PM Narendra Modi govt 8 years: 'जैसे मक्का नहीं बदला जा सकता, वैसे ही काशी नहीं बदला जा सकता', जानें ज्ञानवापी पर क्या बोले देवकीनंदन ठाकुर

PM Narendra Modi govt 8 years: AIMIM नेता कलीमुल हफीज के खोदो इंडिया वाले बयान पर देवकीनंदन ठाकुर ने कहा, 'हम अगर आपके अल्लाह की इज्जत करते हैं तो आप लोगों को भी मेरे राम, शिव और कृष्ण की इज्जत करनी पड़ेगी।'

Rituraj Tripathi Written by: Rituraj Tripathi @riturajfbd
Updated on: May 30, 2022 15:33 IST
Devkinandan Thakur in IndiaTV Samvaad - India TV Hindi News
Image Source : INDIA TV Devkinandan Thakur in IndiaTV Samvaad 

Highlights

  • प्रसिद्ध कथावाचक देवकीनंदन ठाकुर ने India TV Samvaad में रखी अपनी बात
  • कहा- देश न शरियत से चलेगा और न सनातन से चलेगा, देश संविधान से चलेगा
  • कहा- हम अल्लाह की इज्जत करते हैं तो आप को भी राम, शिव और कृष्ण की इज्जत करनी पड़ेगी

PM Narendra Modi govt 8 years: प्रसिद्ध कथावाचक देवकीनंदन ठाकुर ने India TV Samvaad महासम्मेलन के मंच पर ज्ञानवापी मुद्दे पर बयान दिया। उन्होंने कहा, 'ज्ञानवापी मंदिर को लेकर हमारे पुराणों में इतने प्रमाण हैं, कि ये लोग जितने चाहें, हम उतने प्रमाण दे सकते हैं। ये देश न शरियत से चलेगा और न सनातन से चलेगा। यह देश संविधान से चलेगा।'

AIMIM नेता कलीमुल हफीज के खोदो इंडिया वाले बयान पर देवकीनंदन ठाकुर ने कहा, 'हम अगर आपके अल्लाह की इज्जत करते हैं तो आप लोगों को भी मेरे राम, शिव और कृष्ण की इज्जत करनी पड़ेगी। जैसे मक्का नहीं बदला जा सकता, वैसे ही काशी नहीं बदला जा सकता, वैसे ही मथुरा नहीं बदला जा सकता, अयोध्या तो कोर्ट के माध्यम से हमारा हो गया है।'

बता दें कि कलीमुल हफीज ने कहा था कि सरकार ने जैसे खेलो इंडिया शुरू किया था, उसी की तर्ज पर खोदो इंडिया शुरू कर दिया। ये लोग देश में गरीबों और खासतौर पर अल्पसंख्यकों को टारगेट करना चाहते हैं। संघ परिवार अंग्रेजों के करीब रहा है। 

 

पीएम ने गीता के साथ कुरान का भी प्रचार किया: देवकीनंदन ठाकुर

देवकीनंदन ठाकुर ने कहा कि पीएम मोदी ने दुनिया में जितना गीता का प्रचार किया है, उतना ही कुरान का भी प्रचार किया है। मथुरा और काशी पर दूसरे सुमदाय को भाईचारा दिखाना चाहिए और कहना चाहिए कि बिना कोर्ट के ही हम इन जगहों को आप को देते हैं। 

ठाकुर ने अंजुमन मिनहाजुल रसूल के चेयरमैन अतहर हुसैन देहलवी पर निशाना साधते हुए कहा कि आपको अगर अपने धर्म की बात करनी है तो खूब करिए, अपनी खुशी और समस्याओं के बारे में बताइए लेकिन मेरे धर्म में क्या खाया जाएगा, कहां जाया जाएगा, क्या बोला जाएगा, ये सब मेरा अधिकार है। मेरे जैसा धर्म पूरी दुनिया में कहीं नहीं मिलेगा।

Latest India News

navratri-2022