1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर 16 मई को नेपाल के लुम्बिनी जायेंगे प्रधानमंत्री मोदी

PM Modi visit Nepal: बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर 16 मई को नेपाल के लुम्बिनी जायेंगे प्रधानमंत्री मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 मई को बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर नेपाल के लुम्बिनी जायेंगे । विदेश मंत्रालय से जारी एक बयान के अनुसार, प्रधानमंत्री मोदी नेपाल के अपने समकक्ष शेर बहादुर देउबा के निमंत्रण पर 16 मई को लुम्बिनी जायेंगे ।

Shashi Rai Written by: Shashi Rai @km_shashi
Published on: May 12, 2022 14:28 IST
बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर 16 मई को नेपाल के लुम्बिनी जायेंगे प्रधानमंत्री मोदी- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर 16 मई को नेपाल के लुम्बिनी जायेंगे प्रधानमंत्री मोदी

Highlights

  • 16 मई को नेपाल के लुम्बिनी जायेंगे प्रधानमंत्री मोदी
  • बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर मायादेवी मंदिर में करेंगे पूजा अर्चना
  • दोनों प्रधानमंत्रियों के बीच द्विपक्षीय बैठक भी होगी

PM Modi visit Nepal: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 मई को बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर नेपाल के लुम्बिनी जायेंगे । विदेश मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी । विदेश मंत्रालय से जारी एक बयान के अनुसार, प्रधानमंत्री मोदी नेपाल के अपने समकक्ष शेर बहादुर देउबा के निमंत्रण पर 16 मई को लुम्बिनी जायेंगे । वर्ष 2014 के बाद प्रधानमंत्री मोदी की यह पांचवी नेपाल यात्रा होगी । बयान के अनुसार, प्रधानमंत्री लुम्बिनी में मायादेवी मंदिर में पूजा अर्चना करेंगे। 

उनका नेपाल सरकार के तहत आने वाले लुम्बिनी विकास ट्रस्ट द्वारा बुद्ध जयंती के अवसर पर आयोजित एक समारोह को संबोधित करने का भी कार्यक्रम है। इसके अलावा प्रधानमंत्री वहां प्रस्तावित बौद्ध संस्कृति एवं धरोहर केंद्र के शिलान्यास समारोह में भी हिस्सा लेंगे । मंत्रालय के अनुसार, दोनों प्रधानमंत्रियों के बीच द्विपक्षीय बैठक भी होगी । 

पिछले महीने ही नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर उत्तर प्रदेश के वाराणसी पहुंचे थे और उन्होंने काल भैरव तथा काशी विश्वनाथ मंदिर में पूजा किया था। नेपाली प्रधानमंत्री देउबा अपनी पत्नी आरजू राणा देउबा और प्रतिनिधिमंडल दल के साथ एक दिवसीय दौरे पर यहां पहुंचे थे। भारत आए देउबा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सीमा संबंधी मुद्दे को हल करने के लिए एक द्विपक्षीय तंत्र स्थापित करने की अपील की थी।