1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. हेल्थ
  4. कोरोना से रिकवरी के बाद शरीर, हड्डी और जोड़ों में दर्द? स्वामी रामदेव से जानिए यौगिक और आयुर्वेदिक उपाय

कोरोना से रिकवरी के बाद शरीर, हड्डी और जोड़ों में दर्द? स्वामी रामदेव से जानिए यौगिक और आयुर्वेदिक उपाय

स्वामी रामदेव ने उन तमाम यौगिक और आयुर्वेदिक उपायों को बताया है, जो अर्थराइटिस, ज्वॉइंट पेन की पुरानी परेशानी से भी निजात दिलाएगा।

India TV Lifestyle Desk India TV Lifestyle Desk
Updated on: May 22, 2021 10:01 IST
yoga for post covid patients COVID-19 Long-term effects swami ramdev shares tips for body bone and j- India TV Hindi
Image Source : WWW.PEXELS.COM कोरोना से रिकवरी के बाद शरीर, हड्डी और जोड़ों में दर्द? स्वामी रामदेव से जानिए यौगिक और आयुर्वेदिक उपाय 

किसी भी वायरस या पैरासाइट के लिए कहा जाता है कि वो जिस शरीर में एंट्री करता है, उसे मारता नहीं है, बल्कि उसी से भोजन लेकर जिंदा रहता है, लेकिन कोरोना एक ऐसा वायरस है, जो कमजोर इम्युनिटी वालों के शरीर में अपना घर बना लेता है और फिर उन्हें बीमार तो करता ही है, ठीक हो जाने के बाद भी अलग-अलग तरह से परेशान करता है। कोरोना का मायाजाल समझ से परे है। रिकवरी के बाद किसी को हाई बीपी, शुगर की परेशानी है तो किसी को ब्लड क्लॉटिंग, हार्ट अटैक या ब्रेन स्ट्रोक। शरीर का कोई ऐसा अंग नहीं बचता, जिस पर वायरस ने अपना असर ना छोड़ा हो। फिर चाहे वो मसल्स हो, हड्डियां हो या फिर ज्वॉइंट्स। कोरोना से रिकवरी के बाद लोग सबसे ज्यादा कमजोरी और बदन दर्द की शिकायत कर रहे हैं। कोविड शरीर को जिस तरह से अपनी गिरफ्त में लेता है, वो वजह है- इलाज के दौरान लंबे वक्त तक स्टेरॉयड लेना, जिसका साइड इफेक्ट हड्डियों पर दिखाई देता है। हड्डियां कमजोर हो जाती हैं और उनमें दर्द बना रहता है। 

इतना ही नहीं, इंफेक्शन की वजह से ज्वॉइंट्स में भी दर्द होता है। वहीं, वायरस मसल्स फाइबर को भी डैमेज करता है, उसे कमजोर करता है, जिसकी वजह से पूरे शरीर में दर्द होता है। अर्थराइटिस, ज्वॉइंट पेन ऐसी ही ओल्ड एज बीमारी है। ज्यादातर बुजुर्ग इससे परेशान रहते हैं और ऊपर से जिनकी इम्युनिटी कमजोर होती है, जिनमें प्रोटीन, विटामिन डी और कैल्शियम की कमी होती है, उनकी भी बॉडी, बोन्स और ज्वॉइंट्स में दर्द होता है और परेशानी रहती है। कोरोना इन परेशानियों को और बढ़ा देता है। 

ब्लैक फंगस के बाद व्हाइट फंगस का खतरा अधिक, स्वामी रामदेव से जानें बचने का उपाय

स्वामी रामदेव ने उन तमाम यौगिक और आयुर्वेदिक उपायों को बताया है, जो कोरोना वायरस के असर को खत्म करेगा ही। साथ ही अर्थराइटिस, ज्वॉइंट पेन की पुरानी परेशानी से भी निजात दिलाएगा।

रोजाना करें ये योगाभ्यास:

  1. भुजंगासन
  2. सर्वांगासन
  3. योग मुद्रासन
  4. शशकासन
  5. गोमुखासन
  6. उत्तानपादासन
  7. पवनमुक्तासन
  8. नौकासन
  9. सेतुबंधासन
  10. मंडूकासन

सूक्ष्म व्यायाम के फायदे:

  • बॉडी को एक्टिव करता है। 
  • शरीर पूरा दिन चुस्त रहता है।
  • शरीर में थकान नहीं होती।
  • कई तरह के दर्द से राहत।
  • ऊर्जा का संचार करता है।

चक्की आसन के फायदे:

  • शरीर लचीला होता है। 
  • वजन घटता है।
  • लंबाई बढ़ती है।
  • मन शांत होता है।

भुजंगासन

  • दिल के मरीजों के लिए फायदेमंद है।
  • मजबूत लंग्स से सर्दी की बीमारी नहीं होती है।
  • पेट से जुड़े रोगों में कारगर है।
  • मोटापा कम करने में मदद करता है।
  • फेफड़े, कंधे और सीने को स्ट्रेच करता है। 
  • रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है।
  • आसन से लंग्स मजबूत होते हैं। 

शलभासन

  • फेफड़े सक्रिय होते हैं
  • तंत्रिका तंत्र को मजबूत बनाता है
  • खून को साफ करता है
  • शरीर को मजबूत और लचीला बनाता है
  • हाथों और कंधों की मज़बूती बढ़ाता है

मर्कटासन

  • रीढ़ की हड्डी लचीली बनती है
  • पीठ का दर्द दूर हो जाता है
  • फेफड़ों के लिए फायदेमंद 
  • पेट संबंधी समस्या दूर होती है
  • एकाग्रता बढ़ती है 
  • गुर्दे, अग्नाशय, लीवर सक्रिय होते हैं

उष्ट्रासन

  • किडनी को स्वस्थ बनाता है
  • मोटापा दूर करने में सहायक
  • शरीर का पोश्चर सुधरता है
  • पाचन प्रणाली को ठीक होती है
  • टखने के दर्द को दूर भगाता है
  • कंधों और पीठ को मजबूत करता है
  • पीठ दर्द में बेहद लाभकारी 
  • फेफड़ों को स्वस्थ बनाने में मददगार

मंडूकासन

  • डायबिटीज को करे कंट्रोल
  • पेट और हृदय के लिए भी लाभकारी
  • कंसंट्रेशन की क्षमता बढ़ती है
  • पाचन तंत्र सही करने में सहायक
  • लीवर, किडनी को स्वस्थ रखता है
  • वजन घटाने में मदद करता है
  • पैन्क्रियाज से इंसुलिन रिलीज करता है
  • डायबिटीज को रोकने में सहायक
  • गैस और कब्ज की समस्या दूर होती है 

गोमुखासन के फायदे:

  • डायबिटीज कंट्रोल होती है। 
  • फेफड़ों की कार्यक्षमता बढ़ती है। 
  • रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है। 
  • लिवर और किडनी के रोग दूर होते हैं। 

थकान और कमजोरी के लिए करें ये उपाय:

  • आंवला, एलोवेरा, व्हीटग्रास, गिलोय और तुलसी लें। 
  • बादाम, अखरोट, मुनक्का, अंजीर और खजूर- दूध में मिलाकर रोजाना पीने से ताकत मिलती है। 
  • तिल, नारियल, सोया, बादाम, अखरोट फायदेमंद। 
  • सुबह-सुबह जड़ी-बूटियों का रस फायदेमंद। 

मसल्स और बॉडी पेन के लिए:

  • चंद्रप्रभा और ऑर्थोग्रीट का सेवन करें। 
  • अश्वगंधा, शतावर, सफेद मूसली, कोच-बला बीज- सबका पाउडर बना लें और 1-1 ग्राम रोजाना लें। 
  • अश्वशिला कैप्सूल एक-एक गोली लेने से लाभ। 
  • इम्यूनोचार्ज और इम्यूनोग्रीट फायदेमंद। 

तेज बुखार होने पर:

  • गिलोय घनवटी, सुदर्शन घनवटी, ज्वरनाशकवटी  
  • खाने के बाद एक-एक गोली तीन बार लें।

त्रिफला के लाभ:

  • एंटी इंफ्लामेटरी गुण 
  • एंटी-ऑक्सीडेंट गुण
  • रोज सुबह त्रिफला जूस का सेवन करें।
  • इम्यून सिस्टम मजबूत करता है। 

इम्युनिटी के लिए:

कोरोना रिकवरी के बाद हाई बीपी का खतरा, स्वामी रामदेव से जानिए कैसे नैचुरल तरीके से करें ब्लड प्रेशर कंट्रोल

  • गिलोय, तुलसी, अश्वगंधा 
  • खाने के बाद 1-1 गोली लें। 
  • खाली पेट श्वसारि वटी 1 गोली सुबह-शाम लें। 

मजबूत लंग्स के लिए:

  • श्वसारि क्वाथ रोजाना पिएं। 
  • डैमेज लंग्स में श्वसारि गोल्ड बेहद कारगर।
  • लक्ष्मीविलास, संजीवनी वटी और श्वसारि गोल्ड- खाना खाने के बाद एक-एक गोली लें। 
  • नियमित स्टीम लेना फायदेमंद। 
  • लहसुन, अदरक, प्याज और हल्दी का लेप लगाएं। 
  • चेस्ट के लिए लहसुन, अदरक, प्याज और हल्दी से लाभ। 
  • खांसी होने पर खदरादिवटी-लॉन्गादिवटी लें। 
India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। कोरोना से रिकवरी के बाद शरीर, हड्डी और जोड़ों में दर्द? स्वामी रामदेव से जानिए यौगिक और आयुर्वेदिक उपाय News in Hindi के लिए क्लिक करें हेल्थ सेक्‍शन
Write a comment
X