1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. हेल्थ
  4. खांसी, बुखार और बुखार ने किया लंग्स पर वार, स्वामी रामदेव से जानिए इम्यूनिटी को मजबूत रखने का तरीका

खांसी, बुखार और बुखार ने किया लंग्स पर वार, स्वामी रामदेव से जानिए इम्यूनिटी को मजबूत रखने का तरीका

मौसम बदलते ही हर दूसरा शख्स खांसी, जुकाम, वायरल फीवर से परेशान है। जानिए आप कैसे रखें खुद का ख्याल।

India TV Health Desk India TV Health Desk
Updated on: October 27, 2021 18:37 IST
 best yoga poses and home remedies to treat cough cold fever dengue and throat sore naturally from s- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV  best yoga poses and home remedies to treat cough cold fever dengue and throat sore naturally from swami ramdev

पहाड़ों पर बर्फबारी हो रही है। मैदानी इलाकों में बिना मौसम बारिश हो रही हैं। सुबह हल्की ठंड तो दोपहर में गर्मी हो जाती है और फिर रात में ठंडक हो जाती है। बदलते मौसम की यही कंफ्यूजन शरीर के लिए नुकसानदायक साबित होता है। नतीजा नाक, गले और लंग्स का इंफेक्शन और ये वायरल तेजी से पूरे परिवार को अपनी गिरफ्त में ले लेता है।  

मौसम बदलते ही हर दूसरा शख्स खांसी, जुकाम, वायरल फीवर से परेशान है। डेंगू और चिकनगुनिया लोगों को अलग परेशान किए हुए है। ऐसे में मौसमी इंफेक्शन से बचना है तो जरूरी है कि हल्के गर्म कपड़े पहनें, गले को ढक कर रखें, ठंडी चीजें न खाएं और पानी भी गुनगुना ही पीएं। 

शरीर में बढ़े हुए आयरन को कम करने के लिए अपनाएं ये उपाय, दिखेगा असर

दरअसल बॉडी का नॉर्मल तापमान 35 डिग्री सेल्सियस होता है। ठंड में तापमान के गिरने से लोग जल्द बीमार पड़ते हैं। मेटाबॉलिक रेट गिरता है, ठंडी हवा सांस की नली को टाइट कर देती है, जिससे अस्थमा के मरीजों की परेशानी बढ़ जाती है। 

सर्दी की इन छोटी-बड़ी समस्याओं से बचने के दो ही तरीके हैं। पहला इम्यूनिटी को फौलादी बनाए और दूसरा खुद को अंदर-बाहर से गर्म रखना जो योग-आयुर्वेद से आसानी से किया जा सकता है। स्वामी रामदेव से जानिए बदलते मौसम में कैसे रखें खुद को फिट।

Lung damage symptoms

Image Source : INDIA TV
Lung damage symptoms 

बदलते मौसम के कारण होने वाली बीमारियां

  1. खांसी
  2. छींक
  3. जुकाम
  4. नाक-गले में इंफेक्शन
  5. लंग्स में इंफेक्शन
  6. वायरल फीवर
  7. डेंगू-चिकनगुनिया 

बुखार आने पर क्या करें? 

  • खूब पानी पीएं
  • भरपूर नींद लें 
  • गिलोय का रस पीएं 
  • तुलसी के पत्ते चबाएं 
  • अनुलोम-विलोम करें 

शरीर में पोषक तत्वों की कमी से हो सकते हैं कई खतरनाक रोगों के शिकार, स्वामी रामदेव से जानें यौगिक उपाय

बदलते मौसम में हेल्दी रहने के लिए योगासन

ताड़ासन

  1. गठिया के लिए फायदेमंद
  2. दिल की बीमारी में कारगर  
  3. शरीर को लचीला बनाए
  4. थकान, तनाव, चिंता दूर करता है
  5. पीठ, बांहों को मजबूत बनाए

तिर्यक ताड़ासन

  1. शरीर का मोटापा करे कम
  2. शरीर को ऊर्जावान बनाए
  3. हाई बीपी को करे कंट्रोल
  4. मन को शांत रखने में करे मदद
  5. भूलने की बीमारी मदद करे
  6. कद बढ़ाने में मददगार
  7. दिमागी थकान को दूर भगाए

त्रिकोणासन

  1. शरीर बैलेंस होगा।
  2. गर्दन, पीठ को मजबूत बनाने में कारगर
  3. लंबाई बढ़ाने में कारगर
  4. पेट की चर्बी करने में मददगार

वृक्षासन

  1. बच्चों की बढ़ती है एकाग्रता
  2. पैरों की मांसपेशियां मजबूत होती हैं
  3. सीने को चौड़ा और मजबूत करता है
  4. शरीर को लचीला बनाने में कारगर
  5. बच्चों का कद बढ़ाने में मददगार
  6. बच्चों के शरीर में संतुलन बढ़ता है
  7. रीढ़ की हड्डी मजबूत बनती है

 सूर्य नमस्कार

  1. डिप्रेशन दूर करता है
  2. एनर्जी लेवल बढ़ाने में सहायक
  3. वजन बढ़ाने में मददगार योगासन
  4. शरीर को डिटॉक्स करता है
  5. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है
  6. पाचन तंत्र बेहतर होता है
  7. शरीर को ऊर्जा मिलती है
  8. फेफड़ों तक पहुंचती है ज्यादा ऑक्सीजन

मंडूकासन

  1. डायबिटीज को करे कंट्रोल
  2. पेट और हृदय के लिए भी लाभकारी
  3. कंसंट्रेशन की क्षमता बढ़ती है
  4. पाचन तंत्र सही करने में सहायक
  5. लिवर, किडनी को स्वस्थ रखता है
  6. वजन घटाने में मदद करता है
  7. पैन्क्रियाज से इंसुलिन रिलीज करता है
  8. डायबिटीज को रोकने में सहायक
  9. गैस और कब्ज की समस्या दूर होती है 

शशकासन

  1. डायबिटीज करे कंट्रोल
  2. तनाव और चिंता दूर होती है
  3. मानसिक रोगों से मुक्ति मिलती है
  4. माइग्रेन के रोग में फायदेमंद
  5. मोटापा कम करने में मददगार
  6. लिवर, किडनी के रोग दूर होते हैं
  7. दिल के मरीजों के लिए लाभकारी
  8. लंबाई बढ़ाने में मददगार

योगमुद्रासन

  1. फेफड़ों की कार्यक्षमता बढ़ाए
  2. शरीर को लचीला बनाए
  3. रीढ़ की हड्डी को मजबूत करे
  4. पीठ, बाहों को बनाए मजबूत

वक्रासन

  1. पेट पर पड़ने वाला दबाव फायदेमंद
  2. कैंसर की रोकथाम में कारगर
  3. पेट की कई समस्याओं में राहत
  4. पाचन क्रिया ठीक रहती है
  5. कब्ज ठीक होती है 

गोमुखासन 

  1. फेफड़ों की कार्यक्षमता बढ़ती है
  2. पीठ, बांहों को मजबूत बनाता है
  3. रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है
  4. शरीर को लचकदार बनाता है
  5. सीने को चौड़ा करने में सहायक
  6. शरीर के पॉश्चर को सुधारता है
  7. थकान, तनाव, चिंता दूर करता है
  8. दृढ़ इच्छाशक्ति का विकास करता है
  9. लिवर-किडनी की समस्या में लाभकारी

मकरासन

  1. हाइट बढ़ाने में करे मदद
  2. वजन कम करने में मददगार
  3. कमर दर्द से दिलाए राहत
  4. जोड़ों के दर्द में लाभकारी
  5. एसिडिटी से दिलाए राहत

पवनमुक्तासन

  1. फेफड़े स्वस्थ और मजबूत रहते हैं
  2. अस्थमा, साइनस में लाभकारी
  3. किडनी को स्वस्थ रखता है
  4. ब्लड प्रेशर को सामान्य रखता है
  5. पेट की चर्बी को दूर करता है
  6. मोटापा कम करने में मददगार
  7. हृदय को सेहतमंद रखता है
  8. ब्लड सर्कुलेशन ठीक होता है
  9. रीढ़ की हड्डी मज़बूत होती है

भुजंगासन 

  1. दिल के मरीजों के लिए फायदेमंद है।
  2. मजबूत लंग्स से सर्दी की बीमारी नहीं होती है।
  3. पेट से जुड़े रोगों में कारगर है।
  4. मोटापा कम करने में मदद करता है।
  5. फेफड़े, कंधे और सीने को स्ट्रेच करता है। 
  6. रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है।
  7. आसन से लंग्स मजबूत होते हैं। 

शीर्षासन

  1. चेहरे की झुर्रियां गायब हो जाती हैं
  2. चेहरे में चमक और सुंदरता बढ़ती है
  3. त्वचा मुलायम और खूबसूरत बनती है
  4. रोज अभ्यास से सफेद बाल काले होते हैं
  5. बालों को झड़ने से रोकने में मददगार
  6. मानसिक शांति और स्मरण शक्ति बढ़ती है
  7. दिमाग में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाता है
  8. आंखों की रोशनी बढ़ाने में कारगर
  9. आत्मविश्वास, धैर्य, निडरता बढ़ाता है
  10. एकाग्रता, उत्साह, याददाश्त बढ़ाता है

सर्वांगासन

  1. तनाव और चिंता से मुक्ति मिलती है
  2. दिल तक शुद्ध रक्त पहुंचता है
  3. एकाग्रता बढ़ाने में मदद मिलती है
  4. याद की हुई चीजें भूलते नहीं
  5. ब्रेन में एनर्जी का फ्लो बेहतर
  6. आंखों पर चश्मा नहीं चढ़ेगा
  7. थायराइड ग्लैंड एक्टिव होता है
  8. हाथ-कंधे मजबूत बनते हैं
  9. ब्रेन को पर्याप्त ब्लड मिलता है
  10. हार्ट मसल्स एक्टिव होता है

हलासन

  1. इस आसन से दिमाग शांत होता है 
  2. थायराइड की बीमारी ठीक होती है 
  3. स्ट्रेस और थकान मिटाता है
  4. रीढ़ की हड्डी में खिंचाव आता है 
  5. डायबिटीज़ की परेशानी दूर होती है

उत्तानपादासन

  1. डायबिटीज को करे कंट्रोल
  2. कब्ज की समस्या से दिलाए लाभ
  3.  एसिडिटी में फायदेमंद

नौकासन

  1. शरीर की ऑक्सीजन बढ़ाए
  2. डायबिटीज को करे कंट्रोल
  3. टीबी, निमोनिया को करे ठीक
  4. शरीर में ऑक्सीजन का स्तर संतुलित रहता है
  5. नियमित अभ्यास से मोटापे में कमी
  6. पाचन शक्ति अच्छी रहती हैं
  7. पेट, कमर, पीठ मजबूत बनती है

सेतुबंध आसन

  1. फेफड़ों को उत्तेजित करता है
  2. साइनस, अस्थमा के मरीजों को लाभ
  3. तनाव और डिप्रेशन कम करता है
  4. पीठ और सिर दर्द को दूर करता है
  5. नींद ना आने की बीमारी दूर करता है
  6. रीढ़ की हड्डी को मजबूत बनाता है
  7. हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करे
  8. थाइराइड में लाभकारी

शलभासन

  1. आपके फेफड़े सक्रिय होते हैं
  2. अस्थमा रोग कंट्रोल होता है
  3. तंत्रिका तंत्र को मजबूत बनाता है
  4. खून को साफ करता है
  5. शरीर को मजबूत और लचीला बनाता है
  6. हाथों और कन्धों की मज़बूती बढ़ाता है
  7. वजन कम करने में मदद करता है

मर्कटासन

  1. रीढ़ की हड्डी को करे मजबूत
  2. कमर दर्द में लाभकारी
  3. फेफड़ों के लिए अच्छा
  4. पेट संबंधी समस्याओं में लाभकारी
  5. गैस और कब्ज से दिलाए निजात
  6. लिवर, फेफड़ों को रखे हेल्दी

बदलते मौसम में हेल्दी रहने के लिए प्राणायाम

  1. अनुलोम विलोम
  2. कपालभाति
  3. भ्रामरी 
  4. उद्गीथ
  5. उज्जायी
  6. नाड़ी शुद्धि

ठंड लगने पर रामबाण 

100 ग्राम बादाम, 20 ग्राम कालीमिर्च, 50 ग्राम शक्कर मिलाकर पाउडर बनाएं और 1 चम्मच दूध के साथ लें

मजबूत होगी इम्यूनिटी 

  • गिलोय-तुलसी काढ़ा
  • हल्दी वाली दूध
  • मौसमी फल खाएं
  • बादाम-अखरोट लें

गले में इंफेक्शन होने पर क्या करें

  • नमक के पानी से गरारा करें
  • जंक फूड से परहेज करें
  • स्टीम लेना फायदेमंद
  • ठंडा पानी बिल्कुल ना पीएं

जुकाम होने पर क्या करें ? 

  1. ठंडा पानी पीने से बचें
  2. गुनगुना पानी ही पीएं
  3. नमक डालकर गरारे करें
  4. नाक में अणु तेल डालें
  5. अदरक, लौंग, दालचीनी का काढ़ा पीएं
  6. तुलसी,अदरक,काली मिर्च की चाय लें

Disclaimer: यह जानकारी आयुर्वेदिक नुस्खों के आधार पर लिखी गई है। इंडिया टीवी इनके सफल होने या इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता है। इनके इस्तेमाल से पहले चिकित्सक का परामर्श जरूर लें। 

 

 

bigg boss 15