1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. जुलाई-सितंबर के दौरान नए प्रोजेक्ट लॉन्च में आई 45% की गिरावट, प्रॉपटाइगर ने बताया घरों की बिक्री भी 25% घटी

जुलाई-सितंबर के दौरान नए प्रोजेक्ट लॉन्च में आई 45% की गिरावट, प्रॉपटाइगर ने बताया घरों की बिक्री भी 25% घटी

देश में लॉन्च किए गए प्रोजेट की वित्त वर्ष 2019-20 की जुलाई-सितंबर तिमाही में पिछले साल इसी तिमाही के मुकाबले 45 प्रतिशत की गिरावट आई है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: October 17, 2019 13:15 IST
Launches fall 45pc, home sales decline 25pc in July-September quarter - India TV Paisa
Photo:LAUNCHES FALL 45PC, HOME

Launches fall 45pc, home sales decline 25pc in July-September quarter

नई दिल्ली। भारत के प्रमुख रियल्टी बाजारों में चालू वित्‍त वर्ष की दूसरी तिमाही में भी नए प्रोजेक्ट लॉन्च में गिरावट जारी रही, यद्यपि रियल एस्टेट डेवलपर्स ने घरों बिक्री में गिरावट को रोकने की कोशिश की लेकिन उसमें पूरी तरह सफलता हासिल नहीं कर पाए। प्रॉपटाइगर डॉट कॉम द्वारा एक रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है।  

प्रॉपटाइगर डाटा लैब्स द्वारा भारत के नौ प्रमुख रियल्टी बाजारों का एक तिमाही विश्लेषण के बाद जारी रियल इनसाइट रिपोर्ट के मुताबिक देश में लॉन्च किए गए प्रोजेट की वित्त वर्ष 2019-20 की जुलाई-सितंबर तिमाही में पिछले साल इसी तिमाही के मुकाबले 45 प्रतिशत की गिरावट आई है। इसी अवधि (जुलाई-सितम्बर) के दौरान, पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही की तुलना में घर की बिक्री भी 25 प्रतिशत कम हुई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि तिमाही-दर-तिमाही आधार पर भी गिरावट देखी गई। इस दौरान नए लॉन्च में 32 प्रतिशत की गिरावट आई और घरों की बिक्री में 23 प्रतिशत की गिरावट आई।

वित्त वर्ष 2018-19 और वित्त वर्ष 2019-20 की पहली छमाही के बीच संख्याओं की तुलना में भी घर की बिक्री और नए लॉन्च में साफ़ तौर पर गिरावट देखने को मिली है। वित्त वर्ष 2018-19 की पहली छमाही में 170,715 इकाइयों की बिक्री की तुलना में, वित्त वर्ष 2019-20 में केवल 151764 इकाइयां बेची गईं, जिसमें 11 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई। इसी तरह, वित्त वर्ष 2018-19 के पहले छह महीनों में 137,146 नई इकाइयां लॉन्च हुई थी, वहीँ वित्त वर्ष 2019-20 के पहले छह महीनों में भारत के नौ बाजारों में केवल 83,662 इकाइयों को लॉन्च किया गया था, जो की 39 प्रतिशत की गिरावट थी।

एलारा टेक्‍नोलॉजीज के ग्रुप सीईओ ध्रुव अग्रवाल ने कहा कि नए लॉन्चेज की सितंबर तिमाही में गिरावट देखने को मिली क्योंकि सरकार जारी एनएफबीसी मुद्दे के समाधान की दिशा में आगे बढ़ रही है, यह एक ऐसी  समस्या है,जो भारत में रियल एस्टेट डेवलपर्स के लिए वित्त के प्रमुख स्रोत से जुड़ी है। खरीदारों ने आगामी त्योहारी सीजन के कारण अपने प्रॉपर्टी खरीदने के निर्णय को स्थगित कर दिया था, जिससे बिक्री संख्या भी तिमाही के दौरान गिर गई। हालांकि लिक्विडिटी की कमी के कारण नए प्रोजेक्ट लॉन्च की संख्या में आने वाली तिमाहियों में गिरावट जारी रह सकती है। हम उम्मीद करते हैं कि आने वाले फेस्टिव सीजन को ध्यान में रखते हुए, आने वाली तिमाही में घर की बिक्री संख्या में सुधार होगा।  

Write a comment