Friday, July 12, 2024
Advertisement

NEET पेपर लीक मामले को लेकर राहुल गांधी समेत कई विपक्षी नेताओं ने सरकार को घेरा, संसद सत्र में उठेगा मुद्दा

शिवसेना उद्धव ठाकरे गुट के नेता अरविंद सावंत ने कहा कि मैं सुप्रीम कोर्ट से गुहार लगाता हूं और उनसे परीक्षा दोबारा आयोजित करने के लिए कहता हूं। यही एकमात्र समाधान है। यह एक बड़ा धोखाधड़ी है।

Written By: Mangal Yadav @MangalyYadav
Updated on: June 18, 2024 15:38 IST
संसद सत्र में NEET पेपर लीक का मुद्दा उठाएगा इंडिया गठबंधन- India TV Hindi
Image Source : PTI संसद सत्र में NEET पेपर लीक का मुद्दा उठाएगा इंडिया गठबंधन

नई दिल्लीः नीट (NEET) पेपर लीक मामले ने अब तूल पकड़ लिया है। नीट पेपर लीक मामले को लेकर विपक्ष सरकार को घेर रहा है। दिल्ली के जंतर-मंतर पर आज आम आदमी पार्टी ने विरोध प्रदर्शन किया। वहीं, कांग्रेस नेता राहुल गांधी, समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव और शिवसेना उद्धव ठाकरे गुट के सांसद अरविंद सांवत समेत कई पार्टियों के नेताओं ने केंद्र सरकार को निशाने पर लिया है।

राहुल गांधी ने बीजेपी सरकार को घेरा

बीजेपी और केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए राहुल गांधी ने कहा कि नीट परीक्षा में 24 लाख से अधिक छात्रों के भविष्य के साथ हुए खिलवाड़ पर भी पीएम मोदी हमेशा की तरह मौन धारण किए हुए हैं। बिहार, गुजरात और हरियाणा में हुई गिरफ्तारियों से साफ है कि परीक्षा में योजनाबद्ध तरीके से संगठित भ्रष्टाचार हुआ है और ये भाजपा शासित राज्य पेपर लीक का एपिसेंटर बन चुके हैं। हमारे न्यायपत्र में पेपर लीक के विरुद्ध सख्त कानून बना कर युवाओं का भविष्य सुरक्षित करने की हमने गारंटी दी थी। 

संसद सत्र में विपक्ष उठाएगा मुद्दा

राहुल गांधी ने कहा कि विपक्ष की ज़िम्मेदारी निभाते हुए हम देश भर के युवाओं की आवाज़ सड़क से संसद तक मज़बूती से उठा कर और सरकार पर दबाव डाल कर ऐसी कठोर नीतियों के निर्माण के लिए प्रतिबद्ध हैं। वहीं इंडिया गठबंधन में शामिल आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने कहा कि उनकी पार्टी इस मुद्दे को संसद सत्र में उठाएगी।

अखिलेश यादव ने कही ये बात

वहीं, सपा नेता अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा कि विभिन्न परीक्षाओं का पेपर लीक होना, परीक्षा में सेंटर से लेकर सॉल्वर तक की धांधली होना, परीक्षा करानेवाली एजेंसी का काम शक के घेरे में आना, रिज़ल्ट में ग्रेस मॉर्क्स की हेराफेरी होना, मनचाहे सेंटर मिलना, एक ही सेंटर से कई कैंडिडेट का सेलेक्ट होना और 100% आना केवल एग्ज़ाम मैनेजमेंट की समस्या नहीं है। इन सबसे बढ़कर ये एक मानसिक त्रासदी है जिससे न केवल परीक्षा देनेवाले युवा बल्कि उनके माता-पिता भी ग्रसित हो रहे हैं।  

आम आदमी पार्टी ने दिया धरना

दिल्ली सरकार में मंत्री और आप नेता गोपाल राय ने कहा कि पूरे देश का भविष्य दांव पर है। लाखों छात्रों ने परीक्षा दी है। उनके अभिभावक चिंतित हैं। सभी लोग चाहते हैं परीक्षा रद्द हो। घोटाले की जांच की जाए और दोबारा परीक्षा कराई जाए। आप छात्रों के समर्थन में आंदोलन कर रही है। आज हम जंतर-मंतर पर प्रदर्शन कर रहे हैं कल पूरे देश से आवाज उठाई जाएगी। हम सदन में भी मजबूती से आवाज उठाएंगे। 

धरना प्रदर्शन करते आप नेता

Image Source : PTI
धरना प्रदर्शन करते आप नेता

 सरकार के बचाव में उतरे मांझी

इस मामले पर केंद्रीय मंत्री जीतन राम मांझी ने कहा कि यह भाजपा, कांग्रेस या महागठबंधन का मामला नहीं है। इस पर सरकार बहुत सख्त हुई है और कार्रवाई कर रही है। हमें ऐसा लगता है कि आगे से ऐसी घटनाएं नहीं होंगी। पेपर लीक होने से स्वाभाविक रूप से गरीब छात्रों के साथ न्याय नहीं हुआ है। इसी बात को संज्ञान में लेकर केंद्रीय एजेंसी जांच कर रही है। सरकार इस पर कठोर कानून तक बनाने जा रही है।

वहीं, डिप्टी सीएम सम्राट चौधरी ने कहा कि पेपर लीक को लेकर कानून बनाने का काम चल रहा है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर इस पर काम चल रहा है। पेपर लीक के मामले में जो लोग भी शामिल हैं उन सभी पर कार्रवाई करने का निर्देश मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दिया है।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement