1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. भारत के साथ क्रिकेट खेलने वाले अफ्रीकी देश में 130% बढ़ी महंगाई, लोग अपने पैरों की उंगलियां बेचने पर मजबूर?

भारत के साथ क्रिकेट खेलने वाले अफ्रीकी देश में 130% बढ़ी महंगाई, लोग अपने पैरों की उंगलियां बेचने पर मजबूर?

जिम्बाब्वे की मुद्रास्फीति बढ़कर 130 प्रतिशत से अधिक हो गई है। यूक्रेन-रूस युद्ध की शुरुआत से पहले जिम्बाब्वे की मुद्रास्फीति दर 66 प्रतिशत थी।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: June 10, 2022 19:14 IST
जिम्बाब्वे में 130% तक बढ़ी महंगाई- India TV Hindi News
Photo:GOOGLE

Inflation in zimbamve.

रूस-यूक्रेन युद्ध का असर अब दुनिया में दिखने लगा है। इस युद्ध से कई देशों के आर्थिक हालत बहुत खराब हो चुके हैं। ऐसे ही देशों में शुमार है जिम्बाब्वे जहां भारी महंगाई से जूझ रहे लोगों को अपने परिवारों के लिए दो वक्त की रोटी जुटाना मुश्किल हो गया है। दरअसल आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार जिम्बाब्वे की मुद्रास्फीति बढ़कर 130 प्रतिशत से अधिक हो गई है। यूक्रेन-रूस युद्ध की शुरुआत से पहले जिम्बाब्वे की मुद्रास्फीति दर 66 प्रतिशत थी।

देश में फैला अफवाह कि लोग अपने पैर की उंगलियों को काटकर बेच रहे हैं

देश में फैले अफवाह पर जिम्बाब्वे के सूचना मंत्रालय के उप मंत्री काइंडनेस पारादजा ने जांच करवाया।

Image Source : GOOGLE
count toes fingers

ऐसे हालात में देश में यह अफवाह फैल गई कि महंगाई से परेशान लोग अपने पैर की उंगलियों को बेच रहे हैं। यह अफवाह इतनी फैली कि जिम्बाब्वे के सूचना मंत्रालय के उप मंत्री काइंडनेस पारादजा को इस बात की जांच करानी पड़ी। जांच के बाद ही इस अफवाह को खारिज किया गया। मंत्री ने एक-एक करके व्यापारियों से अपने जूते उतार कर पैर की सभी 10 उंगलियां दिखाने को कहा। इसके बाद सभी उंगलियां सलामत पाए जाने पर पारादजा ने उंगलियां बेचने की कहानी को एक धोखा बताया। जिम्बाब्वे के सरकारी मीडिया ने इस जांच को रिकॉर्ड किया। वहीं पुलिस ने यह अफवाह फैलाने के आरोप में एक रेहड़ी-पटरी वाले को गिरफ्तार किया है।

Latest Business News

Write a comment