1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. यूपी के सीएम योगी ने 'आप की अदालत' में कहा, 'सुप्रीम कोर्ट अयोध्या विवाद हमें सौंप दे, 24 घंटे के अंदर निपटा देंगे'

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने 'आप की अदालत' में कहा, 'सुप्रीम कोर्ट अयोध्या विवाद हमें सौंप दे, हम 24 घंटे के अंदर निपटारा कर देंगे'

Read In English

'लोगों का धैर्य जवाब दे रहा है, मैं कहना चाहता हूं कोर्ट अपना फैसला जल्दी करे, अगर नहीं कर सकता तो वो इसे हमें सौंप दे, हम 24 घंटे के अन्दर रामजन्मभूमि विवाद का समाधान कर देंगे।'

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: January 26, 2019 23:42 IST
Yogi Adityanath in Aap ki Adalat- India TV
Image Source : INDIA TV Yogi Adityanath in Aap ki Adalat

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या विवाद पर आक्रामक रुख अपनाते हुए कहा कि 'लोगों का धैर्य जवाब दे रहा है, मैं कहना चाहता हूं कोर्ट अपना फैसला जल्दी करे, अगर नहीं कर सकता तो वो इसे हमें सौंप दे, हम 24 घंटे के अन्दर रामजन्मभूमि विवाद का समाधान कर देंगे।' योगी आदित्यनाथ जोर देकर कहा, 'इसमें 25वां घंटा नहीं लगेगा'।

रामजन्मभूमि मामले का जल्द पटाक्षेप होना बहुत आवश्यक : योगी

रजत शर्मा ने जब उनसे पूछा कि वे इस विवाद का निपटारा मेल-मिलाप और आपसी सहमति से करेंगे या डंडा चलाकर, योगी मुस्कुराए और कहा, 'यह विवाद प्रशासनिक नहीं, न्यायिक प्रणाली का हिस्सा बन चुका है। हमने सुप्रीम कोर्ट से अपील की है, फिर अपील करूंगा कि रामजन्मभूमि मामले का जल्द पटाक्षेप होना बहुत आवश्यक है। 30 सितम्बर 2010 को इलाहाबाद उच्च न्यायालय की खंडपीठ ने जो फैसला दिया, वह जमीन के बंटवारे का नहीं था। केवल साबित करना था कि बाबरी ढांचा किसी हिन्दू मंदिर या स्मारक को तोड़कर बनाया गया था। उच्च न्यायालय के आदेश पर ए.एस.आई ने उत्खनन किया और साबित किया कि किसी प्राचीन हिन्दू स्मारक को तोड़ कर बाबरी ढांचा बनाया गया था।' 

न्याय समय पर देने से लोगों में संतुष्टि होती है: योगी
योगी ने कहा, 'अब अनावश्यक रूप से बंटवारे का प्रश्न खड़ा करके इसे नए विवाद का जरिया बनाया गया। हम सुप्रीम कोर्ट से फिर कहेंगे कि न्याय समय पर देने से लोगों में संतुष्टि होती है, सौहार्द का कारण बनता है, जन-विश्वास का प्रतीक बनता है। लेकिन न्यायालय में जब अनावश्यक लेट होता है तो संस्थाएं जन विश्वास खोती हैं।' 

24 घंटे में समाधान कर देंगे, 25वां घंटा नहीं लगेगा: योगी
'रामजन्भूमि के मुद्दे पर अनावश्यक लेट जनता के धैर्य के साथ-साथ उनका विश्वास का संकट खड़ा करता है। मैं कहना चाहता हूं कि न्यायालय फैसला जल्दी करे, और अगर नहीं कर सकता तो इसे हमें सौंप दे। हम 24 घंटे के अन्दर रामजन्भूमि विवाद का समाधान कर देंगे। 25वां घंटा नहीं लगेगा।'

हम जन आस्था का सम्मान करते हैं: योगी
यह पूछे जाने पर कि केंद्र सरकार ट्रिपल तलाक की तरह अयोध्या पर अध्यादेश क्यों नहीं लाई, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा, 'यह सुप्रीम कोर्ट में सब-जूडिस मामला है। सब-जूडिस मामलों में संसद में चर्चाएं नहीं होती। हम लोग फिर भी न्यायालय पर छोड़ रहे हैं। अच्छा होता देश में सौहार्द के लिए न्यायालय 1994 की तत्कालीन सरकार ने जो एफिडेविट दिया था, उसके आधार पर न्याय दे देता, तो देश के अन्दर बहुत अच्छा मैसेज जाता। बहुत अच्छा उदाहरण प्रस्तुत होता। लेकिन यह अनावश्यक लेट होने से जनता का धैर्य जवाब देने की स्थिति की ओर बढ़ रहा है। यह जन आस्था का विषय है। हम जन आस्था का सम्मान करते हैं।'

रजत शर्मा द्वारा यह पूछे जाने पर कि कहीं यह जल्दबाजी आनेवाले चुनाव को लेकर तो नहीं, योगी आदित्यनाथ ने कहा, 'सवाल चुनाव में फायदे या नुकसान का नहीं है। महत्वपूर्ण प्रश्न यह है कि ये आस्था का देश है और इस आस्था का सम्मान होना चाहिए।' 

भगवान राम के भव्य मंदिर का निर्माण अवश्य होगा: योगी
उन्होंने कहा, 'ये आस्था और अनास्था की लड़ाई है। ये आस्था जो हमें भगवान राम के साथ जोड़ती है, दूसरी तरफ अनास्था जो तोड़ रही है, विध्वंसकारी रही है, विदेशी और विधर्मी रही है। मुझे लगता है कि उस आस्था ने विपरीत परिस्थितियों में भी हिम्मत नहीं हारी, आज भी हिम्मत नहीं हारेगी। रामजन्मभूमि मुद्दे का ठोस समाधान निकलेगा और अयोध्या में भगवान राम के भव्य मंदिर का निर्माण अवश्य होगा।'

पूरे मसले की जड़ में कांग्रेस : योगी
रजत शर्मा ने जब कहा कि कांग्रेस के नेता वादे कर रहे थे कि यदि वे सत्ता में आए तो राम मंदिर का निर्माण कराएंगे, योगी ने कहा, 'इस पूरे मसले की जड़ में कांग्रेस है। कौन हैं कांग्रेस का वो नेता, जो लन्दन में सैयद शूजा के साथ मिलकर भारत की चुनाव प्रक्रिया पर सवाल खड़े कर रहे हैं? कौन हैं कांग्रेस का वो नेता, जिसने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि रामजन्मभूमि विवाद पर सुनवाई 2019 के चुनाव के बाद करवायी जाए। पब्लिक में इसी बात को लेकर आक्रोश है। ये समस्या कांग्रेस की ही देन है। कांग्रेस नहीं चाहती कि समस्या का समाधान हो। तीन तलाक, राम मंदिर के समाधान का मतलब इस देश में तुष्टीकरण की राजनीति हमेशा-हमेशा के लिए समाप्त हो जाएगी।'

70 प्रतिशत बीजेपी के पक्ष में,30 प्रतिशत गठबंधन के पक्ष में : योगी
यूपी में एसपी-बीएसपी गठबंधन पर मुख्यमंत्री ने कहा, 'उत्तर प्रदेश में 2014 के लोकसभा चुनाव और उसके बाद 2017 विधानसभा चुनाव में दो लड़के साथ आए थे, दोनों बुरी तरह परास्त हुए थे। इस बार बुआ-बबुआ एक ओर हैं, भाई-बहन भी एक गठबंधन बना के आ रहे हैं। चुनाव का परिणाम बीजेपी के पक्ष में 2014 और 2017 से बेहतर होगा। महागठबंधन खड़ा करके जातिवाद की सबसे खराब लड़ाई भी अगर लड़ी जाएगी तो यह लड़ाई 70-30 की होने जा रही है, जिसमें 70 प्रतिशत बीजेपी के पक्ष में होंगे और 30 प्रतिशत गठबंधन के पक्ष में होंगे। इस लड़ाई को हम वहीं ले कर जाएंगे।'

मुलायम सिंह जी चुप क्यों हैं: योगी
कोलकाता में ममता बनर्जी द्वारा आयोजित रैली में 22 दलों के हिस्सा लेने पर योगी ने कहा, 'गठबंधन की कवायद आज की नहीं है। जब भी सरकार मजबूत होती है, तो ऐसी कवायद होती है। मुझे आश्चर्य है कि मुलायम सिंह जी (समाजवादी पार्टी के संस्थापक) चुप क्यों हैं। 2014 में वह पीएम के पद के उम्मीदवार थे। आज समाजवादी पार्टी भी उन्हें मानती है कि नहीं? मुलायम बयान नहीं दे रहे हैं, शायद संकोच में पड़े होंगे, उन्हें बयान जरूर देना चाहिए।

कांग्रेस के लिए परिवार ही पार्टी है: योगी
राजनीति में प्रियंका गांधी की एंट्री के सवाल पर योगी ने कहा, 'कांग्रेस ने साबित कर दिया कि परिवार ही उनके लिए पार्टी है, परिवार के बाहर उनकी दृष्टि नहीं जा सकती'। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा 'चौकीदार चोर है' टिप्पणी पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा, 'यूपीए के दौरान उन्होंने जमीन पर, पानी में, हवा में, अंतरिक्ष में और धरती के नीचे से पैसे की लूट मचाई। जो लोग मोदी जी पर उंगली उठा रहे हैं, उनके परिवार के इतिहास और डीएनए में भ्रष्टाचार है। वे विकास से लोगों का ध्यान हटाना चाहते हैं।'

राहुल ने  'एक्सिडेंटल हिन्दू' से 'जनेऊधारी हिन्दू' तक की यात्रा की है: योगी
राहुल गांधी के मंदिर जाने और जनेऊ दिखाने के सवाल पर योगी आदित्यनाथ ने कहा, 'पंडित नेहरू की चौथी पीढ़ी के रूप में राहुल आए। वह अपने को 'एक्सिडेंटल हिन्दू' कहते थे। अब उन्होंने 'एक्सिडेंटल हिन्दू' से 'जनेऊधारी हिन्दू' तक की यात्रा की है। यह हमारी वैचारिक विजय है। आज राहुल को इस बात का अहसास होने लगा है कि अगर हिन्दुस्तान में रहना है, तो जनेऊ और टीका दिखाना ही पड़ेगा। राहुल ने साबित कर दिया कि पंडित नेहरु गलत थे।

योगी आदित्यनाथ के साथ आप की अदालत शनिवार रात 10 बजे इंडिया टीवी पर प्रसारित किया गया। रविवार सुबह 10 बजे और रात 10 बजे इसे फिर से प्रसारित किया जाएगा।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
coronavirus
X