1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. हेल्थ
  4. प्राइवेट लैब में भी होगा कोरोना वायरस का टेस्ट , जानें फीस सहित हर एक बात

प्राइवेट लैब में भी होगा कोरोना वायरस का टेस्ट , जानें फीस सहित हर एक बात

आईसीएमआर ने प्राइवेट लैब को भी कोरोना वायरस की जांच करने की मंजूरी दे दी गई है। इसके साथ ही डॉक्टर रमन ने कहा कि हमने 22 लैब को मंजूरी दे दी है।

India TV Lifestyle Desk India TV Lifestyle Desk
Updated on: March 25, 2020 17:05 IST
Coronavirus private lab- India TV Hindi
Image Source : AP Coronavirus private lab

भारत में कोरोना वायरस के लगातार मामले बढ़ते जा रहे है। भारत में संक्रमित लोगों को पता लगाने में  काफी कम टेस्ट कर रही है। जिसके कारण इसके लगातार बढ़ने की उम्मीद बढ़ रही है। इस बात को खारिज करते हुए  भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद यानी आईसीएमआर के डायरेक्टर जनरल बलराम भार्गव कह चुके हैं कि देश में पर्याप्त टेस्टिंग हो रही है और भारत हर दिन 10 हजार टेस्ट करने में सक्षम है। पिछले पांच दिनों में सरकारी प्रयोगशालाओं द्वारा रोजाना औसतन 1,338 नमूनों की जांच की गई है। 

आईसीएमआर ने प्राइवेट लैब को भी कोरोना वायरस की जांच करने की मंजूरी दे दी गई है। इसके साथ ही डॉक्टर रमन ने कहा कि हमने 22 लैब को मंजूरी देदी है। इन लैब्स के देशभर में करीब 15 हजार कलेक्शन सेंटर है। इसके साथ ही आईसीएमआर ने लोगों से अपील की है कि वो बिना डॉक्टर की सलाह के कोरोना वायरस का टेस्ट न कराएं। 

कैसे करा सकते है प्राइवेट लैब में टेस्ट

डॉ लाल पैथ लैब्स के मैनेजिंग डायरेक्टर अरविंद लाल ने पीटीआई से बात करते हुए बताया, 'लाल पैथ लैब्स में कोविड-19 की टेस्टिंग का काम शुरू कर दिया गया है। इस टेस्ट की कीमत 4500 रुपये होगी। जिसमें स्क्रीनिंग और कंफर्मेशन टेस्ट शामिल है। टेस्ट कराने के लिए डॉक्टर का प्रिस्क्रिप्शन और फॉर्म 44 (जो वो देंगे) और पहचान पत्र की जरूरत होगी।" 

आईसीएमआर ने प्राइवेट लैब्स के लिए टेस्टिंग की जो गाइडलाइन्स जारी की हैं। इसके मुताबिक प्राइवेट लैब्स कोरोना की जांच के लिए 4500 रुपये से ज्यादा नहीं ले सकतीं। कोरोना से संक्रमित संदिग्ध मामलों में प्राइवेट लैब स्क्रीनिंग टेस्ट के लिए अधिकतम 1,500 रुपये ले सकते हैं और कंफर्मेशन टेस्ट के लिए अतिरिक्त 3,000 रुपये लेने की इजाजत दी गई है। आईसीएमआर ने निजी लैब से अपील भी की है कि हो सके तो वो मुफ्त में या सब्सिडी पर कोरोना का टेस्ट करें।

कोरोना वायरस पर प्रियंका चोपड़ा ने WHO के डायरेक्टर से पूछे कुछ सवाल, इनके जवाब कर देंगे आपका हर कंफ्यूजन दूर

कौन करा सकता है टेस्ट
नई गाइडलाइन्स के अनुसार अगर आपको बुखार, खांसी या सांस लेने में समस्या हो रही है तो पास के ही स्वास्थ्य केंद्र जाए। जिसके बाद डॉक्टर निर्णय लेगा कि आपको कोरोना वायरस का टेस्ट कराने की जरुरत है कि नहीं।

क्या-क्या चाहिए डाक्यूमेंट
अगर डॉक्टर लिख देते हैं कि आपको कोरोना वायरस टेस्ट कराना है तो अगर आप प्राइवेट लैब जा रहे है तो इन दस्तावेजों का होना जरूरी है। 

  • फॉर्म 44 (कोविड-19), जिसे डॉक्टर ने पूरा भरा हो और हस्ताक्षर और स्टैम्प लगाया हो। 
  • रेफर करने वाले डॉक्टर का प्रिस्क्रिप्शन 
  • सैम्पल लिए जाने के वक्त संभावित मरीज का सरकारी पहचान पत्र (आधार कार्ड/वोटर आईडी/पासपोर्ट)
  • फोन नंबर 

क्या सरसों का तेल लगाने या चाय पीने से खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस? जानें इसकी सच्चाई

कैसे कर सकते है टेस्ट की बुकिंग?
सरकार द्वारा जिन लैब को मंजूरी दी गई है उन लैब की वेबसाइट में जाकर खुद को रजिस्टर करें। इसके बाद आप कॉल करके कस्टमर केयर से बात कर सकते है। आप अपना स्लॉट बुक करें। इसके बाद कस्टमर केयर फॉर्म 44 और प्रिस्क्रिप्शन की  जांच करने के बाद लैब वाले सैंपल पिकअप को री-कंफर्म करेंगे। इसके बाद सैंपल आपके घर से ही ले जाएंगे।  

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। प्राइवेट लैब में भी होगा कोरोना वायरस का टेस्ट , जानें फीस सहित हर एक बात News in Hindi के लिए क्लिक करें हेल्थ सेक्‍शन
Write a comment
X