उबाल लें। उबाल आने के बाद इसमें तुलसी, लौंग, छोटी इलायची, अदरक का टुकड़ा कूटकर डाल दें। इसके बाद काली मिर्च दरदरी करके डाल दें। इसके बाद थोड़ा सा गुड़ डाल लें। अब इसे धीमी आंच में उबलने दें। जब पानी आधा बचे तो गैस बंद करके छानकर गर्मा-गर्म पिएं। इस काढ़ा का सेवन दिन में 2 बार करें। 

नोट- स्वामी रामदेव के अनुसार किसी भी दवा या फिर आयुर्वेदिक काढ़ा का सेवन एक नियमित मात्रा में करना चाहिए। वरना आने वाले समय में यह फायदा की जगह आपकी सेहत के लिए नुकसानदेय हो सकता है। अत्यधिक काढ़ा का सेवन करने से शरीर में कई समस्याएं पैदा हो जाती हैं। क्योंकि काढ़े में डाले जाने वाले मसालों की तासीर बहुत गर्म होती है। ऐसे में अधिक मात्रा में इसक सेवन करने से आपको पेट में जलन जैसी समस्या हो सकती है। इसलिए कम मात्रा में काढ़ा का सेवन करें तो बेहतर है। 

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सुझाव केवल सामान्य जानकारी के उद्देश्य से हैं और इसे पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी फिटनेस व्यवस्था या चिकित्सकीय सलाह शुरू करने से पहले कृपया डॉक्टर से सलाह लें। 

bigg boss 15