1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Reliance Industries ने रचा इतिहास, 150 अरब डॉलर मार्केट कैप वाली बनी पहली भारतीय कंपनी

Reliance Industries ने रचा इतिहास, 150 अरब डॉलर मार्केट कैप वाली बनी पहली भारतीय कंपनी

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने जियो प्लेटफॉर्म में लगभग 25 प्रतिशत हिस्सेदारी वैश्विक निवेशकों को बेचकर 1.5 लाख करोड़ रुपए जुटाए हैं।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: June 22, 2020 11:51 IST
Reliance Industries becomes first Indian firm to hit USD 150 bn market cap- India TV Paisa
Photo:GOOGLE

Reliance Industries becomes first Indian firm to hit USD 150 bn market cap

नई दिल्‍ली। रिलायंस इंडस्‍ट्रीज सोमवार को ऐसी पहली भारतीय कंपनी बन गई है, जिसका मार्केट कैप 150 अरब डॉलर के आंकड़े को छू गया है। रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के शेयरों में लगातार आ रही तेजी से मार्केट कैप भी बढ़ रहा है। सोमवार को सुबह के कारोबार में बीएसई पर रिलायंस इंडस्‍ट्रीज का मार्केट कैप 28,248.97 करोड़ रुपए बढ़कर11,43,667 करोड़ रुपए (150 अरब डॉलर) हो गया। बीएसई पर रिलायंस का शेयर शुरुआती कारोबार में 2.53 प्रतिशत उछलकर 1804.10 रुपए के रिकॉर्ड स्‍तर पर पहुंच गया।

एनएसई पर कंपनी का शेयर 2.54 प्रतिशत उछलकर 1804.20 रुपए के स्‍तर पर पहुंच गया। रिलायंस इंडस्‍ट्रीज इससे पहले शुक्रवार को 11 लाख करोड़ रुपए का मार्केट कैप हासिल करने वाली पहली कंपनी बनी थी। चेयरमैन मुकेश अंबानी द्वारा आरआईएल के एक कर्ज मुक्‍त कंपनी बनने की घोषणा के बाद शुक्रवार को कंपनी का शेयर 6 प्रतिशत उछल गया था और इसकी मदद से मार्केट कैप पहली बार 11 लाख करोड़ रुपए से अधिक हो गया था।

अंबानी ने कहा कि दो महीने में जियो प्‍लेटफॉर्म में हिस्‍सेदारी बिक्री और राइट इश्‍यू की मदद से कंपनी ने 1.69 लाख करोड़ रुपए की राशि जुटाई है। रिलायंस इंडस्‍ट्रीज ने जियो प्‍लेटफॉर्म में लगभग 25 प्रतिशत हिस्‍सेदारी वैश्विक निवेशकों को बेचकर 1.5 लाख करोड़ रुपए जुटाए हैं। कंपनी ने राइट इश्‍यू के जरिये 53,124.20 करोड़ रुपए जुटाए हैं। यह अबतक का सबसे बड़ा राइट इश्‍यू था।  

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के ऊपर 31 मार्च, 2020 तक कुल 1,61,035 करोड़ रुपए का कर्ज था। कंपनी ने कहा कि नई पूंजी जुटाने के साथ ही आरआईएल कर्ज मुक्‍त कंपनी बन गई है। कंपनी ने 31 मार्च, 2021 तक कर्ज मुक्‍त बनने का लक्ष्‍य तय किया था, लेकिन अपनी तय समय-सीमा से पहले ही कंपनी ने यह लक्ष्‍य हासिल कर लिया है।

Write a comment