1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. इस मंदिर ने 2780 किलो सोना सरकार के पास जमा कराया, लॉन्ग टर्म डिपॉजिट स्कीम में किया निवेश

इस मंदिर ने 2780 किलो सोना सरकार के पास जमा कराया, लॉन्ग टर्म डिपॉजिट स्कीम में किया निवेश

मंदिर ने देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की गोल्ड डिपॉजिट स्कीम के तहत 2780 किलो सोना जमा कराया है

Manoj Kumar Manoj Kumar @kumarman145
Updated on: August 30, 2017 9:08 IST
इस मंदिर ने 2780 किलो सोना सरकार के पास जमा कराया, लॉन्ग टर्म डिपॉजिट स्कीम में किया निवेश- India TV Paisa
इस मंदिर ने 2780 किलो सोना सरकार के पास जमा कराया, लॉन्ग टर्म डिपॉजिट स्कीम में किया निवेश

मुंबई। सरकार की गोल्ड डिपॉजिट स्कीम में देश के सबसे धनी समझे जाने वाले मंदिर ने बहुत बड़ा निवेश किया है। तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम मंदिर ने देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की गोल्ड डिपॉजिट स्कीम के तहत 2780 किलो सोना जमा कराया है। मंदिर की ट्रस्ट ने एक प्रेस रिलीज जारी कर गोल्ड डिपॉजिट स्कीम के तहत SBI में जमा किए गए सोने के बारे में ये जानकारी दी है।

तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम मंदिर ने 12 साल के लिए ये निवेश किया है, मंदिर की ट्रस्ट ने फरवरी में 2,075 किलो सोने को शॉर्ट टर्म डिपॉजिट स्कीम से लॉन्ग टर्म डिपॉजिट स्कीम में तब्दील किया था जबकि 705 किलो सोने को ट्रस्ट ने मई में मुंबई मिंट को सौंपा है इसे भी लॉन्ग टर्म डिपॉजिट स्कीम के तहत निवेश किया गया है। सोने के मौजूदा भाव के मुताबिक तिरुपति की तरफ से डिपॉजिट हुए कुल सोने की कीमत लगभग 834 करोड़ रुपए है। सरकार ने जिस गोल्ड डिपॉजिट स्कीम को शुरू किया है उसके तहत देश के सबसे धनी मंदिर समझे जाने वाले तिरुपती ने बहुत बड़ा निवेश किया है।

सरकार ने देश में सोने की जरूरत के लिए आयात पर निर्भरता कम करने के लिए गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम की शुरुआत की है इसी के तहत गोल्ड डिपॉजिट स्कीम भी शुरू हुई है, इस स्कीम के तहत लंबी अवधि के लिए डिपॉजिट किए गए सोने पर सालाना 2.5 फीसदी का ब्याज दिया जाता है। गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम की शुरुआत 2015 में हुई थी और अबतक इस स्कीम के तहत लगभग 7000-8000 किलो सोने का निवेश हो चुका है। स्कीम का उद्देश्य घरों में पड़े सोने को बाहर निकलवाकर सोने के आयात पर निर्भरता कम करना है।

Write a comment
bigg boss 15