1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. Share Market में लगातार दूसरे कारोबारी सत्र में रही तेजी, Sensex 465 अंक चढ़ा, निफ्टी 17,500 अंक के पार

Share Market में लगातार दूसरे कारोबारी सत्र में रही तेजी, Sensex 465 अंक चढ़ा, निफ्टी 17,500 अंक के पार

Share Market में लगातार दूसरे कारोबारी सत्र में रही तेजी, Sensex 465 अंक चढ़ा, निफ्टी 17,500 अंक के पार stock market green in the second consecutive trading session, Sensex rose 465 points, Nifty crossed 17,500 points

Alok Kumar Edited By: Alok Kumar @alocksone
Updated on: August 08, 2022 17:44 IST
Share Market - India TV Hindi News
Photo:PTI Share Market

Highlights

  • सेंसेक्स 465.14 अंक यानी 0.80 प्रतिशत की बढ़त के साथ 58,853.07 अंक पर बंद हुआ
  • निफ्टी 127.60 अंक यानी 0.73 प्रतिशत की तेजी के साथ 17,525.10 अंक पर बंद हुआ
  • अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 40 पैसे की गिरावट के साथ 79.64 (अस्थायी) पर बंद हुआ

Share Market में सोमवार को लगातार दूसरे कारोबारी सत्र में तेजी रही और बीएसई सेंसेक्स 465 अंक से अधिक चढ़ गया। वैश्विक बाजार में सकारात्मक रुख के साथ एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी लि.तथा रिलायंस इंडस्ट्रीज में तेजी के साथ बाजार में मजबूती आई। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 465.14 अंक यानी 0.80 प्रतिशत की बढ़त के साथ 58,853.07 अंक पर बंद हुआ। दिन में कारोबार के दौरान यह 546.97 अंक तक चढ़ गया था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 127.60 अंक यानी 0.73 प्रतिशत की तेजी के साथ 17,525.10 अंक पर बंद हुआ।

महिंद्रा को सर्वाधिक लाभ

सेंसेक्स के शेयरों में महिंद्रा एंड महिंद्रा को सर्वाधिक लाभ रहा। कंपनी के शेयर में 3.13 प्रतिशत की तेजी आई। इसके अलावा बजाज फिनसर्व, एनटीपीसी, एक्सिस बैंक, एचडीएफसी बैंक, लार्सन एंड टुब्रो, एचडीएफसी, डॉ. रेड्डीज, इंडसइंड बैंक और रिलायंस इंडस्ट्रीज में भी प्रमुख रूप से तेजी रही। दूसरी तरफ, नुकसान में रहने वाले शेयरों में भारतीय स्टेट बैंक, अल्ट्राटेक सीमेंट, नेस्ले, विप्रो और पावरग्रिड शामिल हैं। एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, चीन का शंघाई कंपोजिट और जापान का निक्की लाभ में रहे जबकि हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान में रहा। यूरोप के प्रमुख बाजारों में दोपहर के कारोबार में तेजी का रुख रहा। अमेरिकी बाजार शुक्रवार को नुकसान में थे।

कच्चा तेल लुढ़का

इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.68 प्रतिशत की गिरावट के साथ 94.32 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार में शुद्ध लिवाल रहे। उन्होंने शुक्रवार को 1,605.81 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘मुख्य रूप से विदेशी संस्थागत निवेशकों की सतत लिवाली और तेल के दाम में नरमी से बाजार में तेजी रही। आज की बढ़त में प्रमुख कंपनियों के शेयरों का उल्लेखनीय योगदान रहा। सार्वजनिक क्षेत्र के एक बैंक का वित्तीय नतीजा उम्मीदों के अनुरूप नहीं रहा है। इससे बैंक शेयर दबाव में रहे।’’

रुपया 40 पैसे की गिरावट के साथ बंद

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में सोमवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 40 पैसे की गिरावट के साथ 79.64 (अस्थायी) पर बंद हुआ। निवेशकों की जोखिम उठाने की धारणा कमजोर होने के बीच रुपया नीचे आया। बाजार सूत्रों ने कहा कि कच्चे तेल की वैश्विक कीमतों में कमी आने तथा घरेलू शेयर बाजार में तेजी के साथ रुपये की विनिमय दर में गिरावट पर कुछ अंकुश लगा। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 79.50 के स्तर पर कमजोर खुला। कारोबार के दौरान 79.45 से 79.65 रुपये के दायरे में रहने के बाद अंत में 40 पैसे टूटकर 79.64 प्रति डॉलर पर बंद हुआ। रुपया शुक्रवार को 79.24 प्रति डॉलर पर बंद हुआ था।

Latest Business News

Write a comment
navratri-2022