1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. हाथरस केस: अखिलेश यादव बोले- शासन के मूक आदेश पर प्रशासन ने मृतका के परिजनों को दौड़ा-दौड़ाकर मारा

हाथरस केस: अखिलेश यादव बोले- शासन के मूक आदेश पर प्रशासन ने मृतका के परिजनों को दौड़ा-दौड़ाकर मारा

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री तथा समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने हाथरस गैंगरेप और मामले में प्रशासन की भूमिका को लेकर सरकार पर निशाना साधा।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: October 01, 2020 11:23 IST
हाथरस केस: अखिलेश यादव बोले- शासन के मूक आदेश पर प्रशासन ने मृतका के परिजनों को दौड़ा-दौड़ाकर मारा- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV हाथरस केस: अखिलेश यादव बोले- शासन के मूक आदेश पर प्रशासन ने मृतका के परिजनों को दौड़ा-दौड़ाकर मारा

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री तथा समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने हाथरस गैंगरेप और मामले में प्रशासन की भूमिका को लेकर सरकार पर निशाना साधा। अखिलेश यादव कहा कि प्रशासन ने जो किया वह शासन के मूक आदेश पर किया गया है। अखिलेश यादव ने यह भी कहा कि जनता, भाजपा के कुशासन का असली रंग देख रही है।

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने ट्वीट में लिखा, "हाथरस की मृतका के परिजनों को शासन के मूक आदेश पर प्रशासन ने दौड़ा-दौड़ाकर मारा है। अब जनता भी ऐसे ही इन सत्ताधारियों को दौड़ा-दौड़ाकर इंसाफ़ की चौखट तक खींच के ले जाएगी। भाजपा के कुशासन का असली रंग जनता देख रही है। कपटियों का लबादा उतरते अब देर नहीं लगेगी।"

इससे पहले अखिलेश यादव ने मृतका के अंतिम संस्कार को लेकर भी सवाल खड़े किए थे। उन्होंने ट्वीट कर कहा था, "हाथरस की बेटी बलात्कार-हत्याकांड’ में शासन के दबाव में, परिवार की अनुमति बिना, रात्रि में पुलिस द्वारा अंतिम संस्कार करवाना, संस्कारों के विरुद्ध है। ये सबूतों को मिटाने का घोर निंदनीय कृत्य है। भाजपा सरकार ने ऐसा करके पाप भी किया है और अपराध भी।"

वहीं, इस घटना के बाद बलरामपुर में एक और दलित युवती के साथ हुए गैंगरेप पर अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा, "हाथरस के बाद अब बलरामपुर में भी एक बेटी के साथ सामूहिक बलात्कार और उत्पीड़न का घृणित अपराध हुआ है व घायलावस्था में पीड़िता की मृत्यु हो गयी है। श्रद्धांजलि! भाजपा सरकार बलरामपुर में हाथरस जैसी लापरवाही व लीपापोती न करे और अपराधियों पर तत्काल कार्रवाई करे।"

बता दें कि हाथरस के बाद अब उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले में भी दलित युवती के साथ गैंगरेप हुआ। यहां अनुसूचित जाति की एक लड़की के साथ दो युवकों ने दुष्कर्म किया। आरोपियों ने वारदात को ऐसे वहशीपन से अंजाम दिया कि पीड़िता की अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई।

बलरामपुर के पुलिस अधीक्षक देव रंजन वर्मा ने कहा कि घटना जिले के गैसड़ी क्षेत्र में हुई जहां 22 वर्षीय दलित लड़की एक निजी कंपनी में काम करती थी। मंगलवार की शाम जब वह समय पर घर नहीं पहुंची तब उसके माता-पिता ने उसकी तलाश शुरू की। 

पुलिस ने कहा कि लड़की के माता- पिता ने बताया कि लड़की बाद में एक ऑटो रिक्शा से घर पहुंची। वर्मा ने कहा कि लड़की की हालत गंभीर थी और उसके माता-पिता उसे अस्पताल ले जाने लगे लेकिन रास्ते में लड़की की मौत हो गई।

उन्होंने कहा कि अस्पताल से मामले की सूचना पुलिस को मिलने के बाद माता- पिता ने आरोप लगाया कि लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार किया गया था। शिकायत के आधार पर पुलिस ने शाहिद और साहिल नाम के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment