1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. आयकर संग्रह 2017-18 में रिकॉर्ड 10.03 लाख करोड़ रुपए, रिटर्न की संख्‍या में 1.3 करोड़ की बढ़ोत्‍तरी

आयकर संग्रह 2017-18 में रिकॉर्ड 10.03 लाख करोड़ रुपए, रिटर्न की संख्‍या में 1.3 करोड़ की बढ़ोत्‍तरी

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने आज कहा कि देश में 2017- 18 में आयकर संग्रह 10.03 लाख करोड़ रुपये के रिकार्ड स्तर पर रहा। इस दौरान 1.31 करोड़ अधिक रिटर्न भरे गये।

India TV Paisa Desk Written by: India TV Paisa Desk
Published on: August 17, 2018 19:45 IST
Rupees- India TV Hindi News

Rupees

गुवाहाटी। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने आज कहा कि देश में 2017- 18 में आयकर संग्रह 10.03 लाख करोड़ रुपये के रिकार्ड स्तर पर रहा। इस दौरान 1.31 करोड़ अधिक रिटर्न भरे गये। पूर्वी क्षेत्र के आयकर प्रशासकों के दो दिवसीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए सीबीडीटी की सदस्य शबरी भटसाली ने कहा कि 2017-18 में 6.92 करोड़ आईटी रिटर्न भरे गये जो इससे पूर्व वित्त वर्ष की तुलना में 1.31 करोड़ अधिक है।

इससे पहले वित्त वर्ष 2016-17 में 5.61 करोड़ रिटर्न भरे गये थे। उन्होंने कहा कि आयकर विभाग से 2017-18 के दौरान 1.06 करोड़ नये करदाता जुड़े और चालू वित्त वर्ष में 1.25 करोड़ नये करदाता जोड़ने का लक्ष्य है। पूर्वोत्तर क्षेत्र में यह संख्या 1.89 लाख थी।

आयकर विभाग के प्रधान मुख्य आयुक्त (पूर्वोत्तर क्षेत्र) एल सी जोशी राणे ने कहा कि 2017-18 के दौरान क्षेत्र से 7,097 करोड़ रुपये का कर वसूला गया। उन्होंने कहा कि यह पिछले वित्त वर्ष में संग्रह किये गये 6,082 करोड़ रुपये के मुकाबले 16.7 प्रतिशत अधिक है। राणे ने कहा कि 2018-19 के लिये क्षेत्र के लिये 8,357 करोड़ रुपये का लक्ष्य रखा गया है। यह पिछले वित्त वर्ष के मुकाबले 17.75 प्रतिशत अधिक है।

उन्होंने कहा कि कर विभाग लक्ष्य के अनुसार कर संग्रह हासिल करने, करदाताओं का आधार बढ़ाने तथा बेहतर सेवाएं देने को लेकर प्रतिबद्ध है। पूर्वोत्तर क्षेत्र में 29 केंद्रों में 22 में आयकर सेवा केंद्र खोले जा चुके हैं।

Latest Business News

Write a comment