Saturday, June 22, 2024
Advertisement

'राम मंदिर के न्योते को ठुकराना उचित नहीं था, कांग्रेस पुनर्विचार करे', आचार्य प्रमोद कृष्णम का बड़ा बयान

राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम का निमंत्रण ठुकराने के फैसले से कांग्रेस पार्टी के अंदर भी नाखुशी नजर आ रही है। पार्टी नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा कि पार्टी को इस फैसले पर फिर से विचार करना चाहिए।

Edited By: Niraj Kumar @nirajkavikumar1
Updated on: January 18, 2024 18:12 IST
Pramod krishnam, congress- India TV Hindi
Image Source : ANI आचार्य प्रमोद कृष्णम, कांग्रेस नेता

नई दिल्ली: कांग्रेस के नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने एक बार फिर पार्टी लाइन से अलग हटकर बयान दिया है। उनका कहना है कि अभी भी देर नहीं हुई है, पार्टी को प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के न्योते को ठुकराने के फैसले पर एक बार फिर से विचार करना चाहिए। 

प्रमोद कृष्णम ने कहा,  "मंदिर तो राम का है और राम भारत के हैं... राम के बिना भारत की कल्पना भी नहीं की जा सकती है... राम मंदिर के कार्यक्रम को अस्वीकार करना उचित नहीं था। इस पर एक बार फिर पुनर्विचार करना चाहिए।"

बता दें कि राम जन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट की ओर से कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, सोनिया गांधी और अधीर रंजन चौधरी को प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में शामिल होने का निमंत्रण भेजा गया था लेकिन निमंत्रण मिलने के बाद कांग्रेस पार्टी की ओर से एक वक्तव्य जारी कर इसे ठुकरा दिया गया था। कांग्रेस ने इस प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को बीजेपी और आरएसएस द्वारा राजनीतिक रूप देने का आरोप लगाया था।

 

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement