Hair Spa Vs Keratin: हेयर स्पा या केराटिन, बालों के मेकओवर के लिए कौन सा ट्रीटमेंट होगा बेस्ट

Hair Spa Vs Keratin: अगर आप अपने रूखे और बेजान बालों के मेकओवर के लिए केराटिन और हेयर स्पा के बारे में सोच रहे हैं, तो सबसे पहले यह जानना जरूरी है कि इन दोनों में आपके बालों के लिए कौन सा ट्रीटमेंट बेस्ट रहेगा।

Sushma Kumari Edited By: Sushma Kumari @ISushmaPandey
Published on: November 12, 2022 21:25 IST
Hair Spa Vs Keratin- India TV Hindi
Image Source : FREEPIK Hair Spa Vs Keratin

Hair Spa Vs Keratin: मुलायम, सलझे, शाइनी और स्मूथ बालों की चाहत भला किसे नहीं होती। लेकिन गलत लाइफस्टाइल, खानापान और पॉल्यूशन का इफेक्ट सेहत के साथ-साथ बालों पर भी पड़ता है। इससे बाल सूखे और बेजान होकर झड़ने लगते हैं। बालों की चमक तो मानों खो जाती है। अगर आप अपने बालों का मेकओवर कराने की सोच रहे हैं तो जान लीजिए कि हेयर स्पा और केराटिन में कौन सा ट्रीटमेंट आपके बालों के लिए सही रहेगा। इस आर्टिकल में हम आपको केराटिन और हेयर स्पा में अंतर के बारे में बताएंगे।

महिलाएं अपने बालों को सॉफ्ट और शाइनी लुक देने के लिए वैसे तो इन दोनों ट्रीटमेंट्स को कराती हैं। लेकिन आपको जानना चाहिए कि इन दोनों में आपके बालों के लिए कौन सा ट्रीटमेंट बेस्ट होगा। साथ ही आपको इसके फायदे और नुकसान के बारे में भी जरूर जानना चाहिए।

Skin Care Tips: स्किन केयर रूटीन में चेहरे के साथ-साथ हाथों का भी रखें ध्यान

हेयर स्पा और केराटिन में अंतर

बालों में हेयर स्पा और केराटिन कराने से पहले आपको इन दोनों में अंतर के बारे में जानना चाहिए। आखिर हेयर स्पा और केराटिन में क्या अंतर होता है और बालों में ये ट्रीटमेंट कब और किसलिए कराए जाते हैं। बता दें कि हेयर स्पा और केराटिन दोनों के ट्रीटमेंट में काफी अंतर होता है। केराटिन ट्रीटमेंट बालों को स्ट्रेट (सीधा) करने और शाइनी व सिल्की बनाने के लिए किया जाता है। केराटिन को बालों का प्रोटीन कहा जाता है। वहीं बात करें हेयर स्पा की तो इसमें स्कैल्प और बालों का मसाज करने के बाद स्टीम दी जाती है। इस ट्रीटमेंट को महीने में एक से दो बार भी कराया या जा सकता है। इससे स्कैल्प गहराई से साफ होते हैं और बालों में चमक आती है।

क्या है केराटिन ट्रीटमेंट

हेयर स्पा की अपेक्षा केराटिन ट्रीटमेंट थोड़े मंहगे होते हैं। इससे बालों को पोषण मिलता है, जोकि एक तरह से बालों के लिए प्रोटीन का काम करता है। इसमें नेचुरल तरीके के बजाय काफी कैमिकलयुक्त प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल किया जाता है। ये प्रोडक्ट बालों को लंबे समय तक स्मूथ और शाइनी बनाए रखने का काम करता है। केराटिन ट्रीटमेंट से सूखे और बेजान बालों में एक नई जान आ जाती है। हालांकि कुछ समय बाद बाल फिर से पहले की तरह ही हो जाते हैं। क्योंकि केराटिन 3-6 महीने तक चलता है। कभी-कभी तो केराटिन ट्रीटमेंट के 2-4 महीने बाद बाल पहले की अपेक्षा बहुत ज्यादा डैमेज हो जाते हैं।

Dry Skin: सर्दी के मौसम में ड्राई स्किन कर रही है आपकी खूबसूरती को खराब? मिनटों में पाएं रूखी-सूखी त्वचा से छुटकारा

हेयर स्पा

बालों के पोषण, ट्रीटमेंट और देखभाल के लिए हेयर स्पा बहुत जरूरी है। इससे स्कैल्प और बालों की अच्छे से मसाज भी हो जाती है। फिर बालों को स्टीम दिया जाता है और सीरम लगाया जाता है। स्टीम से स्कैल्प अच्छे से साफ होते हैं और सीरम से हेयर शाइनी दिखते हैं। हेयर स्पा से बालों में किसी तरह के साइड-इफेट्स नहीं होते। आप इसे महीने में 1-2 बार करा सकते हैं। इससे बालों में नई चमक आती है और बालों की कई तरह की परेशानियों भी दूर होती है।

इस आर्टिकल में हमने आपको हेयर स्पा और केराटिन में अंतर के बारे में बताया। साथ ही हेयर स्पा और केराटिन के फायदे भी बताए। आप अपने बालों की प्राब्लम और जरूरत के अनुसार हेयर स्पा या केराटिन का विकल्प चुन सकते हैं।

Beauty Tips: त्वचा पर लाना चाहती हैं निखार, तो संतरे के छिलके से बनाएं पैक

Latest Lifestyle News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Fashion and beauty tips News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन