1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. केरल में कोरोना के 3,404 नए मामले सामने आये, यात्रियों को करना होगा नियम का सख्ती से पालन

केरल में कोरोना के 3,404 नए मामले सामने आये, यात्रियों को करना होगा नियम का सख्ती से पालन

स्वास्थ्य मंत्री वीणा जॉर्ज ने कहा कि विदेश से राज्य में आने वाले सभी यात्रियों के लिए अनिवार्य रूप से पृथक-वास में रहने का नियम सख्ती से लागू किया जाएगा। गैर-जोखिम वाले देश से आए एक यात्री के कोविड-19 के Omicron वेरिएंट से संक्रमित पाए जाने के बाद मंत्री का यह बयान सामने आया है। 

IndiaTV Hindi Desk Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: December 16, 2021 20:09 IST
Kerala reports 3,404 new Covid-19 cases, 320 fatalities- India TV Hindi
Image Source : PTI केरल में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 3,404 नए मामले सामने आए हैं।

Highlights

  • केरल में संक्रमण से 320 लोगों की मौत हो गई।
  • उपचाराधीन मरीजों की संख्या 34,171 है।
  • विदेश से आने वाले सभी यात्रियों के लिए पृथक-वास में रहने का नियम सख्ती से लागू किया जाएगा।

तिरुवनतंपुरम: केरल में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 3,404 नए मामले सामने आए हैं। केरल में बृहस्पतिवार को संक्रमण से 320 लोगों की मौत हो गई। इसके साथ ही कुल संक्रमितों और मृतकों की संख्या बढ़कर क्रमश: 51,95,997 और 43,946 हो गई। राज्य सरकार की एक विज्ञप्ति में बताया गया कि 4,145 लोगों के संक्रमण मुक्त होने के बाद कुल स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 51,29,044 हो गई। वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या 34,171 है।  

स्वास्थ्य मंत्री वीणा जॉर्ज ने कहा कि विदेश से राज्य में आने वाले सभी यात्रियों के लिए अनिवार्य रूप से पृथक-वास में रहने का नियम सख्ती से लागू किया जाएगा। गैर-जोखिम वाले देश से आए एक यात्री के कोविड-19 के Omicron वेरिएंट से संक्रमित पाए जाने के बाद मंत्री का यह बयान सामने आया है। 

राज्य सरकार की एक विज्ञप्ति के मुताबिक, मंत्री ने एक उच्च स्तरीय बैठक में निर्देश दिया कि सभी को स्वयं पृथक-वास में रहने के नियम का सख्ती से पालन करना होगा और उन्हें अन्य लोगों से मिलने-जुलने, भीड़भाड़ वाले स्थानों और मॉल आदि में जाने से बचना चाहिए। जॉर्ज ने कहा कि ऐसे यात्रियों को केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुसार स्वयं पृथक-वास में रहने की अनुमति दी जाएगी क्योंकि वे गैर-जोखिम वाले देशों से आए हैं। 

erussia-ukraine-news